Monday, Dec 9 2019 | Time 18:14 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • दुष्कर्म की राजधानी बना भारत, फिर भी चुप हैं मोदी : राहुल
  • अनाज मंडी आग हादसे के लिए ऊर्जा मंत्री, कंपनी जिम्मेदार, हत्या का मुकदमा दर्ज हो: चोपड़ा
  • धोनी और पंत में बहुत फर्क: लारा
  • पश्चिम मध्य प्रदेश और सौराष्ट्र के कुछ हिस्सों में रात का तापमान सामान्य से नीचे रहा
  • युवराज की मां शबनम बनी रिपब्लिक ऑफ मेडागास्कर की कॉउंसलिएर एकनॉमिके
  • मरियम का नाम ईसीएल सूची से हटाने पर सात दिन में अंतिम फैसला ले सरकार: एचएचसी
  • आस्ट्रेलिया में जंगल में लगी आग में दो हजार से अधिक कोआला जीवाेें के मरने की आशंका
  • हथियार कानून के उल्लंघन के लिए सजा बढ़ाने वाला विधेयक लोकसभा में पारित
  • हवा से चलने वाली बाइक बनाने वाले अद्वैत ने मुख्यमंत्री से की मुलाकात
  • विस्तारा का लुफ्थांसा के साथ कोड शेयर समझौता
  • दिल्ली के पत्रकार ने हरिद्वार में की आत्महत्या
  • हाईकोर्ट में न्यायाधीशों की रिक्तियों को भरने की राज्य सभा में मांग
  • विनायक गुप्ता का विस्फोटक शतक बेकार
  • अनाज मंडी अग्नि हादसे वाली इमारत का मालिक आप का कार्यकर्ता: तिवारी
राज्य » मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़


कोटरा की बस्तियों में पहुँचे शर्मा और सिलावट

भोपाल, 21 नवम्बर (वार्ता) मध्यप्रदेश के जनसम्पर्क मंत्री पी.सी. शर्मा और लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री तुलसीराम सिलावट ने आज कोटरा नगर की बस्तियों में घर-घर जाकर नागरिकों से डेंगू से बचाव और रोकथाम के उपाय अपनाने का अनुरोध किया।
मंत्री द्वय ने आकाश नगर में महेश शर्मा, भज्जू श्याम और सतीश भार्गव के घर पहुँचकर परिजनों से भेंट की। घरों में रखे पानी के बर्तनों और गमलों में लार्वा का अपने सामने परीक्षण करवाया। आकाश नगर बस्ती के अधिकांश घरों में डेंगू प्रजाति के मच्छरों का लार्वा जाँच में पाया गया। डेंगू से बचाव के लिये पहली जरूरत घर में रखे पानी के बर्तनों से समय-समय के अंतराल पर पानी को बदलने की बात कही।
उन्होंने लोगों से कहा कि चिकित्सकों के परामर्श से होम्योपेथिक प्रिवेंटिव मेडिसिन का उपयोग करें। स्थानीय नागरिक अपने घर और आसपास के क्षेत्र को साफ रखें। उन्होंने प्रतीकात्मक तौर पर खाली पड़े स्थान और गंदगी वाले स्थानों पर मलेरियारोधी दवा का छिड़काव किया। डेंगू को खत्म करने के संकल्प अभियान के पोस्टर पर हस्ताक्षर किये। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग और नगर निगम के अधिकारियों को बस्तियों में रोजाना सफाई करवाने और वर्षा जल के भराव वाले स्थानों से जल को खाली करवाने के निर्देश दिये।
नाग
वार्ता
image