Monday, May 25 2020 | Time 14:39 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • पद्मश्री पाने वाले पहले खिलाड़ी थे बलबीर सिंह सीनियर
  • दिल्ली से 23 यात्री जम्मू हवाई अड्डे पर उतरे
  • बुल्गारिया में कोरोना के केवल छह नये मामले
  • महिला ने दो बेटियों की हत्या कर आत्महत्या की कोशिश की
  • कोरोना के साए में बंगलादेश में मनाया गया ईद-उल-फित्र
  • नागपुर के क्वारंटाइन केंद्र में मरीजों का इलाज कर रही डॉक्टर कोरोना से हुई संक्रमित
  • अशोक चव्हाण कोरोना संक्रमित पाए गए
  • किर्गिस्तान में कोरोना के 30 नये मामले
  • न्यूजीलैंड में कोरोना के नये मामले की पुष्टि नहीं
  • कोल्हापुर में कोरोना के 24 नए मामले सामने आए
  • धनखड़ और ममता ने ईद-उल-फितर की दी बधाई
  • तीन बार के ओलम्पिक स्वर्ण विजेता हॉकी लीजेंड बलबीर का निधन
  • तीन बार के ओलम्पिक स्वर्ण विजेता हॉकी लीजेंड बलबीर का निधन
  • नागालैंड में काेरोना का पहला मामला
  • तमिलनाडु में दो महीने के बाद घरेलू विमान सेवा शुरू
राज्य » बिहार / झारखण्ड


नाबालिग के साथ अप्राकृतिक यौनाचार एवं हत्या के मामले में दोषी को उम्रकैद

पटना 18 सितंबर (वार्ता) बिहार में पटना की एक त्वरित अदालत ने नाबालिग के साथ अप्राकृतिक यौनाचार और हत्या के मामले में आज एक दोषी को 10-10 वर्ष के अलग-अलग कठाेर कारावास के साथ उम्रकैद की भी सजा सुनाई।
त्वरित अदालत संख्या दो के न्यायाधीश अब्दुल सलाम ने मामले में सुनवाई के बाद पटना के दीघा थाना क्षेत्र स्थित बिहार विद्यापीठ के निकट पाटलीपुत्रा क्वार्टर निवासी कैलाश कुमार उर्फ नेपाली को एक नाबालिग बच्चे का अपहरण कर उसके साथ अप्राकृतिक यौनाचार करने और फिर उसकी हत्या कर देने का दोषी करार देने के बाद यह सजा सुनाई है।
अदालत ने दोषी को अपहरण के लिए दस वर्ष के सश्रम कारावास, अप्राकृतिक यौनाचार के लिए दस वर्ष के सश्रम कारावास और हत्या के लिए आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। साथ ही अदालत ने सभी सजाएं अलग-अलग चलाये जाने का आदेश दिया है। इस तरह यदि आजीवन कारावास की सजा में सरकार द्वारा कमी की जाती है तब भी दोषी को 40 वर्ष की सजा भुगतनी होगी।
आरोप के अनुसार, दोषी ने 11 अप्रैल 2013 को दीघा थाना क्षेत्र निवासी एक नाबालिग बच्चे का अपहरण कर उसके साथ यौनाचार किया था और उसकी हत्या कर दी थी।
सं सूरज
वार्ता
image