Saturday, Jul 11 2020 | Time 14:34 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • देश में कोरोना रिकवरी दर 63 प्रतिशत
  • न्याय के मंदिर का दरवाजा कभी भी बंद नहीं हो सकता : सुप्रीम कोर्ट
  • दिल्ली सरकार के अधीन विश्वविद्यालयों में सभी परीक्षाएं रद्द
  • 143 साल पुरानी सोन नहर प्रणाली ने सिखाई सिंचाई की नई तकनीक, दिलाई अकाल से मुक्ति
  • पार्सल विशेष ट्रेनों से आय 23 43 करोड़ रुपये
  • गुलदार के हमले में महिला की मौत
  • कोरोना संक्रमितों को आइटोलिजुमैब दवा देने पर डीसीजीआई की मंजूरी
  • देश में कठोर जनसंख्या नियंत्रण कानून की जरूरत: गिरिराज
  • दक्षिण कोरिया में कोरोना संक्रमितों की संख्या 13,373 हुई
  • जयपुर में बनी छिद्रपूण फेंफडे के रोग गाइडलाइन्स का अमेरिका और एशिया पैसिफिक चेस्ट सोसायटी द्वारा समर्थन
  • जर्मनी में कोरोना के 378 नए मामलों की पुष्टि, कुल संख्या 198,556 हुई
  • दिल्ली विश्वविद्यालय के दिल्ली सरकार के अधीन कॉलेजों की सभी परीक्षाएं रद्द: सिसोदिया
  • कोरोना के 2 82 लाख से अधिक नमूनों की जांच
  • स्मार्ट सिटी परियोजना को स्थानीय स्थापत्य शैली से जोड़ने की जरूरत: वेंकैया
  • देश में कुल 1,180 कोरोना टेस्ट लैब
राज्य » उत्तर प्रदेश


चिन्मयानंद दिव्यधाम पहुंचे,डॉक्टरों ने दी थी केजीएमसी जाने की सलाह

चिन्मयानंद दिव्यधाम पहुंचे,डॉक्टरों ने दी थी केजीएमसी जाने की सलाह

शाहजहांपुर,19 सितम्बर (वार्ता) अपने ही कॉलेज की छात्रा के दुष्कर्म के आरोपों से घिरे पूर्व केंद्रीय गृह राज्य मंत्री चिन्मयानंद गुरुवार को मेडिकल काॅलेज से सीधे दिव्य धाम पहुंच गए।

डॉक्टरों की टीम ने लखनऊ किंगजार्ज मेडिकल विश्वविद्यालय (केजीएमसी) रेफर करने की तैयारी कर ली थी, लेकिन उन्होंने वहां जाने से इंकार कर दिया। उन्होंने अपना इलाज आयुर्वेद पद्धति से कराने की बात कही है।

जिला अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक एमपी गंगवार ने बताया कि चिन्मयानंद के दिल में दिक्कत थी। एंजियोग्राफी कराई गई थी ,जिससे उनके हार्ट में ब्लड सप्लाई ठीक से न हो पाने की समस्या बताई जा रही है। उनके बेहतर इलाज और जांच लखनऊ के केजीएमसी रेफर करने की सलाह दी थी। उन्होंने लिखकर दिया कि वह आयुर्वेद दवा से अपना इलाज करायेंगे।

गौरतलब है कि पीड़िता के 164 के बयान के बाद स्वामी चिन्मयानंद का स्वास्थ्य सोमवार को अचानक बिगड़ गया था। मेडिकल कॉलेज के डॉक्टरों ने उनके दिव्य धाम पहुंचकर उनका स्वास्थ्य परीक्षण किया था। बुधवार को उनका स्वास्थ्य ज्यादा बिगड़ने के कारण उन्हें राजकीय मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था । जहां डॉक्टरों की टीम उनका स्वास्थ्य उपचार कर रही थी।

पीड़ित छात्रा ने स्वामी चिन्मयानंद पर योन शोषण के गंभीर आरोप लगाये थे। छात्रा का आरोप है कि गिरफ्तारी के डर से स्वामी बीमारी का बाहना रहे हैं। छात्रा ने धमकी दी कि अगर उनके खिलाफ मामला दर्ज कर गिरफ्तार नहीं किया तो वह आत्मदाह कर लेगी। छात्रा मामले की जांच कर रही एसआईटी और जिलाधिकारी पर पहले ही गंभीर आरोप लगा चुकी है। छात्रा का आरोप है जांच टीम आरोपी को बचाने में लगी है और जिस कमरे में उसका शौषण किया गया था वहां से सबूत भी हटा दिए गये हैं।

सं त्यागी

वार्ता

More News
बस्ती में जापानी इंसेफलाइटिस के विरुद्ध अभियान शुरू

बस्ती में जापानी इंसेफलाइटिस के विरुद्ध अभियान शुरू

11 Jul 2020 | 1:27 PM

बस्ती 11 जुलाई (वार्ता) उत्तर प्रदेश के बस्ती में जापानी इंसेफलाइटिस(जेई) तथा इंसेफलाइटिस सिंड्रोम (एईएस) के विरुद्ध सघन अभियान शुरू किया गया है|

see more..
कुशीनगर में सीएमओ का चालक समेत आठ नये कोरोना पॉजीटिव

कुशीनगर में सीएमओ का चालक समेत आठ नये कोरोना पॉजीटिव

11 Jul 2020 | 1:14 PM

कुशीनगर, 11 जुलाई(वार्ता) उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में कोरोना संक्रमित मरीजों का ग्राफ तेजी से बढ़ रहा है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी(सीएमओ) के चालक समेत आठ और कोरोना पॉजीटिव मिले हैं।

see more..
image