Wednesday, Apr 21 2021 | Time 08:30 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • रेमडेसिविर की कालाबाजारी करती नर्स समेत दो गिरफ्तार
  • देश में कोरोना के करीब तीन लाख नए मामले
  • केरल में कोरोना सक्रिय मामले 1 18 लाख के पार
चुनाव


त्रिपुरा में ईवीएम गड़बड़ी की जांच की जाए: माकपा

अगरतला 21 फरवरी (वार्ता) मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) ने चुनाव आयोग से त्रिपुरा में 18 फरवरी को विधानसभा चुनाव के मतदान के दौरान इलेक्ट्राॅनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) में बार-बार खराबी आने की जांच कराने की मांग की है। पार्टी ने चुनाव आयोग से 13 विधानसभा क्षेत्रों में पीवीपैट पर्ची तथा ईवीएम में दर्ज मतदाताओं की संख्या को ध्यान में रखकर इसकी जांच कराने की मांग की है।
वरिष्ठ माकपा नेता एवं माकपा के केंद्रीय सचिवालय के सदस्य नीलोत्पल बसु ने कल नयी दिल्ली मेें मुख्य चुनाव आयुक्त (सीईसी) ओम प्रकाश रावत से मुलाकात की। उन्होंने चुनाव आयोग से कहा कि मुख्यमंत्री के विधानसभा क्षेत्र धानपुर तथा भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बिप्लव कुमार देव के विधानसभा क्षेत्र बलरामपुर में ईवीएम और वीवीपैट में गड़बड़ी की शिकायत सबसे अधिक रही।
इसके अलावा ऐसी ही गड़बड़ियों की रिपोर्ट सिमना, पानीसागर, धर्मानागर, तकारजला, राधाकिशोरपुर, माताबाड़ी, बागमा, अाशाराम्बड़ी, मोहनपुर, मंदियाबाजार और सूर्यामानिनगर विधानसभा क्षेत्राें से भी आयी है।
चुनाव आयोग को सौंपे ज्ञापन में चुनाव में हेराफेरी तथा कई मतदान केंद्रों पर चुनाव उपकरणों तथा वीवीपैट का समुचित तरीके से काम नहीं करने का आरोप लगाया गया है।
उनसठ विधानसभा क्षेत्रों के 3174 मतदान केंद्रो पर ईवीएम में तकनीकी खराबी आयी जिसमें 519 मतदान केंद्रों
में स्थिति असामान्य रही।
ज्ञापन में यह भी आरोप लगाया गया कि कुछ ईसीएल अभियंताओं ने राजनीतिक दल के प्रतिनिधियों की अनुपस्थिति में चुनाव से एक दिन पहले रात में ही ईवीएम खोल दी। पानीसागर विधानसभा क्षेत्र में सभी ईवीएम के अलावा धर्मनगर के 12 और जुब्राजनगर के तीन ईवीएम खोली गयीं।
उन्हाेंने कहा कि इससे संदेह उत्पन्न होता है क्योंकि निर्वाचन अधिकारी के कार्यालय में उम्मीदवारों के अनुरूप पूरी तरह से तैयार ईवीएम को खाेलने का अधिकार किसी को नहीं है। यह भी रहस्य बना हुआ है कि अभियंताओं ने मशीन के साथ क्या किया होगा।
नीरज.श्रवण
वार्ता
There is no row at position 0.
image