Monday, Jul 13 2020 | Time 05:15 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • ब्राजील में कोरोना मृतकों की संख्या 72100 पहुंची
  • तुर्की में कोरोना के 1012 नए मामले, संक्रमितों की संख्या 212,993 हुई
  • यमन में हवाई हमले में 10 नागरिकों की मौत-हाउती टीवी
  • चीन में बाढ़ से 141 लोगों की मौत
  • महाराष्ट्र के प्रत्येक जिले में होगी कोरोना प्रयोगशाला- ठाकरे
बिजनेस


कोरोना पर नियंत्रण के बाद ठीक हो जायेगी भारतीय अर्थव्यवस्था: कुमार

कोरोना पर नियंत्रण के बाद ठीक हो जायेगी भारतीय अर्थव्यवस्था: कुमार

नयी दिल्ली 30 जून (वार्ता) नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार ने विश्वास व्यक्त किया है कि भारत की अर्थव्यवस्था कोविड -19 महामारी पर नियंत्रण के बाद ठीक हो जाएगी।

श्री कुमार ने नीति आयोग और रॉकी माउंटेन इंस्टीट्यूट (आरएमआई) द्वारा आज ‘स्वच्छ ऊर्जा अर्थव्यवस्था की ओर: भारत की ऊर्जा और गतिशीलता क्षेत्रों के लिए कोविड -19 के बाद अवसर रिपोर्ट’ को जारी करने के दौरान यह बात कही। उन्होंने कहा कि भारत के मजबूत लोकतांत्रिक संस्थान नीतिगत स्थिरता को बढ़ावा देते हैं। उनका कहना है कि जारी आर्थिक सुधारों को यदि अच्छी तरह से लागू किया जाता हैतो देश की विकास दर अन्य समकक्ष देशों से आगे रहेगी।

इस मौके पर नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ कांत ने कहा कि स्वच्छ ऊर्जा भारत के आर्थिक सुधार और अंतर्राष्ट्रीय प्रतिस्पर्धा का एक प्रमुख संवाहक होगी। उन्होंने कहा कि इस नई परिस्थिति में देश और उद्योग को अहमियत दिलाने के लिए यह देखना होगा कि हम अपने घरेलू नवाचार पारिस्थितिकी तंत्र का लाभ कैसे उठाएं। उन्होंने कहा कि हमने ऐसे विशिष्ट कार्यों की सिफारिश की है जिससे भारत चार अहम आर्थिक क्षेत्रों में से दो - परिवहन और बिजली क्षेत्र में फिर से जान डाल सकता है और मजबूत बनकर उभर सकता है।

रिपोर्ट में भारत के लिए एक स्वच्छ,लचीला और कम से कम लागत वाले ऊर्जा भविष्य के निर्माण की दिशा में काम करने वाले प्रोत्साहन और फिर से ठीक होने की कोशिशों की चर्चा की गई है। इन कोशिशों में इलेक्ट्रिक वाहन, ऊर्जा भंडारण और नवीकरणीय ऊर्जा कार्यक्रम शामिल हैं।

रिपोर्ट में कहा गया है कि कोविड -19 भारत में स्वच्छ ऊर्जा बदलाव को,विशेषकर परिवहन और बिजली क्षेत्रों में,कैसे प्रभावित कर रहा है। यह रिपोर्ट अर्थव्यवस्था में सुधार को आगे बढ़ाने और स्वच्छ ऊर्जा आधारित अर्थव्यवस्था के लिए आवेग को बनाए रखने के लिए देश में क्षेत्र के अग्रणी लोगों कोसिद्धांतों और रणनीतिक अवसरों की सिफारिश करती है।

कोविड -19 ने भारत के परिवहन और बिजली क्षेत्रों के लिए नकदी अवरोध और आपूर्ति की कमी से लेकर उपभोक्ता मांग और प्राथमिकताओं में बदलाव की महत्वपूर्ण मांग और आपूर्ति पक्ष की चुनौतियों को पेश किया है।

शेखर

वार्ता

More News
आत्‍मनिर्भर भारत पैकेज के कार्यान्वयन पर वित्त मंत्री की निगरानी

आत्‍मनिर्भर भारत पैकेज के कार्यान्वयन पर वित्त मंत्री की निगरानी

12 Jul 2020 | 6:49 PM

नयी दिल्ली 12 जुलाई (वार्ता) वित्त और कॉरपोरेट कार्य मंत्रालयों ने आत्‍मनिर्भर भारत अभियान के तहत आर्थिक पैकेज से संबंधित घोषणाओं को लागू करना शुरू कर दिया है।

see more..
image