Thursday, Jun 27 2019 | Time 13:37 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • स्विटजरलैंड ने नीरव मोदी और उसकी बहन का बैंक खाता फ्रीज किया।
  • दक्षिण चेन्नई कांग्रेस जिला समिति के अध्यक्ष निलंबित
  • सेमीफाइनल की राह मज़बूत करने उतरेगा भारत
  • सेमीफाइनल की राह मज़बूत करने उतरेगा भारत
  • हरियाणा कांग्रेस प्रवक्ता विकास चौधरी की हत्या
  • संस्कृत के संरक्षण के लिए राष्ट्रीय नीति बनाने की मांग
  • साढ़े तीन साल में शुरू हो जायेगा दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस-वे : गडकरी
  • विकास चौधरी की हत्या के दोषियों को सजा दिलाने की मांग की कांग्रेस ने
  • मोदी ने की जापान के प्रधानमंत्री शिंजे आबे से मुलाकात
  • लाखों रुपये के गांजे के पौधे बरामद
  • ‘मनमाने’ हवाई किराये पर लोकसभा में हंगामा
  • शोकाभिव्यक्ति के बाद सदन की कार्यवाही स्थगित
  • बिजली गिरने से महिला की मौत
  • दिल्ली में गर्मी से लोग बेहाल, न्यूनतम तापमान 28 6 डिग्री सेल्सियस
  • संयुक्त राष्ट्र में देश की अस्थायी सदस्यता का समर्थन गर्व का विषय:नायडू
विशेष » कुम्भ


कुम्भ ने दुनिया को कराया भारतीय संस्कृति की विविधता का अहसास :राणा

कुम्भ ने दुनिया को कराया भारतीय संस्कृति की विविधता का अहसास :राणा

कुम्भ,04 मार्च (वार्ता) उत्तर प्रदेश के गन्ना विकास एवं चीनी मिल मंत्री सुरेश राणा ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के निर्देशन तथा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कुशल नेतृत्व का बखान करते हुए कहा कि पूरे विश्व ने कुम्भ की प्राचीन मान्यता, आध्यात्मिकता, लौकिकता, आपसी सद्भाव को स्वीकार किया।

श्री राणा महाशिवरात्रि के अवसर पर संगम के त्रिवेणी में जनमानस के साथ गंगा, यमुना और अदृश्य सरस्वती की त्रिवेणी में आस्था की डुबकी लगाई। उन्होने कहा कि संगम में स्नान कर उन्हें जो आनंद मिला उसका वर्णन नहीं किया जा सकता। विश्व के 192 देशों के लोग कुम्भ में आकर तीर्थराज प्रयाग की सुव्यवस्थित व्यवस्था, स्वच्छता और भव्यता देख हुए अभिभूत हुये। विश्व के तमाम देशों के प्रतिनिधि तथा देश के विभिन्न प्रदेशों से आये लोगो ने कुम्भ के प्रति अपनी आस्था प्रकट की।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के निर्देशन और प्रयास के फलस्वरुप कुम्भ को यूनेस्को में मानवता के अमूल्य धरोहर के रुप में जगह मिली है। सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कुशल नेतृत्व में कुम्भ-2019 को अविस्मरणीय बनाया है।

श्री राणा ने कहा कि कुम्भ की प्राचीन मान्यता, आध्यात्मिकता, लौकिकता, आपसी सद्भाव को सभी ने स्वीकार किया है और करोड़ों की संख्या में श्रद्धालु आकर यहाॅ के दर्शन और स्नान किये।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कुशल निर्देशन में कुम्भ में अभेद्य सुरक्षा व्यवस्था, यातायात प्रबन्धन तथा स्वच्छता के माध्यम से विश्व के समक्ष अद्भुत संदेश दिया है। टेन्ट सिटी के माध्यम से वैश्विक स्तर की आवासीय सुविधा ने कुम्भ को अलग स्थान दिलाया है, इसके अलावा स्वच्छाग्राहियों ने सफाई व्यवस्था को टीमवर्क के माध्यम से पूरा किया।

