Monday, Aug 3 2020 | Time 19:56 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • सोनीपत में पांच किलो अफीम और 35 किलो चरस समेत तस्कर पकड़ा
  • लाकडाउन उल्लंघन पर डेढ करोड से अधिक जूर्माना वसूला
  • सोनीपत के बरोदा में महिला महाविद्यालय खोलने की घोषणा की
  • कोंकण और गोवा में कहीं कहीं अतिवृष्टि का अनुमान
  • वैश्विक क्रिकेट लीग में भुगतान की समस्या से जूझ रहे हैं खिलाड़ी
  • लखीमपुर खीरी में 27 नये कोरोना पॉजिटिव मिले,संख्या हुई 543
  • चंदौली में चार तस्कर गिरफ्तार, 80 लाख की हेरोइन बरामद
  • रंगीराम को राखी बांधने बर्खास्त अध्यापक पहुंची जेल
  • बिलासपुर रेल मंडल में 12 हजार अश्वशक्ति क्षमता वाले इंजन से मालगाड़ियों का परिचालन
  • अमरोहा पुलिस मुठभेड़ में इनामी गैंगेस्टर गिरफ्तार
  • राम मंदिर भूमि पूजन में सरकारी भागीदारी संविधान का उल्लंघन: माकपा
  • राजस्थान से फतेहाबाद आ रहे तीन युवकों की पलटी कार, एक की मौत
  • कोरोना संक्रमण के रिकार्ड मामलों पर राहुल का तंज
  • दिल्ली में कोरोना के नये मामले सोमवार को एक हजार से कम
  • बस्ती में 24 नए कोरोना पॉजिटिव मिले, संख्या 961 पहुंची
दुनिया


उत्तर कोरिया उपग्रह प्रक्षेपण, अमेरिका चौकन्ना

उत्तर कोरिया उपग्रह प्रक्षेपण, अमेरिका चौकन्ना

वाशिंगटन 15 दिसंबर (स्पूतनिक) अमेरिका उत्तर कोरिया की ओर से 15 दिनों के अंदर सोहे उपग्रह प्रक्षेपण स्थल से किये गये दो महत्वपूर्ण परीक्षणों के संदर्भ में जापान और दक्षिण कोरिया से गहन विचार विमर्श कर रहा है।

विदेश विभाग के प्रवक्ता ने शनिवार को एक बयान जारी करके यह जानकारी दी। प्रवक्ता ने कहा,“हमें उत्तर कोरिया की ओर से किये गये परीक्षणों के संबंध में रिपोर्ट्स मिली हैं और हम अपने सहयोगी देशों, जापान तथा दक्षिण कोरिया के साथ इस मुद्दे को लेकर गंभीर वार्ता कर रहे हैं।”

उत्तर कोरिया की न्‍यूज एजेंसी केसीएनए ने देश की राष्‍ट्रीय रक्षा विज्ञान अकादमी के प्रवक्‍ता के हवाले से बताया था कि यह परीक्षण 13 दिसंबर को रात 10 बजकर 41 से 10 बजकर 48 मिनट के बीच किया गया। देश की सामरिक परमाणु निवारक क्षमता को बढ़ाने के लिए ये परीक्षण बेहद अहम हैं।

इस बीच केसीएनए ने कहा,“ हाल के महत्वपूर्ण परीक्षणों से प्राप्त महत्वपूण डाटा को देश के सामरिक हथियारों को विकसित करने में उपयोग किया जायेगा । खुदा न खास्ता अमेरिका के साथ घनघोर आमना-सामना हो गया तो ये हथियार उसे परास्त करने में काम आयेंगे।”

केसीएनए की ओर से हालांकि यह नहीं बताया गया कि परीक्षण किस प्रकार के थे। उत्तर कोरिया सात दिसंबर को भी एक बहुत महत्‍वपूर्ण परीक्षण किया था। यह परीक्षण भी सोहे उपग्रह प्रक्षेपण स्थल से किया गया था। अमेरिकी अधिकारियों के मुताबिक, उत्‍तर कोरिया ने इस तरह के परमाणु परीक्षणों को बंद करने का वादा किया था।

आशा.संजय

जारी.स्पूतिनक

image