Friday, Apr 3 2020 | Time 22:52 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • सीवान के चार कोरोना संक्रमितों की रिपोर्ट निगेटिव, पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर 30
  • मोइत्रा के पत्र पर स्वत: संज्ञान लेकर ‘सुप्रीम’ सुनवाई, केंद्र को नोटिस
  • समस्तीपुर में काेरोना संदिग्ध की मौत
  • राजस्थान हाईकोर्ट के आदेश पर सुप्रीम कोर्ट ने लगायी रोक
  • शुक्रवार को भी कोरोना वायरस संक्रमण के मामले तेजी से बढ़े, संक्रमित बढ़कर 2547 हुए
  • मनी लॉण्ड्रिंग के मामले में एनडीटीवी को सुप्रीम कोर्ट से राहत
  • उत्तराखंड में कोरोना के छह नए मामले, कुल 16 संक्रमित
  • फोटो कैप्शन पहला/दूसरा सेट
  • कुशीनगर में पकड़े गये 14 नेपाली जमाती , सभी को क्वारंटीन किया
  • कोरोना जैसे शत्रु के साथ लड़ाई में शिथिलता की गुंजाइश नहीं : कोविंद
  • दिल्ली से सहारनपुर आये व्यक्ति की जांच कोराना पॉजिटिव
  • माईटीम11 ने प्रधानमंत्री राहत कोष में दिए पांच लाख
  • माईटीम11 ने प्रधानमंत्री राहत कोष में दिए पांच लाख
  • लाॅकडाउन का उल्लंघन करने वालों पर एनएसए एवं गैंगेस्टर के तहत हो कार्रवाई
  • रिश्वत मामले में करमलाल को मिली जमानत
भारत


जस्टिस मुरलीधर तबादला मामले में कांग्रेस राजनीति कर रही है: रविशंकर

जस्टिस मुरलीधर तबादला मामले में कांग्रेस राजनीति कर रही है: रविशंकर

नयी दिल्ली, 27 फरवरी (वार्ता) कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने दिल्ली उच्च न्यायालय के न्यायाधीश एस मुरलीधर के तबादले पर राजनीति किए जाने को लेकर कांग्रेस की गुरुवार को कड़ी आलोचना करते हुए कहा कि तबादले की अधिसूचना निर्धारित प्रक्रिया के तहत जारी की गई है।

श्री प्रसाद ने कांग्रेस के आरोपों पर स्पष्टीकरण देते हुए कहा कि न्यायमूर्ति मुरलीधर का तबादला सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम की अनुशंसा के बाद कानूनी प्रक्रिया के तहत किया गया है। इसके लिए सभी कानूनी प्रक्रिया का इस्तेमाल किया गया।

विधि एवं न्याय मंत्री ने कहा कि रूटीन तबादले का राजनीतिकरण करके कांग्रेस ने न्यायपालिका का एक बार फिर अपमान किया है। भारत के लोगों ने कांग्रेस पार्टी को ठुकरा दिया है, इसलिए उसने देश के हर संस्थान को नीचा दिखाने का बीड़ा उठा लिया है।

उन्होंने कहा कि डिस्ट्रिक्ट जज बी एच लोया की मौत मामले का निपटारा उच्चतम न्यायालय ने कर दिया है। जो इस मामले में फैसले पर सवाल उठा रहे हैं उनके मन में शीर्ष अदालत के प्रति कोई सम्मान नहीं है। उन्होंने कहा, “क्या राहुल गांधी खुद को उच्चतम न्यायालय से ऊपर मानते हैं?”

कानून मंत्री ने कहा, “हम न्यायपालिका का सम्मान करते हैं लेकिन न्यायपालिका की आजादी से समझौते का कांग्रेस का पुराना रिकॉर्ड रहा है। आपातकाल के दौरान उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीशों की वरीयता को दरकिनार कर दिया गया था।”

उन्होंने कहा कि कांग्रेस केवल तभी खुश होती है, जब उसके मन में मुताबिक फैसला होता है अन्यथा वह न्यायपालिका का अपमान करती है।

सुरेश, यामिनी

वार्ता

More News
मनी लॉण्ड्रिंग के मामले में एनडीटीवी को सुप्रीम कोर्ट से राहत

मनी लॉण्ड्रिंग के मामले में एनडीटीवी को सुप्रीम कोर्ट से राहत

03 Apr 2020 | 10:30 PM

नयी दिल्ली, 03 अप्रैल (वार्ता) उच्चतम न्यायालय ने कथित मनी लॉण्ड्रिंग के एक मामले में निजी टीवी चैनल एनडीटीवी को बड़ी राहत प्रदान करते हुए उसके पक्ष में शुक्रवार को फैसला सुनाया।

see more..
कोरोना जैसे शत्रु के साथ लड़ाई में शिथिलता की गुंजाइश नहीं : कोविंद

कोरोना जैसे शत्रु के साथ लड़ाई में शिथिलता की गुंजाइश नहीं : कोविंद

03 Apr 2020 | 10:03 PM

नयी दिल्ली 03 अप्रैल (वार्ता) राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शुक्रवार को कहा कि कोरोना वायरस ‘कोविड-19’ जैसे अदृश्य शत्रु के साथ लड़ाई में किसी प्रकार की शिथिलता या आत्मसंतोष की गुंजाइश नहीं है।

see more..
पुलिस ने लॉकडाउन के दौरान 3195 लोगों को हिरासत में लिया

पुलिस ने लॉकडाउन के दौरान 3195 लोगों को हिरासत में लिया

03 Apr 2020 | 9:44 PM

नयी दिल्ली, 03 अप्रैल (वार्ता) दिल्ली पुलिस ने गुरुवार को लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों पर सख्ती दिखाते हुए 3195 लोगों को हिरासत में लेकर 365 वाहनों को जब्त किया और 156 प्राथमिकी दर्ज की हैं।

see more..
image