Sunday, Jul 5 2020 | Time 16:40 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • जापान में बाढ़-भूस्खलन, मृतकों की संख्या बढ़कर 16 हुई
  • कार खाई में गिरी, एक दम्पति की मौत, दो घायल
  • फोटो कैप्शन पहला सेट
  • पुड्डुचेरी में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ना चिंता का विषय : बेदी
  • पेट्रॉल-डीजल की कीमत कम कराने को लेकर कांग्रेस की ‘साइकिल यात्रा’
  • द अफ्रीका के वर्ष के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर चुने गये क्विंटन डी कॉक
  • सिख विरोधी दंगा मामले में सजायाफ्ता पूर्व विधायक की मौत
  • पिता-पुत्र मौत मामले में गिरफ्तार पुलिसकर्मियों को मदुरै जेल में भेजा गया
  • ऑस्ट्रेलिया के वित्त मंत्री ने राजनीति छोड़ने का किया एलान
  • बायर्न म्यूनिख ने 20वीं बार जीता जर्मन कप
  • बायर्न म्यूनिख ने 20वीं बार जीता जर्मन कप
  • बाराबंकी में सात और कोरोना संक्रमित,संख्या बढ़कर 319 पहुंची
  • नाइजीरियाई वायुसेना की कार्रवाई में बोको हरम के कई आतंकवादी ढेर
  • त्रिपुरा में लॉकडाउन से रविवार को जनजीवन ठप
भारत


पर्यावरण संरक्षण के इंदिरा के सपने को आगे बढाएंगे : सोनिया

पर्यावरण संरक्षण के इंदिरा के सपने को आगे बढाएंगे : सोनिया

नयी दिल्ली, 19 नवंबर (वार्ता) कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा है कि पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने पर्यावरण, वन्य जीव तथा वन भूमि संरक्षण के लिए असाधारण योगदान दिया और उनके काम को आगे बढ़ाने के वास्ते निरंतर काम किया जाएगा।

श्रीमती गांधी ने यह बात मंगलवार को यहां सेंटर फार सांइस एंड एन्वायरोमेंट’ को वर्ष 2018 के प्रतिष्ठित ‘इंदिरा गांधी शांति, निरस्त्रीकरण तथा विकास’ पुरस्कार वितरण समारोह को संबोधित करते हुए कही। समारोह में पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी, पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह सहित कई प्रमुख लोग मौजूद थे।

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि यह संस्थान पूर्व प्रधानमंत्री की भावनाओं के अनुकूल पर्यावरण संरक्षण के लिए काम कर रहा है। उन्होंने कहा कि 1971 में जब देश के पूर्वी हिस्से में पाकिस्तान के कारण संकट खडा हुआ था उस संकटपूर्ण माहौल में भी उन्होंने वन्यजीव संरक्षण के लिए अहम भूमिका निभाई। उन्होंने बाध परियोजना शुरू की जिसने बाघों के संरक्षण में अहम भूमिका निभाई।

उन्होंने कहा कि श्रीमती गांधी एक मात्र विदेशी राष्ट्र प्रमुख थी जिन्होंने जून 1972 में पहले मानवीय प्रदूषण पर संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन को संबोधित किया था। उन्होंने कहा कि श्रीमती गांधी जल, जंगल, वन्य जीव और पर्यावरण के संरक्षण के लिए चिंतित रहती थीं इसलिए उन्होंने वन संरक्षण विधेयक लेकर आयी।

श्री अंसारी ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री ने स्टाकहोम में पर्यावरण संरक्षण को लेकर जो विजन दिया था उसी सोच के तहत दुनिया आज आगे बढ रही है। उन्होंने कहा कि यह पुरस्कार उनकी सोच को आगे बढाने के लिए दशकों से दिया जा रहा है और उम्मीद जताई कि आगे भी इसी तरह के व्यक्तियों तथा संस्थानों को सम्मानित किया जाता रहेगा।

सेंटर फार एन्वायरोमेंट की सुनीता नारायण ने हामिद अंसारी से पुरस्कार लेने के बाद कहा कि दिल्ली में प्रदूषण की जो स्थिति है उसके लिए हम ही जिम्मेदार हैं। उन्होंने कहा कि यहां की जमीन उसके बड़े हिस्से पर सड़कों का जाल बना हुआ है। उन्होंने कहा कि इस स्थिति पर गंभीरता से ध्यान देने की आवश्यकता है।

अभिनव.श्रवण

वार्ता

More News
हर्षवर्धन ने गुरुपूर्णिमा पर दी बधाई

हर्षवर्धन ने गुरुपूर्णिमा पर दी बधाई

05 Jul 2020 | 3:56 PM

नयी दिल्ली ,05 जुलाई (वार्ता) केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ़ हर्षवर्धन ने गुरुपूर्णिमा के अवसर पर देशवासियों को शुभ कामनाएँ,देते हुए कहा कि इस पुनीत अवसर पर उन सभी गुरुओं को शत शत नमन जिन्होंने हमारे समाज एवं देश को प्रेरणा दी और प्रथ प्रदर्शन किया।

see more..
देश में चार लाख से अधिक मरीज कोरोना संक्रमण मुक्त;रिकवरी दर 60.77 प्रतिशत

देश में चार लाख से अधिक मरीज कोरोना संक्रमण मुक्त;रिकवरी दर 60.77 प्रतिशत

05 Jul 2020 | 3:26 PM

नयी दिल्ली 05 जुलाई (वार्ता) देश में कोरोना वायरस कोविड-19 संक्रमण से मुक्त होने वाले मरीजों की संख्या अब चार लाख के पार पहुंच गयी है, जिससे रिकवरी दर 60.77 प्रतिशत हो गयी है।

see more..
image