Monday, Dec 16 2019 | Time 00:33 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • जामिया में पुलिस कार्रवाई की होनी चाहिए जांच : कांग्रेस
राज्य » अन्य राज्य


अमस में बाढ़ से मृतकों की संख्या बढ़कर 62 हुयी

गुवाहाटी 20 जुलाई (वार्ता) असम में बाढ़ के कारण पिछले 24 घंटों में 12 और लोगों की मौत हो जाने के बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 62 हाे गयी।
इस बीच असम के राज्यपाल जगदीश मुखी ने शनिवार को राज्य के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वे किया।
आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक मोरीगांव जिले में शुक्रवार को पांच और बारपेटा में तीन तथा भूस्खलन में दो लोगों की मौत होने की रिपोर्ट मिलने के बाद यह आंकड़ा बढ़कर 62 हो गया हैं। बाढ़ प्रभावित सभी 24 जिलों में कुछ सुधार हुआ है।
राज्यपाल ने आज कामरूप, गोलपारा, दक्षिण सलमारा और धुबरी जिले का हवाई सर्वे किया। हवाई सर्वे के दौरान राज्यपाल के साथ लोअर असम डिवीजन आयुक्त सहित अपर सचिव, राजस्व और जिलाधिकारी विभाग कई वरिष्ठ अधिकारी उनके साथ थे। उन्होंने गौरीपुर और धुबरी में तीन राहत शिविरों में रह रहे लोगों से मुलाकात की और जिला अधिकारी को बाढ़ से प्रभावित लोगों को हर संभव सहायता प्रदान कराने के निर्देश दिये।
बाढ़ से राज्य के 44 लाख से अधिक लोग प्रभावित हुये है और एक लाख 31 हजार लोगों को 689 राहत शिविरों में ठहराया गया है। नेमाटीघाट (जोरहाट), गोलपारा और धुबरी, नुमालीगढ़ (गोलाघाट) में धनसिरी (एस) और कोपिली धरमटुल (नागांव) में राज्य की ब्रह्मपुत्र सहित प्रमुख नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही है।
राम टंडन
(वार्ता)
More News
कोलकाता में एंबूलेंसों के लिए बनेगा ग्रीन कॉरिडोर

कोलकाता में एंबूलेंसों के लिए बनेगा ग्रीन कॉरिडोर

15 Dec 2019 | 7:33 PM

कोलकाता, 15 दिसंबर (वार्ता) पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में एंबुलेंस की निर्बाध आवाजाही सुनिश्चित किए जाने के उद्देश्य से ग्रीन कॉरिडोर बनाया जायेगा।

see more..
त्रिवेन्द्र ने जयहरीखाल इंटर कॉलेज के जीर्णोद्धार कार्यों का किया निरीक्षण

त्रिवेन्द्र ने जयहरीखाल इंटर कॉलेज के जीर्णोद्धार कार्यों का किया निरीक्षण

15 Dec 2019 | 9:25 PM

पौड़ी/देहरादून, 15 दिसंबर (वार्ता) मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने रविवार को राजकीय इण्टर काॅलेज जयहरीखाल के जीर्णोद्धार एवं नवीनीकरण कार्यों का शिलान्यास तथा निरीक्षण करने के बाद कहा कि जयहरीखाल में बन रहा यह आवासीय विद्यालय एक अलग तरह का विद्यालय होगा।

see more..
image