Tuesday, Jan 28 2020 | Time 15:20 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • इतिहास बनाने उतरेगी टीम इंडिया
  • वी उमाशंकर को मिला अतिरिक्त प्रभार
  • हरियाणा मंत्रिमंडल की बैठक 31 जनवरी को दिल्ली में
  • सुख-दुख के साथी थे अब्दुल गफूर : लालू
  • भदोही में कालीन कंपनी में महिला बुनकर के साथ गैंगरेप
  • बर्बादी की कगार पर पहुंचे देश को युवा राह दिखा सकता है - गांधी
  • दिल्ली में शिक्षा के क्षेत्र में आयी क्रांति:केजरीवाल
  • सुस्ती के बीच बजट से राहत की बड़ी उम्मीद
  • हमारे पास कोरोना वायरस से निपटने के सभी संसाधन मौजूद: चीन
  • खनन कर्मियों की सुरक्षा शीर्ष प्राथमिकता: गंगवार
  • गंगा यात्रा से सांस्कृतिक,आध्यात्मिक केंद्रों का होगा जीर्णोद्धार : दिनेश शर्मा
  • मुख्यमंत्री पद जाने के बाद से अवसाद में हैं अखिलेश: मौर्य
  • राजकोट-कोयम्बटूर एक्सप्रेस दो फरवरी को रद्द रहेगी
राज्य » बिहार / झारखण्ड


आयुष्मान कार्ड बनाने में औरंगाबाद अव्वल

औरंगाबाद 16 दिसंबर (वार्ता) गरीबों को पांच लाख रुपये तक की मुफ्त स्वास्थ्य बीमा उपलब्ध कराने के लिए शुरू की गई आयुष्मान भारत योजना के तहत आयुष्मान कार्ड बनाने में बिहार के औरंगाबाद जिले का स्थान मगध प्रमंडल में अव्वल है।
औरंगाबाद में इस वर्ष अप्रैल से नवंबर तक की अवधि के दौरान लगभग 1.14 लाख आयुष्मान कार्ड बनाये गये हैं। इस दौरान मगध प्रमंडल के पांच जिलों के ओपीडी में लगभग 50 लाख लोगों का इलाज किया गया है। इसी तरह प्रमडल के पांच जिलों के आयुष ओपीडी में लगभग 9195 लाख मरीज देखे गये। वहीं, पांचों जिलों में कुल संस्थागत प्रसव की संख्या 96979 है।
औरंगाबाद जिले में लगभग 1.14 लाख आयुष्मान कार्ड बनाये गये हैं जबकि गया जिले में 98534 लोगों के आयुष्मान कार्ड बने हैं। वहीं, नवादा में 86234, अरवल में 37211 और जहानाबाद में 28966 आयुष्मान कार्ड बनाये गये हैं। इस अवधि में गया जिले के सरकारी अस्पतालों में 35427 संस्थागत प्रसव कराये गये जबकि औरंगाबाद जिले के सरकारी अस्पतालों में 22754 संस्थागत प्रसव हुए।
वहीं, नवादा जिला तीसरे स्थान पर है, जहां इस अवधि के दौरान सरकारी अथवा स्वास्थ्य केंद्रों पर 22562 संस्थागत प्रसव कराए गए। जहानाबाद में 8976 और अरवल में 6860 संस्थागत प्रसव हुए।
सं सूरज
जारी (वार्ता)
image