Thursday, Aug 22 2019 | Time 19:43 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • आनंदीबेन ने दी देश एवं प्रदेशवासियों को श्रीकृष्णा जन्माष्टमी की बधाई
  • राज्य फॉरेन्सिक विज्ञान प्रयोगशाला बनाने पर जोर दें: शाह
  • शाहजहांपुर में ट्रैक्टर ने टेम्पो को टक्कर मारी,महिला श्रद्धालु की मृत्यु 12 घायल
  • फिल्लौर में 165 फुट लम्बे कटाव को बंद किया गया
  • पेट्रोल पंप लूटने पर दो को दस-दस साल की सजा
  • महिलाओं के सशक्त होने से देश बढ़ेगा आगे : द्रौपदी
  • नीतीश ने लोगों को जन्माष्टमी दी बधाई
  • हरियाणा में दो एचसीएस अधिकरियों के तबादले
  • पी चिदंबरम को पांच दिन की सीबीआई हिरासत
  • ला पेगासस पोलो ने अर्जेंटीना पोलो के साथ फिर किया करार
  • ला पेगासस पोलो ने अर्जेंटीना पोलो के साथ फिर किया करार
  • पच्चीस उर्दू साहित्यकार लगभग 22 लाख रूपये की पुरस्कार राशि से सम्मानित
  • समग्र जल प्रबंधन सूचकांक रिपोर्ट कल होगी जारी
  • प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना: झांसी में लक्ष्य के सापेक्ष 701 का पंजीकरण
दुनिया


उत्तर कोरिया की चेतावनी से बेखर अमेरिका-दक्षिण कोरिया करेंगे संयुक्त युद्धाभ्यास

टोक्यो 18 जुलाई (स्पूतनिक) परमाणु अप्रसार वार्ता में खलल पड़ने की उत्तर कोरिया की चेतावनी के बावजूद अमेरिका और दक्षिण कोरिया अगस्त में होेने वाले संयुक्त युद्धाभ्यास की जोरदार तैयारियों में जुटे हैं।
दक्षिण कोरिया के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता चोई ह्यून सू ने गुरुवार को यह खबर दी।
समाचार एजेंसी योंहप ने श्री चोई के हवाले से कहा, “युद्धाभ्यास की तैयारियां की जा रही हैं।”
उत्तर कोरिया के विदेश मंत्रालय ने मंगलवार को चेताया था कि अगर अमेरिकी और दक्षिण कोरियाई सेना के जवान ‘19-2 डोंग मेंग’ संयुक्त युद्धाभ्यास करते हैं तो अमेरिका के साथ परमाणु कार्यक्रमों पर विराम लगाने समेत इससे संबंधित कई मुद्दों पर होने वाली बातचीत पर गहरा असर पड़ सकता है।
मंत्रालय ने कहा,“उत्तर कोरिया की नजर अमेरिका के अगले कदम पर है जिसके आधार पर यह तय किया जायेगा कि उसके साथ बातचीत की जाये अथवा नहीं।”
दक्षिण कोरिया और अमेरिका के बीच 11 अगस्त से 20 अगस्त तक संयुक्त युद्धाभ्यास किया जायेगा। उत्तर कोरिया ने कहा है कि संयुक्त युद्धाभ्यास की आड़ में हमले की तैयारी है।
उल्लेखनीय है कि श्री डोनाल्ड ट्रम्प जापान के ओसाका में जी-20 शिखर सम्मेलन के बाद दक्षिण कोरिया की यात्रा पर गये थे। उन्होंने कोरियाई देशों के असैन्य क्षेत्र के एक गांव में उत्तर कोरिया के शीर्ष नेता किम जाेंग उन से 30 जून को अप्रत्याशित रुप से मुलाकात की थी। इस मुलाकात के बाद श्री ट्रम्प ने पत्रकरों से कहा था कि दोनों देश परमाणु अप्रसार मसले पर बाचतीत के लिए सहमत हो गये हैं।
इसके पहले दोनों देशों में परमाणु अप्रसार पर दो बार बातचीत हो चुकी है। पिछले साल श्री ट्रम्प और उत्तर कोरियाई नेता की सिंगापुर में शिखर बैठक हुयी थी। विशेषज्ञों की नजर में यह दो ध्रुवों के मिलने जैसा था। दोनों देशों के बीच लंबे समय से तनातनी चल रही थी। कभी श्री किम जोंग कहते कि अमेरिका उनकी मिसाइल की जद में है तो कभी श्री ट्रंप ने कहा कि उनके पास उत्तर कोरिया से बड़ा और शक्तिशाली बम है।
इस वर्ष फरवरी में वियतनाम के हनोई में दोनों नेताओं के बीच हुयी शिखर वार्ता बेनतीजा रही थी और दोनों नेताओं के बीच इस बार की मुलाकात को तीसरी शिखर वार्ता की तैयारी के रुप में देखा जा रहा था। युद्धाभ्यास की खबर से दोनों देशों के बीच कड़वाहट आने की आशंका है।
आशा, उप्रेती
स्पूतनिक
More News
जयशंकर ने की नेपाल की राष्ट्रपति से मुलाकात

जयशंकर ने की नेपाल की राष्ट्रपति से मुलाकात

22 Aug 2019 | 3:08 PM

काठमांडू, 22 अगस्त (वार्ता) विदेश मंत्री डा. एस जयशंकर ने गुरुवार को यहां शीतल निवास में नेपाल की राष्ट्रपति विद्या देवी भंडारी से शिष्टाचार भेंट की।

see more..
image