Sunday, Feb 23 2020 | Time 07:01 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • अफगानिस्तान में गत वर्ष 10,000 लोग हुए थे हताहत: संरा
  • इटली में दो दिनों में सामने आये कोरोना वायरस के 62 मामले, पीड़ितों की संख्या हुई 66
  • जर्मनी में बार में गोलीबारी, किसी के घायल होने की सूचना नहीं
  • ईरान में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या छह हुई
  • वुहान में सभी संदिग्ध मरीजों का हुआ न्यूक्लिक एसिड टेस्ट
  • इटली में कोरोना वायरस से ग्रसित लोगों की संख्या 51 हुई
  • जाम्बिया में मॉब लिंचिंग की घटनाओं में 43 की मौत, 23 घायल
  • हांगकांग में कोरोना वायरस से ग्रसित मरीजों की संख्या हुई 69
भारत


निर्भया : घटना के दिन नाबालिग होने का दावा करते हुए पवन पहुंचा सुप्रीम कोर्ट

निर्भया : घटना के दिन नाबालिग होने का दावा करते हुए पवन पहुंचा सुप्रीम कोर्ट

नयी दिल्ली 17 जनवरी (वार्ता) देश को हिला देने वाले निर्भया सामूहिक दुष्कर्म एवं हत्या के मामले में ‘ब्लैक वारंट’ का सामना कर रहे दोषी पवन गुप्ता ने घटना की तारीख को नाबालिग होने का दावा करते हुए उच्चतम न्यायालय में एक विशेष अनुमति याचिका (एसएलपी) शुक्रवार को दायर की।

पवन ने दिल्ली उच्च न्यायालय के गत 19 दिसंबर के उस फैसले को शीर्ष अदालत में चुनौती दी है, जिसने घटना के वक्त उसके नाबालिग होने की दलील खारिज कर दी थी।

पवन ने अपनी याचिका में कहा है कि 16 दिसंबर, 2012 को निर्भया के साथ हुई हैवानियत के वक्‍त वह नाबालिग था। उसने कहा कि उसने इस बाबत उच्च न्यायालय का दरवाजा भी खटखटाया था, लेकिन वहां से उसे राहत नहीं मिली थी और याचिका खारिज कर दी गयी थी।

गाैरतलब है कि उसने खुद को फांसी के फंदे से बचाने के लिए यह हथकंडा निचली अदालत में भी अपनाया था, जिसने इस संबंध में उसकी याचिका खारिज कर दी थी। उसके बाद उसने उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाया था। वहां से भी निराशा हाथ लगने के बाद पवन ने अब सर्वोच्च न्यायालय का रुख किया है।

याचिका में कहा गया है कि जांच अधिकारियों ने उम्र का निर्धारण करने के लिए पवन की हड्डियों की जांच नहीं की थी। उसने अपने मामले को किशोर न्याय कानून की धारा सात (एक) के तहत चलाये जाने का अदालत से आग्रह किया है।

उसने शीर्ष अदालत से आग्रह किया है कि नाबालिग होने के दावे की जांच के लिए अधिकारियों को उसकी अस्थि जांच का निर्देश दिया जाये।

साेलह दिसंबर 2012 को राजधानी में निर्भया के साथ सामूहिक बलात्कार किये जाने के बाद उसे गम्भीर हालत में फेंक दिया गया था। दिल्ली में इलाज के बाद उसे एयरलिफ्ट करके सिंगापुर के महारानी एलिजाबेथ अस्पताल ले जाया गया था, जहां उसकी मौत हो गयी थी। इस मामले के छह आरोपियों में से एक नाबालिग था, जिसे सुधार गृह भेजा गया था। उसने वहां से सजा पूरी कर ली थी। एक आरोपी राम सिंह ने तिहाड़ जेल में फांसी लगा ली थी। चार अन्य दोषियों- पवन, मुकेश, अक्षय और विनय शर्मा को फांसी के लिए ब्लैक वारंट जारी किया जा चुका है।

सुरेश.संजय

वार्ता

More News
‘आप’ देश के 20 राज्यों में शुरू करेगी राष्ट्र निर्माण अभियान

‘आप’ देश के 20 राज्यों में शुरू करेगी राष्ट्र निर्माण अभियान

22 Feb 2020 | 9:06 PM

नयी दिल्ली 22 फरवरी (वार्ता) आम आदमी पार्टी (आप) देश के 20 राज्यों में रविवार से राष्ट्र निर्माण अभियान की शुरुआत करेगी।

see more..
भारत-अमेरिका के बीच रक्षा, ऊर्जा क्षेत्र में करार की संभावना

भारत-अमेरिका के बीच रक्षा, ऊर्जा क्षेत्र में करार की संभावना

22 Feb 2020 | 9:03 PM

नयी दिल्ली, 22 फरवरी (वार्ता) अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उनकी पत्नी मेलानिया ट्रंप 24 फरवरी को अहमदाबाद में उनके भव्य स्वागत के बाद आगरा में ताजमहल के दीदार के लिए रवाना होंगे लेकिन वहां मेहमानों के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नहीं रहेंगे।

see more..
कांग्रेस के कारण ही भारत अमेरिका संबंध बाधित हुए : भाजपा

कांग्रेस के कारण ही भारत अमेरिका संबंध बाधित हुए : भाजपा

22 Feb 2020 | 9:03 PM

नयी दिल्ली, 22 फरवरी (वार्ता) भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की भारत यात्रा को लेकर कांग्रेस की टिप्पणियों को खारिज करते हुए आज कहा कि कांग्रेस के कारण ही भारत अमेरिका संबंधों की प्रगति बाधित हुई थी।

see more..
संविधान के तीनों अंगों ने संतुलन के साथ देश को रास्ता दिखाया : मोदी

संविधान के तीनों अंगों ने संतुलन के साथ देश को रास्ता दिखाया : मोदी

22 Feb 2020 | 9:03 PM

नयी दिल्ली, 22 फरवरी (वार्ता) प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार को जहां कहा कि तमाम चुनौतियों के बीच संविधान के तीनों स्तम्भों - न्यायपालिका, विधायिका और कार्यपालिका- ने संतुलन कायम रखते हुए देश को उचित रास्ता दिखाया है,

see more..
कालिंदी कुंज से नोएडा जाने वाली सड़क खुली

कालिंदी कुंज से नोएडा जाने वाली सड़क खुली

22 Feb 2020 | 7:42 PM

नयी दिल्ली, 22 फरवरी (वार्ता) नागरिकता (संशोधन) कानून के खिलाफ 70 दिनों से बंद पड़ी कालिंदी कुंज से नोएडा जाने वाली सड़क को अब खोल दिया गया है, हालांकि धरना यहां जारी है।

see more..
image