Thursday, Feb 21 2019 | Time 11:33 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • ढाका में इमारत में आग, 70 की मौत
  • वेनेजुएला शक्तिशाली राष्ट्र बनेगा: मादुरो
  • डेमोक्रेटिक पार्टी के सांसद लाएंगे आपातकाल खत्म करने का प्रस्ताव
  • ट्रम्प ने लगायी आईएस में शामिल महिला के स्वदेश लौटने पर रोक
  • रामपुर में दो पक्षों के बीच मारपीट एवं फायरिंग में दो की मृत्यु,एक घायल
  • ढाका में इमारत में आग, 69 की मौत
  • उन्नाव में बस पलटने से दो बच्चों समेत छह की मृत्यु, 12 घायल
  • मोदी द्विपक्षीय वार्ता के लिए दक्षिण कोरिया पहुंचे
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 22 फरवरी)
  • बंगलादेश: ढाका में इमारत में आग, 45 की मौत
  • किम जोंग के साथ और मुलाकातों की उम्मीद : ट्रम्प
  • इराक में घुसपैठ करने वाले आईएस के 24 आतंकवादी हिरासत में
  • तुर्की में सैन्य प्रशिक्षण के दौरान विस्फोट, पांच सैनिक घायल
  • पाकिस्तान ने राजौरी में संघर्ष विराम उल्लंघन कर की गोलीबारी
  • पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद से कश्मीर में शांति बाधित : डीजीपी
बिजनेस Share

जर्मनी ने किया भारतीय उद्योगपतियों को आमंत्रित

नयी दिल्ली 11 फरवरी (वार्ता) जर्मनी ने भारतीय उद्योगपतियों से अपने आॅटोमोबाइल, मैकेनिकल इंजीनियरिंग और आॅप्टिक क्षेत्र में निवेश का आह्वान करते हुए सोमवार को कहा कि इससे दोनों पक्षों को लाभ हो सकता है।
जर्मनी के तुरिंगिया प्रांत के आर्थिक मामले, विज्ञान तथा डिजीटल सोसाइटी मंत्री वोल्फगांग तीफेंसी ने आज यहां भारतीय उद्योगपतियों को संबोधित करते हुए कहा कि भारतीय उद्योगपतियों के लिये जर्मनी में निवेश और सहयोग के व्यापक अवसर पर उपलब्ध हैं। इसके लिये भारतीय उद्याेगपतियों को आॅटोमोबाइल, मैकेनिकल इंजीनियरिंग और आॅप्टिक क्षेत्र की ओर ध्यान देना चाहिए। उन्हाेंने कहा कि तुरिंगिया प्रांत ने निवेश का प्रोत्साहन देने के लिये अनेक रियायतों और छूट देने की घोषणा की है जिसका फायदा भारतीय कारोबारियों को मिल सकता है। श्री तीफेंसी के साथ एक कारोबारी प्रतिनिधिमंडल भी भारत की यात्रा पर आया है।
श्री तीफेंसी ने कहा कि तुरिंगिया यूरोप के मध्य में स्थित है जिससे पूरे महाद्वीप में आसानी से जाया जा सकता है। प्रांत आप्टिक उद्योग का केंद्र है और विश्व में अग्रणी है। आॅटोमोबाइल उद्योग की प्रमुख कंपनियां डैमलर, ओपेल, मेगना, बोस, बीएमडब्लयू या बोर्ग वारनर इस प्रांत में हैं और इंजीनियरिंग मैकेनिकल उद्योग को बेहतर अवसर उपलब्ध कराती हैं। इसके अलावा प्रांत में 40 से अधिक विश्वविद्यालयों में 10 हजार से अधिक वैज्ञानिक शोध कर रहे हैं जो उद्योग के अनुरुप है।
भारत और जर्मनी के आपसी व्यापार में 2017 के दौरान 10 प्रतिशत कर इजाफ हुआ है। दोनों देशों के बीच आपसी निवेश में भी लगातार इजाफा हो रहा है।
सत्या अर्चना
वार्ता
More News
आदित्य बिरला सन लाइफ ने लांच की मासिक अाय योजना

आदित्य बिरला सन लाइफ ने लांच की मासिक अाय योजना

20 Feb 2019 | 6:57 PM

लखनऊ, 20 फरवरी (वार्ता) निजी क्षेत्र की अग्रणी बीमा कंपनी आदित्य बिरला सन लाइफ इंश्योरेंस (एबीएसएलआइ) ने बुधवार को यहां मासिक आय योजना की शुरूआत की।

 Sharesee more..

12 सरकारी बैंकों को मिलेंगे 48,239 करोड़

20 Feb 2019 | 6:45 PM

 Sharesee more..
image