Monday, Mar 8 2021 | Time 17:16 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • राजकोट में कबाड़ गोदाम में लगी भीषण आग काबू
  • नागपुर में विक्को लैबोरेटरीज में आग लगी
  • उठापटक के बाद शेयर बाजार सपाट
  • अमित शाह ने भैंसा घटना की जानकारी की हासिल
  • आजादी के पर्व में सनातन और आधुनिक भारत दोनों की झलक दिखे: मोदी
  • तीन मिशन में सिमटी महिला एवं बाल कल्याण योजनायें
  • फेबियन ऐलन की विस्फोटक पारी से वेस्ट इंडीज ने जीती श्रृंखला
  • जरूरत पड़ी तो पूरे आईपीएल में बने रहेंगे इंग्लैंड के खिलाड़ी : सिल्वरवुड
  • निशंक ने सीबीएसई के कॉमिक्स का किया विमोचन
  • लोकसभा ने दिवंगत सदस्यों को दी श्रद्धांजलि
  • महिला विधायकों ने संसद और विधानमंडल में महिलाओं के लिए आरक्षण की मांग की
  • शिक्षा से ही महिलाओं का सशक्तीकरण संभव : डॉ निशंक
  • अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर 225 बूथों पर केवल महिलाओं का वैक्सीनेशन
  • कश्मीर में 12वीं की बोर्ड परीक्षा परिणाम में छात्राएं शीर्ष स्थान पर
राज्य » अन्य राज्य


आशा कार्यकत्रियों की प्रोत्साहन राशि के लिए 2.71 करोड़ जारी करने को हरी झंडी

देहरादून, 24 जनवरी(वार्ता) उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने रविवार को प्रदेश में कार्यरत 565 नई आशा कार्यकत्रियों को वर्ष 2019-20 और 2020-21 की प्रोत्साहन राशि 2.71 करोड़ जारी करने को हरी झंडी दे दी है। इसके साथ ही वर्ष 20-21 में जिलों में 367 नयी आशा कार्यकत्रियों की नियुक्ति के लिए चयन की भी सहमति दी है।
चिकित्सा, स्वास्थ्य व चिकित्सा शिक्षा विभाग की ओर से मुख्यमंत्री को प्रदेश में कार्यरत 565 नयी आशा कार्यकर्ताओं को प्रोत्साहन राशि दिए जाने के लिए प्रशासनिक स्वीकृति किए जाने का प्रस्ताव उपलब्ध कराया था। कार्मिक विभाग ने भारत सरकार के दिशानिर्देश के अनुसार आशा कार्यकत्रियों के चयन किए जाने का परामर्श इस शर्त के साथ प्रदान किया जाना प्रस्तावित किया कि इसमें पहले वित्त विभाग की सहमति ली जाए।
मुख्यमंत्री ने बतौर वित्त मंत्री इस प्रस्ताव पर सहमति दी है। साथ ही वर्ष 20-21 में 367 नयी आशा कार्यकत्रियों की नियुक्ति के लिए चयन प्रक्रिया को भी हरी झंडी दे दी है। इन आशा कार्यकत्रियों की नियुक्ति होने पर 88 लाख 8 हजार प्रतिवर्ष वित्तीय भार पड़ेगा।
मुख्यमंत्री की घोषणा के अनुपालन में जिला उत्तरकाशी के तहत प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र (टाइप –ए) जखोल के प्रथम चरण के निर्माण कार्य के लिए 11.16 लाख तथा चमोली जिले के तहत प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र (टाईप-ए) नंदप्रयाग के भवन निर्माण के लिए प्रथम चरण के निर्माण कार्यों के लिए 13.17 लाख की राशि जारी करने पर मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने सहमति दी है।
मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र ने सीएम घोषणा के अनुपालन में चमोली जिले के अंतर्गत उपजिला चिकित्सालय, गैरसैंण में 20 अतिरिक्त बेड के निर्माण के लिए 36.93 लाख की अवमुक्त करने की स्वीकृति दी है। इसके लिए ग्रामीण निर्माण विभाग को कार्यदायी संस्था बनाया गया है।
मुख्यमंत्री ने चंपावत जनपद के अंतर्गत 13 डिस्ट्रिक्ट 13 न्यू डेस्टिनेशन योजना में सिलिंगटाक में स्थित टी टूरिज्म हट की मरम्मत व्यू प्वाइंट, कैफेटेरिया, टिकिट हाउस तथा फैंसिंग कार्य के ले 105.50 लाख (1 करोड़ 5 लाख 50 हजार) की स्वीकृति दी है। यह राशि तीन चरणों में 40-40-20 प्रतिशत के आधार पर जारी की जाएगी। चालू वित्तीय वर्ष में इसके लिए 42.50 लाख की राशि अवमुक्त किए जाने पर मुख्यमंत्री ने हरी झंडी दी है।
चालू वित्तीय वर्ष में राज्य सैक्टर योजना में कार्बेट और राजाजी टाईगर रिजर्व पार्कों का संरक्षण और विकास करने के लिए मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने 6 करोड़ की धनराशि आवंटित करने पर मोहर लगा दी है। इस योजना पर दोनों रिजर्व पार्कों में काम भी शुरू हो गया है।
श्री त्रिवेंद्र ने राज्य सेक्टर पोषित नहर निर्माण मद के अंतर्गत जिला नैनीताल के विकासखंड कोटाबाग में 5.296 किलोमीटर लंबी धमोला नहर व हेड के जीर्णोंद्धार की योजना के लिए 107.92 लाख की स्वीकृति के साथ चालू वित्तीय वर्ष में पहली किश्त के रूप में 43.16 लाख की राशि अवमुक्त करने पर सहमति दी है। सिंचाई और बाढ़ नियंत्रण विभाग की ओर से इसका प्रस्ताव भेजा गया है।
सं, शोभित
वार्ता
image