Wednesday, Jul 8 2020 | Time 17:33 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • स्कूल स्टाफ ने उपायुक्त से लगाई तीन माह का वेतन दिलवाने की गुहार
  • कानूनी खामियों को दूर करने के लिए दिशानिर्देश संबंधी याचिका दायर
  • जम्मू में बाढ़ में फंसी महिला को पुलिस, एसडीआरएफ टीम ने बचाया
  • स्विच बनाने वाले कारखाने में आग लगी
  • कृषि आधारभूत कोष योजना को मंजूरी
  • मध्य प्रदेश में खेलो इंडिया के क्रियान्वयन की प्रक्रिया प्रारंभ
  • शिक्षा को व्हाट्सएप यूनिवर्सिटी से चलाना चाहती है सरकार: दानिश
  • मोदी हर किसी को नहीं डरा सकते: राहुल
  • सरकार समय सीमा में परियोजनाओं को पूरा करने को प्रतिबद्ध : बीरेन
  • बंगलादेश में कोरोना संक्रमण के 3,489 नये मामले
  • गरीब कल्याण अन्न योजना पांच माह के लिए बढ़ी
  • खाद्य मंत्री गरीबों को मुफ्त राशन पर कर रहे हैं गलतबयानी : बिधूड़ी
  • सहारनपुर सीमा में किसी कांवड़िये को प्रवेश न/न करने दें : डीआईजी
  • फर्जी बाबाओं के आश्रमों को बंद कराने की मांग वाली याचिका पर राय मांगी
  • धोनी ने गांगुली को उनके आखिरी टेस्ट में दिया था कप्तानी का मौका
राज्य » अन्य राज्य


देश के सामने शीघ्र आयेगी नई शिक्षा नीति- निशंक

ऋषिकेश, 17 नवम्बर (वार्ता) केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने रविवार को कहा कि देश में 33 वर्ष के बाद शिक्षा नीति का मसौदा आयेगा।
स्वामी राम हिमालयन विश्व विद्यालय के चतुर्थ दीक्षा समारोह में शामिल होने आए मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने पत्रकारों के साथ बातचीत में कहा कि देश के सामने शीघ्र ही एक नई शिक्षा नीति आने वाली है। 33 साल बाद शिक्षा नीति का मसौदा देश के सामने आयेगा। निश्चित रूप से यह दुनिया की सबसे सशक्त नीति होगी। सशक्त भारत की आधारशिला इस नई शिक्षा नीति में समाहित होगी।
श्री निशंक ने कहा इस शिक्षा नीति में संस्कारों के साथ ज्ञान, विज्ञान, तकनीकी का समावेश होगा। ज्ञान, विज्ञान, तकनीकी क्षेत्र में शिक्षा नीति शिखर को छुयेगी। प्रधानमंत्री ने स्वस्थ, स्वच्छ और श्रेष्ठ भारत के निर्माण का सपना देखा है। इस नई शिक्षा नीति में ऐसे भारत की आधारशिला रखी जाएगी।
सं राम
वार्ता
image