Monday, Sep 21 2020 | Time 13:52 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • संरा के 75वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में उच्च स्तरीय बैठक
  • जोकोविच और श्वार्ट्जमैन में होगा खिताबी मुकाबला
  • प्रधानमंत्री ने बिहार को दी 14260 करोड़ के एनएच और सेतु की सौगात
  • दरभंगा से आठ नवंबर से शुरू होगी उड़ान
  • ‘आतंक, अपराध और अवैध बम बनाने’ का पहले से ही सुरक्षित ठिकाना है बंगाल : धनखड़
  • पीएमटी घोटाले मामले में निजी चिकित्सा महाविद्यालयों के संचालक आरोपी
  • बारूद गोदाम में विस्फोट, दो प्रवासी श्रमिकों की मौत
  • कश्मीर में आरओपी पर आतंकी हमला
  • राजनीतिक उथल पुथल के बीच विप्लव देव दिल्ली रवाना
  • आईएईए का साेमवार से 64वां वार्षिक आम सम्मेलन
  • 'शक्ति : द पावर' में श्रीदेवी के साथ काम करना सम्मान की बात : करिश्मा
  • 'शक्ति : द पावर' में श्रीदेवी के साथ काम करना सम्मान की बात : करिश्मा
  • ईद पर रिलीज होगी जॉन की 'सत्यमेव जयते 2'
  • ईद पर रिलीज होगी जॉन की 'सत्यमेव जयते 2'
  • विक्रांत-यामी की फिल्म 'गिन्नी वेड्स सनी' का पहला गाना 'लोल' रिलीज़
राज्य » अन्य राज्य


एनआरसी से मुस्लिमों ही नहीं, बहुसंख्यक भी होंगे प्रभावित: कर्नाटक कांग्रेस

एनआरसी से मुस्लिमों ही नहीं, बहुसंख्यक भी होंगे प्रभावित: कर्नाटक कांग्रेस

विजयवाड़ा, 07 दिसंबर (वार्ता) कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस समिति (केपीसीसी) ने समाज के सभी वर्गों के लोगों से राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) के विरोध में सामने आने का आग्रह करते हुए शनिवार को कहा कि इसके लागू होने पर केवल मुसलमानों को ही नहीं बल्कि देशभर के बहुसंख्यक समाज के लोगों को भी परेशानियों का सामना करना पड़ेगा।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता एस एम पाटिल गनिहार ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा,“कुछ लोगों ने गलत अनुमान लगाया है कि एनआरसी में केवल देश के मुस्लिम समाज को लक्ष्य किया गया है। सच्चाई यह है कि इससे देश के सभी नागरिक प्रभावित होंगे। एनआरसी असम में लागू हुआ है जिसमें 19 लाख लोगों को इसकी सूची से बाहर कर दिया गया है जिनमें 13 लाख से अधिक गैर मुस्लिम हैं।

गैर मुस्लिम लोगों को इस मुगालते में नहीं रहना चाहिए कि एनआरसी से उन्हें किसी तरह की समस्या नहीं होगी।”

उन्होंने कहा,“तेजी से बढ़ती बेरोजगारी, सकल घरेलू उत्पाद में कमी और आर्थिक मंदी जैसी बड़ी समस्याएं देश के सामने मुंह बाये खड़ी हैं लेकिन केन्द्र की भारतीय जनता पार्टी नीत सरकार इन समस्याओं से लोगाें का ध्यान भटकाने की कोशिश कर रही है। पहले इन समस्याओं का समाधान निकालने की बजाय केन्द्र एनआरसी के मुद्दे पर को खड़ा कर रही है जिससे किसी भी नागरिक को कोई फायदा होने वाला नहीं है।”

उन्होंने केन्द्र सरकार से मांग की कि पहले वह यह बताये की एनआरसी को कैसे लागू करने की योजना बना रही है जबकि लोगों में इसको लेकर कई भ्रम हैं। प्रवक्ता ने कहा कि केन्द्र सरकार लोगों के मन में डर का माहौल पैदा कर रही है।

आशा, शोभित

वार्ता

More News
विपक्षी सांसदों का निलंबन सरकार की तानाशाही मानसिकता: ममता

विपक्षी सांसदों का निलंबन सरकार की तानाशाही मानसिकता: ममता

21 Sep 2020 | 12:42 PM

कोलकाता, 21 सितंबर (वार्ता) तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो एवं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कृषि संबंधी विधेयकों को पारित कराने के दौरान हंगामा करने वाले विपक्ष के आठ सांसदों को शेष सत्र के लिये निलंबित किये जाने को सरकार की तानाशाही मानसिकता का परिचायक बताते हुए सोमवार को इस लड़ाई को सड़क से संसद तक लड़ने का ऐलान किया।

see more..
image