Monday, Aug 19 2019 | Time 11:12 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • तमिलनाडु सरकार मृतकों के परिवारों को देगी को दो-दो लाख रुपये
  • दिल्ली में मंडराया बाढ़ का खतरा, यमुना नदी का जलस्तर खतरे के निशान के पार
  • पुलिस मुठभेड़ में दो कुख्यात बदमाश ढेर
  • काबुल में आत्मघाती हमले की अमेरिका ने की निंदा
  • एंटोनियो गुटेरस से मिलेंगे माइक पोम्पियो
  • रामगढ़ के चुट्टुपालु घाटी मे ट्रक पलटा , दो की मौत
  • पश्चिमी प्रशांत महासागर में भूकंप के झटके
  • युगांडा में तेल टैंकर में आग लगने से 20 की मौत, कई घायल
  • हांगकांग में हिंसा का असर अमेरिका-चीन व्यापारिक समझौते पर: ट्रम्प
  • इलाहाबाद में युवक समेत तीन लोगों की गोली मारकर हत्या
  • सीरियाई सेना ने इदलिब के प्रमुख शहर पर किया कब्जा
  • युगांडा में ईंधन से भरे ट्रक में विस्फोट, 10 लोगों की मौत
  • अमेरिकी अर्थव्यवस्था में नहीं आएगी मंदी: कुडलो
  • मोदी 23 अगस्त से यूएई और बहरीन दौरे पर
  • जेटली की हालत बेहद चिंताजनक
दुनिया


अमेरिका ने म्यांमार के शीर्ष सैन्य अधिकारी पर लगाया प्रतिबंध

वाशिंगटन 17 जुलाई (वार्ता) अमेरिका ने मानवाधिकार के उल्लंघन का आरोप लगाते हुए म्यांमार सेना के कमांडर इन-चीफ ए हलींग और तीन शीर्ष अधिकारियों पर प्रतिबंध लगा दिया है। म्यांमार सरकार और सेना ने अमेरिका के इस कदम की कड़ी निंदा की है।
बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार शीर्ष सैन्य अधिकारी और उनके परिजनों की अमेरिकी यात्रा पर पाबंदी लगा दी गयी है।
अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने कहा है कि इसका पूरा सबूत है कि 2017 में रोहिंग्या मुस्लिमों के खिलाफ हिंसा में प्रतिबंधित किये गये म्यांमार के सैन्य अधिकारियों की संलिप्तता थी और इन अधिकारियों की उनके विरुद्ध क्रूरता जारी रही।
श्री पोम्पियो ने कहा कि वर्ष 2017 में इन दिल गांव में फर्जी मुठभेड़ में लोगों की हत्या के दोषी सेना के जवानों को रिहा करने के आदेश देने के कारण कमांडर इन-चीफ पर प्रतिबंध लगाया गया है। उन्होंने कहा कि दोषी जवानों को बहुत ही कम समय के लिए जेल में रखा गया था जबकि नरसंहार की जांच करने वाले समाचार एजेंसी रायटर के पत्रकार वा लोन और केएसओए को 16 माह से अधिक समय तक जेल में कैद करके रखा गया था। पत्रकारों पर गुप्त सरकारी दस्तावेज प्राप्त करने का आरोप था।
म्यांमार सरकार और सेना ने अमेरिकी प्रतिबंधों की कड़ी निंदा की है। ब्रिगेडियर जनरल जेड मिन ने एक समाचार एजेंसी से कहा कि सेना की वर्ष 2017 हिंसा की जांच जारी है।
उल्लेखनीय है कि 2017 में हिंसक घटनाओं के कारण सात लाख रोहिंग्या मुसलमानों ने देश से पलायन किया था।
आशा.श्रवण
वार्ता
More News
काबुल में आत्मघाती हमले की अमेरिका ने की निंदा

काबुल में आत्मघाती हमले की अमेरिका ने की निंदा

19 Aug 2019 | 10:28 AM

वाशिंगटन 19 अगस्त (स्पूतनिक) अमेरिका ने अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में एक ‘वेडिंग हॉल’ में हुए आत्मघाती हमले की निंदा की है।

see more..
पश्चिमी प्रशांत महासागर में भूकंप के झटके

पश्चिमी प्रशांत महासागर में भूकंप के झटके

19 Aug 2019 | 9:57 AM

मॉस्को 19 अगस्त (स्पूतनिक) प्रशांत महासागर में उत्तरी मरियना द्वीप में रविवार की शाम भूकंप के झटके महसूस किये गये।

see more..
युगांडा में तेल टैंकर में आग लगने से 20 की मौत, कई घायल

युगांडा में तेल टैंकर में आग लगने से 20 की मौत, कई घायल

19 Aug 2019 | 9:27 AM

कंपाला 19 अगस्त (वार्ता) युगांडा के पश्चिमी क्षेत्र में एक तेल टैंकर में आग लगने के कारण कम से कम 20 लोगों की मौत हो गयी तथा कई अन्य लोग घायल हुए हैं। स्थानीय मीडिया ने सोमवार को यह जानकारी दी।

see more..
हांगकांग में हिंसा का असर अमेरिका-चीन व्यापारिक समझौते पर: ट्रम्प

हांगकांग में हिंसा का असर अमेरिका-चीन व्यापारिक समझौते पर: ट्रम्प

19 Aug 2019 | 8:46 AM

वाशिंगटन 19 अगस्त (स्पूतनिक) अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा है कि यदि चीन हांगकांग में प्रदर्शनकारियों के खिलाफ हिंसा का इस्तेमाल करता है तो उसका प्रभाव अमेरिका-चीन व्यापारिक समझौते पर पड़ सकता है।

see more..
सीरियाई सेना ने इदलिब के प्रमुख शहर पर किया कब्जा

सीरियाई सेना ने इदलिब के प्रमुख शहर पर किया कब्जा

19 Aug 2019 | 8:04 AM

काहिरा 19 अगस्त (स्पूतनिक) सीरियाई सशस्त्र बलों ने उत्तर-पश्चिमी इदलिब प्रांत के खान शेखौन शहर में प्रवेश कर उसे अपने कब्जे में ले लिया है।

see more..
image