Thursday, Nov 15 2018 | Time 20:08 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • एम्बुलेंस और कार की टक्कर में एक महिला की मौत
  • महिलाओं को दुपहिया वाहन चलाने और तकनीकी प्रशिक्षण को लेकर समझौता
  • स्पेश्यलिटी केमिकल्स कंपनी लैंक्सेस का भारत में 1250 करोड़ रुपये के निवेश की योजना
  • स्पेश्यलिटी केमिकल्स कंपनी लैंक्सेस का भारत में 1250 करोड़ रुपये के निवेश की योजना
  • लालकुआं में पति ने सरेबाजार पत्नी को चाकू मारा, फरार
  • जदयू की विधायक मंजू वर्मा पार्टी से निलंबित
  • सऊदी अरब ने पत्रकार हत्या मामले में शहजादे को दी क्लीन चिट
  • अक्टूबर में निर्यात करीब 18 फीसदी बढ़ा
  • हुड्डा की मुश्किलें बढ़ीं, नेशनल हेराल्ड मामले में चलेगा मुकदमा
  • अफगानिस्तान ने पाकिस्तान को सौंपा पुलिस अधिकारी डावर का शव
  • राफेल पर फ्रांस ने नहीं दी गारंटी : राहुल
  • दक्षिण भारतीय एथलीटों का वर्चस्व कायम, जीते 23 पदक
  • बीडीओ की अनिश्चितकालीन हड़ताल 26 नवंबर से
  • रेरा में 33,750 परियोजनाओं और 26,018 एजेंटों का पंजीकरण
  • बेबी रानी मौर्य ने सद्भावना यात्रा पर आये बच्चों से मुलाकात की
मनोरंजन Share

एस.मोहिन्दर ने ठुकरा दिया था मधुबाला का विवाह प्रस्ताव

एस.मोहिन्दर ने ठुकरा दिया था मधुबाला का विवाह प्रस्ताव

..जन्मदिवस 08 सितम्बर के अवसर पर ..

मुंबई 07 सितंबर(वार्ता) बीते जमाने के मशहूर संगीतकार एस.मोहिन्दर को एक बार बेपनाह हुस्न की मल्लिका मधुबाला से शादी का प्रस्ताव मिला था जिन्हें उन्हें ठुकरा दिया था।

एस.मोहिन्दर मूल नाम मोहिन्दर सिंह सरना का जन्म अविभाजित पंजाब में मोंटगोमरी जिले के सिलनवाला गांव में 08 सितम्बर 1925 को एक सिख परिवार में हुआ। मोहिन्दर के पिता सुजान सिंह बख्शी पुलिस में सब इंस्पेक्टर थे। उनके पिता बांसुरी बहुत अच्छी बजाते थे जिसे वह बेहद प्यार से सुना करते थे1बचपन के दिनो से ही मोहिन्दर का रूझान संगीत की ओर हो गया था।

वर्ष 1935 में मोहन्दर ने गायक संत सुजान सिंह से शास्त्रीय संगीत की शिक्षा लेनी शुरू की। बाद में उन्होंने संगीतज्ञ भाई समुंद सिंह से शास्त्रीय संगीत की शिक्षा ली। मोहिन्दर ने महान शास्त्रीय गायक बड़े गुलाम अली खां और लक्ष्मण दास से भी शास्त्रीय संगीत की शिक्षा ग्रहण की थी। मोहिन्दर के पिता का लगतार तबादला हुआ करता था जिसके कारण उनकी पढ़ाई काफी प्रभवित हुआ करती थी। चालीस के दशक के प्रारंभ में उनका दाखिला अमृतसर जिले के कैरों गांव में खालसा हाई स्कूल में करा दिया गया।

वर्ष 1947 में देश का विभाजन होने पर उनका परिवार तो भारत में पूर्वी पंजाब चला गया लेकिन संगीत के प्रति रूझान के कारण मोहिन्दर बनारस आ गये जहां उन्होंने दो साल तक शास्त्रीय संगीत की शिक्षा ली। शुरूआती दौर में मोहिन्दर पार्श्वगायक बनना चाहते थे। कुछ वर्ष तक वह लाहौर रेडियो स्टेशन से भी गायक के तौर पर काम किया इसी दौरान उनकी मुलाकात सुरैया से हुयी जिन्होंने उन्हें मुंबई आने का न्यौता दिया। मुंबई आने पर मोहिन्दर की मुलाकात जानेमाने संगीतकार खेमचंद्र प्रकाश से हुयी।

प्रेम टंडन

जारी वार्ता

More News
अगले साल शुरू होगा आंखे का सीक्वल

अगले साल शुरू होगा आंखे का सीक्वल

15 Nov 2018 | 2:21 PM

मुंबई 15 नवंबर (वार्ता) बॉलीवुड के महनायक अमिताभ बच्चन की सुपरहिट फिल्म आंखे का सीक्वल अगले साल शुरू किया जायेगा।

 Sharesee more..
विद्या बालन के पति का किरदार निभायेंगे संजय कपूर

विद्या बालन के पति का किरदार निभायेंगे संजय कपूर

15 Nov 2018 | 2:10 PM

मुंबई 15 नवंबर (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेता संजय कपूर सिल्वर स्क्रीन पर विद्या बालन के पति के किरदार में नजर आयेंगे।

 Sharesee more..
बाइचुंग भूटिया पर बनेगी फिल्म

बाइचुंग भूटिया पर बनेगी फिल्म

15 Nov 2018 | 2:01 PM

मुंबई 15 नवंबर (वार्ता) भारतीय फुटबाल टीम के पूर्व कप्तान बाईचुंग भूटिया पर फिल्म बनायी जायेगी।

 Sharesee more..
रूमानी अदाओं से दीवाना बनाया मीनाक्षी ने

रूमानी अदाओं से दीवाना बनाया मीनाक्षी ने

15 Nov 2018 | 1:53 PM

मुंबई 15 नवंबर (वार्ता) बॉलीवुड में मीनाक्षी शेषाद्री एक ऐसी अभिनेत्री के रुप में शुमार की जाती है जिन्होंने अपनी रूमानी अदाओं से लगभग दो दशक तक सिने प्रेमियों को अपना दीवाना बनाया ।

 Sharesee more..
कव्वाली को संगीतबद्ध करने में महारत थे रोशन

कव्वाली को संगीतबद्ध करने में महारत थे रोशन

15 Nov 2018 | 1:45 PM

मुंबई 15 नवंबर (वार्ता) हिंदी फिल्मों में जब कभी कव्वाली का जिक्र होता है तो संगीतकार रोशन का नाम सबसे पहले लिया जाता है ।

 Sharesee more..
image