Friday, Dec 6 2019 | Time 19:18 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • राष्ट्रव्यापी जीएसटी हितधारक फीडबैक दिवस का आयोजन कल
  • जनहित के मुद्दों को लेकर फरवरी में होगी खाप महापंचायत
  • रेणुका सिंह गिनायेंगी 100 दिन की उपलब्धि
  • जल और हरियाली के बिना जीवन की परिकल्पना बेमानी : नीतीश
  • अविनाश खन्ना हरियाणा और गोवा प्रदेशाध्यक्षों के चुनाव हेतु पर्यवेक्षक नियुक्त
  • वित्त आयोग ने वर्ष 2020-21 के लिए रिपोर्ट वित्त मंत्री को सौंपी
  • आदि महोत्सव में 20 करोड़ रुपए की बिक्री
  • संवाद से रखी जाती है बेहतर भविष्य की नींव : मोदी
  • अजहरुद्दीन के नाम पर स्टैंड का अनावरण
  • अजहरुद्दीन के नाम पर स्टैंड का अनावरण
  • कारागार सुधार गृह हैं, इन्हें अपराध का गढ़ नहीं बनने दिया जाएगा:योगी
  • लालू की जमानत याचिका खारिज
  • राहत नहीं मिलने पर बंद हो सकती वोडाफोन आइडिया : बिरला
  • खट्टर का सात दिसम्बर को गुरूग्राम दौरा, देंगे अनेक परियोजनाओं की सौगात
  • विशेष अभियान में दो इन्सास राइफल समेत भारी मात्रा में कारतूस बरामद
भारत


चुनावी बॉन्ड पर सरकार के पास जवाब नहीं : प्रियंका

चुनावी बॉन्ड पर सरकार के पास जवाब नहीं : प्रियंका

नयी दिल्ली, 22 नवंबर (वार्ता) कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा है कि सरकार ने चुनावी बॉन्ड लाकर रिजर्व बैंक तथा चुनाव आयोग की आपत्तियों को नकारा है और यही वजह है कि उसके मंत्री बारे में कोई जवाब देने की स्थिति में नहीं हैं।

श्रीमती वाड्रा ने शुक्रवार को ट्वीट किया “इलेक्टोरल बॉन्ड के जरिए चंदा लेने के मामले में एक रिपोर्ट ने चार खुलासे किए हैं। कल भाजपा सरकार के मंत्री ने एक रटा रटाया कागज प्रेस के सामने पढ़ दिया! लेकिन इन प्रश्नों के जवाब कहाँ हैं?”

उन्होंने सरकार से कहा उसे बताना चाहिए “ क्या यह सच है कि रिजर्व बैंक और चुनाव आयोग की आपत्तियों को नकारा गया। रिपोर्ट में लिखा है कि प्रधानमंत्री जी ने कर्नाटक चुनाव के दौरान गैरक़ानूनी तरीक़े से बॉन्ड की बिक्री की अनुमति दी। क्या यह सच है। चंदा देने वाले की पहचान गोपनीय है- क्या सरकार ने ये झूठ बोला।”

अभिनव टंडन

वार्ता

More News
नित्यानंद के बारे में सभी देशों को सूचना भेजी

नित्यानंद के बारे में सभी देशों को सूचना भेजी

06 Dec 2019 | 7:09 PM

नयी दिल्ली 06 दिसंबर (वार्ता) विदेश मंत्रालय ने भगोड़े संन्यासी नित्यानंद के बारे में दुनिया भर में अपने मिशनों के माध्यम से सभी देशों को जानकारी दे दी है और उसे शरण नहीं देने का अनुरोध किया है।

see more..
image