Saturday, Nov 28 2020 | Time 21:44 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • विद्या बालन के मामले में सरकार को निशाने पर लिया कांग्रेस ने
  • पांच लाख रुपयों की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार हुआ अधिकारी
  • देश में कोरोना संक्रमण के मामले 94 लाख के करीब
  • मुरादाबाद में योगी की वेश में बजा बैंड
  • कर्नाटक में कोरोना के सक्रिय मामलों में गिरावट
  • भारत कोरोना टीके पर विश्व का नेतृत्व करेगा: सुंदरराजन
  • बलिया सड़क हादसे में बाइक सवार दम्पत्ति व मासूम बच्ची की मृत्यु
  • गुजरात में 15 और मौतें, 1598 नए मामले, सक्रिय मामलों में बढ़ोतरी का सिलसिला जारी
  • चालू वित्त वर्ष में 30 अरब से अधिक एफडीआई
  • चावल घोटाले के मामले में ईओडब्ल्यू ने दर्ज की प्राथमिकी
  • अस्पताल अग्निकांड की न्यायिक जांच के आदेश, राज्य में एक साल में आधा दर्जन अग्निकांडों में 70 की मौत
  • महाराष्ट्र में कोरोना के सक्रिय मामले 90,000 के पास
  • तय स्थान पर एकत्र हों किसान, सरकार बातचीत के लिए तैयार: शाह
  • हैदराबाद निगम चुनाव: शाह का रविवार को रोड शो
राज्य » उत्तर प्रदेश


जनता की नाराजगी का असर दिखेगा बिहार चुनाव मे : शिवपाल

जनता की नाराजगी का असर दिखेगा बिहार चुनाव मे : शिवपाल

इटावा 31 अक्टूबर (वार्ता) प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (प्रसपा) अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि देश की जनता भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से इस समय नाराज दिख रही है जिसका असर बिहार चुनाव मे नतीजे के तौर पर दिखने की पूरी संभावनाए है ।

सरदार बल्लभ भाई पटेल की 147वी जयंती पर प्रसपा अध्यक्ष ने सरदार पटेल की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने के बाद पत्रकारो से बातचीत में कहा कि देश के आजाद होने के बाद अगर देश की कमान सरदार पटेल के हाथों होती तो आज देश की तस्वीर कुछ और होती । बेशक सरदार पटेल देश के गृहमंत्री रहे है लेकिन उनका कद इससे भी बढा हो सकता था ।

उन्होने कहा कि उनकी सोच देश को अग्रदेश बनाने की थी लेकिन केवल गृहमंत्री पद पर रहते हुए ऐसा संभव नही था अगर देश की शीर्ष बागडोर पटेल के हाथो मे रही होती तो निश्चित है कि देश का आग मिजाज कुछ और ही अलग सा होता ।

उन्होने कहा कि इस समय भारतीय जनता पार्टी से देशवासियो मे खासी नाराजगी देखी जा रही है इसलिए ऐसा माना जा सकता है कि इस नाराजगी का असर बिहार चुनाव में भाजपा को उठाना पडे है।

इटावा मे सरदार पटेल की यह प्रतिमा साल 17 अक्टूबर 2002 स्थापित की गई थी। इस प्रतिमा की स्थापना के बाद ही पक्का तालाब चौराहे का नाम बदल कर पटेल चौराहा कर दिया गया है । इस प्रतिमा की स्थापना के बीच शहर के पुरबिया टोला मे पटेल जाति से जुडे हुए लोगो की बसाहट है ।

सं प्रदीप

वार्ता

image