Monday, Aug 19 2019 | Time 11:36 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ जगन्नाथ मिश्रा का निधन
  • उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता और उसके वकील की सड़क दुर्घटना की जांच दो सप्ताह में पूरी करे सीबीआई: सुप्रीम कोर्ट
  • बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्र का निधन
  • सड़क 2 को खास फिल्म मानती है आलिया भट्ट
  • बलात्कार दोषी निरस्त करने संबंधी तरुण तेजपाल की याचिका सुप्रीम कोर्ट ने की खारिज
  • दिल्ली में मंडराया बाढ़ का खतरा, यमुना नदी का जलस्तर खतरे के निशान के पार
  • तमिलनाडु सरकार मृतकों के परिवारों को देगी को दो-दो लाख रुपये
  • दिल्ली में मंडराया बाढ़ का खतरा, यमुना नदी का जलस्तर खतरे के निशान के पार
  • पुलिस मुठभेड़ में दो कुख्यात बदमाश ढेर
  • काबुल में आत्मघाती हमले की अमेरिका ने की निंदा
  • एंटोनियो गुटेरस से मिलेंगे माइक पोम्पियो
  • रामगढ़ के चुट्टुपालु घाटी मे ट्रक पलटा , दो की मौत
  • पश्चिमी प्रशांत महासागर में भूकंप के झटके
  • युगांडा में तेल टैंकर में आग लगने से 20 की मौत, कई घायल
  • हांगकांग में हिंसा का असर अमेरिका-चीन व्यापारिक समझौते पर: ट्रम्प
भारत


जाधव से राजनयिक संपर्क की पुरानी अपील पर कार्रवाई करे पाकिस्तान

नयी दिल्ली 18 जुलाई (वार्ता) सरकार ने आज संकेत दिया कि वह अंतरराष्ट्रीय न्यायालय के फैसले के मद्देनजर पाकिस्तान की जेल में बंद भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव से राजनयिक संपर्क के लिए कोई नयी अपील नहीं करेगी और अपेक्षा करेगी कि पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय में लंबित 22 से अधिक अपीलों पर विचार किया जाये।
विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने यहां नियमित ब्रीफिंग में कहा कि अंतरराष्ट्रीय न्यायालय के फैसले में साफ तौर पर लिखा है कि पाकिस्तान ने विएना संधि का उल्लंघन किया है। अंतरराष्ट्रीय अदालत का फैसला बाध्यकारी है और फैसले को क्रियान्वित करना पाकिस्तान की जिम्मेदारी है।
उन्होंने कहा कि पूरे फैसले में तीन जगह विएना संधि के उल्लंघन की बात कही गयी है और दो जगह पाकिस्तान को निर्देश दिया गया है कि वह जाधव की मौत की सजा की प्रभावी ढंग से समीक्षा करे।
अंतरराष्ट्रीय न्यायालय के फैसले को पाकिस्तान द्वारा अपनी जीत बताये जाने के बारे में पूछे जाने पर प्रवक्ता ने कहा, “ऐसा लगता है कि वे शायद कोई अन्य फैसला पढ़ रहे हैं। मुख्य फैसला 42 पृष्ठों में आया है। अगर 42 पृष्ठ पढ़ने का धैर्य नहीं है तो फिर वे सात पृष्ठ वाली प्रेस विज्ञप्ति पढ़ सकते हैं जिसके हर बिन्दु में भारत के पक्ष को स्वीकार किया गया है। मुझे लगता है कि उनकी अपनी मजबूरियां हैं जिसके कारण उन्हें अपने लाेगों से झूठ बोलना पड़ रहा है।”
इसबीच विदेश मंत्रालय के अधिकारियों ने जाधव से राजनयिक संपर्क स्थापित करने की नयी अपील भेजे जाने के संबंध में पूछे जाने पर कहा कि भारत ने पहले ही 22 से अधिक अपील भेजी हुईं हैं और उनकी कोई मीयाद खत्म नहीं हुई है। उन्होंने कहा कि फैसले में यह कहीं नहीं लिखा है कि भारत को दोबारा राजनयिक संपर्क की अपील करनी चाहिए।
सचिन, उनियाल
वार्ता
More News
दिल्ली में मंडराया बाढ़ का खतरा, यमुना नदी का जलस्तर खतरे के निशान के पार

दिल्ली में मंडराया बाढ़ का खतरा, यमुना नदी का जलस्तर खतरे के निशान के पार

19 Aug 2019 | 11:25 AM

नयी दिल्ली 19 अगस्त (वार्ता) हरियाणा के हथिनीकुंड बैराज से आठ लाख क्यूसेक पानी छोड़े जाने के बाद दिल्ली में यमुना नदी के जलस्तर में वृद्धि हो रही है, जिसके कारण यहां बाढ़ का खतरा पैदा हो गया है।

see more..
image