श्री राणा ने कहा कि कुम्भ में अधिकारियों तथा कर्मचारियों ने टीम भावना ने काम करके इसे दिव्य एवं भव्य बनाया है। विगत कुम्भो से अलग हट करके इस बार सरकार ने हेलीकाप्टर के माध्यम से श्रद्धालुओं पर पुष्पवर्षा की गयी। जिससे अभिभूत होकर श्रद्धालुओं ने मुख्यमंत्री का जयकारा भी लगाया। उन्होंने कुम्भ को अन्तराष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाने में सहयोग करने के लिए मीडिया बन्धुओं को बधाई दी।

दिनेश प्रदीप

वार्ता

More News
कुम्भ ने दुनिया को कराया भारतीय संस्कृति की विविधता का अहसास :राणा

कुम्भ ने दुनिया को कराया भारतीय संस्कृति की विविधता का अहसास :राणा

04 Mar 2019 | 9:55 PM

कुम्भ,04 मार्च (वार्ता) उत्तर प्रदेश के गन्ना विकास एवं चीनी मिल मंत्री सुरेश राणा ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के निर्देशन तथा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कुशल नेतृत्व का बखान करते हुए कहा कि पूरे विश्व ने कुम्भ की प्राचीन मान्यता, आध्यात्मिकता, लौकिकता, आपसी सद्भाव को स्वीकार किया।

see more..
कुम्भ की आभा बेमिसाल : फडणवीस

कुम्भ की आभा बेमिसाल : फडणवीस

04 Mar 2019 | 9:55 PM

कुम्भनगर,04 मार्च (वार्ता) महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने कहा कि दुनिया के सबसे बड़े आध्यात्मिक और सांस्कृतिक समागम कुम्भ की जितनी प्रशंसा की जाए,वह कम है।

see more..
महाशिवरात्रि स्नान पर एक करोड़ से अधिक श्रद्धालुओं ने लगाई संगम में आस्था की डुबकी

महाशिवरात्रि स्नान पर एक करोड़ से अधिक श्रद्धालुओं ने लगाई संगम में आस्था की डुबकी

04 Mar 2019 | 8:55 PM

कुम्भनगर, 04 मार्च (वार्ता) सम्पूर्ण विश्व में अपनी अमिट छाप छोड़ने वाले कुम्भ के आखिरी दिन महाशिवरात्रि के पर्व पर एक करोड़ 10 लाख से अधिक श्रद्धालुओं ने पतित पावनी गंगा, श्यामल यमुना और अन्त: सलिला स्वरूप में प्रवाहित हो रही सरस्वती में आस्था की डुबकी लगाई।

see more..
आध्यात्म,वैराग्य और ज्ञान की ऊर्जा सतत प्रवाहित होती है संगम की रेत में

आध्यात्म,वैराग्य और ज्ञान की ऊर्जा सतत प्रवाहित होती है संगम की रेत में

04 Mar 2019 | 6:04 PM

कुम्भनगर, 04 मार्च (वार्ता) पतित पावनी गंगा, श्यामल यमुना और अन्त: सलीला स्वरूप में प्रवाहित सरस्वती के त्रिवेणी की विस्तीर्ण रेती वैराग्य, ज्ञान और आध्यात्मिक शक्ति से ओतप्रोत है।

see more..
महाशिवरात्रि से पहले संगम पर उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़

महाशिवरात्रि से पहले संगम पर उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़

03 Mar 2019 | 2:35 PM

कुंभनगर, 03 मार्च (वार्ता) दुनिया के सबसे बड़े आध्यात्मिक और सांस्कृतिक समागम कुंभ के छठे और आखिरी स्नान पर्व महाशिवरात्रि से एक दिन पहले रविवार को एक बार फिर दूर-दराज से भक्तों का रेला संगम पर आस्था के समंदर में बूंदा-बांदी को धता बताकर हिलोरें ले रहा है।

see more..
image