Sunday, Jan 17 2021 | Time 05:57 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
भारत


देश में कोरोना संक्रमण मामले साढ़े 94 लाख के पार

देश में कोरोना संक्रमण मामले साढ़े 94 लाख के पार

नयी दिल्ली 30 नवंबर (वार्ता) देश में पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना वायरस (कोविड-19) के 25,777 नये मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की संख्या साढे 94 लाख के पार 94,57,552 पहुंच गयी जबकि राहत की बात यह है कि इस दौरान संक्रमण से निजात पाने वाले लोगों की संख्या में वृद्धि होने से सक्रिय मामलों में एक बार फिर से कमी हुई है।

विभिन्न राज्यों से सोमवार देर रात तक प्राप्त रिपोर्टाें के मुताबिक देश में पिछले 24 घंटों के दौरान सक्रिय मामलों में 9,217 की कमी दर्ज की गयी जिससे यह संख्या घट कर 4,38,609 रह गयी है।

पिछले 24 घंटों के दौरान 32,939 मरीज स्वस्थ हुए हैं जिसे मिलाकर कोरोना को मात देने वालों की तादाद बढ़ कर 88,79,252 हो गयी है। इसी अवधि में 340 और मरीजों की मौत होने से मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 1,37,517 हो गया है।

देश में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच राहत की बात यह है कि नये मामलों की तुलना में स्वस्थ लोगों की संख्या में वृद्धि होने से रिकवरी दर में आंशिक वृद्धि दर्ज की गयी और अब यह 93.88 फीसदी पर आ गयी है। देश में सक्रिय मामलों की दर 4.63 प्रतिशत जबकि मृत्यु दर भी महज 1.45 फीसदी पर बनी हुई है।

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण के सक्रिय मामलों में 1,936 की और वृद्धि दर्ज की गयी। सक्रिय मामलों की संख्या बढ़ कर अब 89,905 तक पहुंच गयी है। राज्य में पिछले 24 घंटों के दौरान संक्रमण के 5,965 नये मामले सामने आने से संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 18,14,515 पहुंच गयी।

इसी अवधि में 3,937 और मरीजों के स्वस्थ होने से इस वायरस से निजात पाने वालों की संख्या 16,76,564 हो गयी है तथा 75 और मरीजों की मौत होने से मृतकों का आंकड़ा 46,986 हो गया है। राज्य में मरीजों के स्वस्थ होने की दर आंशिक कमी के साथ 92.39 फीसदी रह गयी जबकि मृत्यु दर महज 2.58 प्रतिशत है

कोरोना संक्रमण के मामले में भारत दुनियाभर में अमेरिका के बाद दूसरे स्थान पर है। अमेरिका में संक्रमितों की कुल संख्या करीब एक करोड़ से अधिक 1,33,93,166 हो गयी है। भारत हालांकि अमेरिका से अभी भी 39.35 लाख मामले पीछे है। देश में नये मामलों की संख्या में लगातार गिरावट आ रही है, जबकि अमेरिका में संक्रमितों की संख्या तेजी से बढ़ती जा रही है जिसके कारण दोनों देशों के बीच अंतर भी बढ़ता ही जा रहा है।

संजय राम

जारी.वार्ता

More News
दिल्ली में कोरोना रिकवरी दर बढ़ कर 97.87 फीसदी

दिल्ली में कोरोना रिकवरी दर बढ़ कर 97.87 फीसदी

16 Jan 2021 | 10:32 PM

नयी दिल्ली 16 जनवरी (वार्ता) राजधानी दिल्ली में पिछले 24 घंटे के दौरान नये मामलों की तुलना में स्वस्थ होने वालों की संख्या अधिक होने से सक्रिय मामले अब 2,600 के करीब रह गए हैं। राहत की एक और बात यह है कि राजधानी में मरीजों के स्वस्थ होने की दर बढ़कर 97.87 फीसदी पहुंच गयी है।

see more..
आंध्र प्रदेश में सर्वाधिक 332 टीकाकरण केंद्र

आंध्र प्रदेश में सर्वाधिक 332 टीकाकरण केंद्र

16 Jan 2021 | 9:06 PM

नयी दिल्ली 16 जनवरी (वार्ता) देश में शनिवार को कोरोना वायरस के खिलाफ टीकाकरण अभियान की शुरूआत की गयी और प्रारंभिक आंकड़ों के मुताबिक शाम तक देश के 3,351 टीकाकरण केंद्रों पर कुल 1,65,714 लाभार्थियों को कोरोना के टीके लगाये गये।

see more..
कोरोना के खिलाफ लड़ाई में साथ देने वाले सभी लोगों का धन्यवाद: हर्षवर्धन

कोरोना के खिलाफ लड़ाई में साथ देने वाले सभी लोगों का धन्यवाद: हर्षवर्धन

16 Jan 2021 | 8:15 PM

नयी दिल्ली 16 जनवरी (वार्ता) केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने कोरोना टीकाकरण अभियान के शुभारंभ के मौके पर शनिवार को उन सभी लोगों का धन्यवाद ज्ञापन किया, जिन्होंने एकजुट होकर कोरोना के खिलाफ लड़ाई में देश का साथ दिया।

see more..
देश के सिर्फ 12 राज्यों में लगेंगे कोवैक्सीन के टीके

देश के सिर्फ 12 राज्यों में लगेंगे कोवैक्सीन के टीके

16 Jan 2021 | 8:05 PM

नयी दिल्ली 16 जनवरी (वार्ता) केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने आज बताया कि भारत बायोटक द्वारा विकसित कोरोना वैक्सीन ‘कोवैक्सीन’ की आपूर्ति देश के सिर्फ 12 राज्यों में की गयी है जबकि सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा निर्मित कोविशील्ड की आपूर्ति देश के सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में की गयी है।

see more..
कृषि क़ानूनों में संशोधन के प्रस्ताव लेकर आगे आयें किसान संगठन:आठवले

कृषि क़ानूनों में संशोधन के प्रस्ताव लेकर आगे आयें किसान संगठन:आठवले

16 Jan 2021 | 7:42 PM

नयी दिल्ली 16 जनवरी (वार्ता) केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता राज्य मंत्री मंत्री और रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (आरपीआई) के अध्यक्ष रामदास आठवले ने कहा कि किसान संगठनों को कृषि कानूनो को रद्द करने की मांग के बजाए क़ानून में संशोधन के प्रस्ताव रखने चाहिए।

see more..
image