Sunday, Sep 20 2020 | Time 12:25 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • बलरामपुर में जेल में बंद सपा के पूर्व विघायक पर दो और मुकदमा
  • निफ्टी में साप्ताहिक बढ़त, सेंसेक्स में मामूली गिरावट
  • मध्य प्रदेश एक लाख से अधिक कोरोना संक्रमितों वाला 16वां राज्य बना
  • भुज-दादर के बीच चलेगी स्पेशल ट्रेन
  • पेमा खांडू की जांच रिपोर्ट नेगेटिव
  • कृषि सुधार से किसानों के जीवन में क्रांतिकारी बदलाव आयेगा :तोमर
  • चीन में कोरोना संक्रमण के 10 नये मामले
  • किसानों से जुड़े विधयेक को पारित होने से रोकने में गैर-भाजपा दल एक हो : केजरीवाल
  • एक दिन में 12 लाख से अधिक नमूनों का रिकार्ड परीक्षण
  • विश्व में कोरोना से 3 06 करोड़ संक्रमित, 9 55 लाख की मौत
  • कोरोना संक्रमण के आंकड़े 54 लाख से अधिक
  • देवगौड़ा ने राज्यसभा की सदस्यता की शपथ ली
  • पश्चिम चंपारण से अपराधी गिरफ्तार
  • पश्चिम चंपारण में भारी मात्रा में देशी शराब के साथ कारोबारी गिरफ्तार
  • म्यांमार में भूकंप के झटके
पार्लियामेंट


नाले की सफाई के लिए मशीनों का होगा उपयोग:पुरी

नयी दिल्ली 06 दिसंबर (वार्ता) आवास एवं शहरी कार्य मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने शुक्रवार को राज्यसभा में कहा कि जलमल निकासी नाले की ‘मैनुअल’ सफाई के दौरान होने वाली घटनाओं को राेकने के उद्देश्य से इस काम को करने वाले कर्मियों को प्रशिक्षित करने और सफाई के लिए मशीन उपलब्ध कराने की तैयारी चल रही है।
श्री पुरी ने भारतीय जनता पार्टी के प्रभात झा द्वारा ‘स्वच्छता’ को नागरिकों के मूल कर्तव्यों में शामिल करने के लिए लाये गये गैर सरकारी संविधान संशोधन विधेयक 2017 (अनुच्छेद 51 क का संशोधन) पर गत 22 नवंबर को हुयी चर्चा में हस्तक्षेप करते हुये यह बात कही। उन्होंने कहा कि चर्चा के दौरान सदस्यों ने जलमल निकासी नालों की सफाई के दौरान सफाई कर्मियों की होने वाली मौत का मुद्दा उठाया था। इसके मद्देनजर उनका मंत्रालय इन कर्मियों को प्रशिक्षित करने और इस काम को मशीनीकृत करने की दिशा में काम कर रहा है।
मंत्री के हस्तक्षेप के बाद श्री झा ने कहा कि वह श्री पुरी के उत्तर से संतुष्ट हैं और वह अपना निजी विधेयक वापस ले रहे हैं।
श्री पुरी ने कहा कि मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में शुरू किये गये स्वच्छ भारत अभियान जन आंदोलन का रूप ले चुका है और अब तक देश के अधिकांश जिलों और राज्यों को खुले में शौच से मुक्त घोषित किया जा चुका है। शीघ्र ही पूरे देश को खुले में शौच से मुक्त घोषित किये जाने की तैयारी है। इसके बाद स्वच्छता प्लस 1, स्वच्छता प्लस 2 आदि अभियान चलाये जायेंगे ताकि स्वच्छता को आगे बढ़ाया जा सके। शहरों को स्टार रेटिंग भी दिये जा रहे हैं।
उन्होंने स्वच्छ भारत अभियान के तहत ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में निर्मित शौचालयों का उल्लेख करते हुये कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना, अमृत और हृदय योजना भी इस अभियान में भागीदारी कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि शहरी क्षेत्रों में जलमल निकासी उपचार संयंत्र लगाये जा रहे हैं।
शेखर सत्या
वार्ता
More News
देवगौड़ा ने राज्यसभा की सदस्यता की शपथ ली

देवगौड़ा ने राज्यसभा की सदस्यता की शपथ ली

20 Sep 2020 | 11:28 AM

नयी दिल्ली 20 सितम्बर (वार्ता) पूर्व प्रधानमंत्री और जनता दल (एस) के वरिष्ठ नेता एच डी देवगौड़ा ने रविवार को राज्यसभा की सदस्यता की शपथ ली ।

see more..
अनुराग के आरोपों पर बरसी कांग्रेस, निर्मला ने किया राज्य मंत्री का बचाव

अनुराग के आरोपों पर बरसी कांग्रेस, निर्मला ने किया राज्य मंत्री का बचाव

19 Sep 2020 | 11:18 PM

नयी दिल्ली, 19 सितंबर (वार्ता) वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर द्वारा गांधी-नेहरू परिवार के नाम पर बनाये गये न्यासों और फंडों के लेकर उठाये गये सवालों पर कांग्रेस ने आज लोकसभा में कड़ी आपत्ति जताई जबकि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने श्री ठाकुर का बचाव करते हुये कहा कि यदि कांग्रेस के नेता उनके सवालों का जवाब नहीं देते तो पार्टी को सरकार से प्रश्न पूछने का कोई अधिकार नहीं है।

see more..
अनुप्रिया पटेल ने मनरेगा मजदूरों का दैनिक वेतन और वार्षिक कार्य दिवस बढ़ाने की मांग

अनुप्रिया पटेल ने मनरेगा मजदूरों का दैनिक वेतन और वार्षिक कार्य दिवस बढ़ाने की मांग

19 Sep 2020 | 10:54 PM

नयी दिल्ली, 19 सितंबर (वार्ता) पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं अपना दल एस की राष्ट्रीय अध्यक्ष और सांसद श्रीमती अनुप्रिया पटेल ने शनिवार को लोकसभा में सरकार से मनरेगा मजदूरों की दैनिक आय और कार्य दिवस बढ़ाने की मांग की।

see more..
कंपनी कानून में संशोधन संबंधी विधेयक लोकसभा में पारित

कंपनी कानून में संशोधन संबंधी विधेयक लोकसभा में पारित

19 Sep 2020 | 10:44 PM

नयी दिल्ली 19 सितंबर (वार्ता) कंपनी कानून में संशोधन कर तकनीकी और अन्य छोटी गलतियों को फौजदारी अपराध की श्रेणी से हटाकर दीवानी अपराध की श्रेणी में डालने, छोटी कंपनियों पर जुर्माना कम करने और उनके लिए कारोबार आसान बनाने संबंधी विधेयक आज लोकसभा में ध्वनिमत से पारित हो गया।

see more..
image