Saturday, Nov 28 2020 | Time 22:15 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • बेंगलुरु और हैदराबाद ने खेला सीजन का पहला गोलरहित ड्रॉ
  • चालू वित्त वर्ष में 30 अरब से अधिक एफडीआई
  • विद्या बालन के मामले में सरकार को निशाने पर लिया कांग्रेस ने
  • पांच लाख रुपयों की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार हुआ अधिकारी
  • देश में कोरोना संक्रमण के मामले 94 लाख के करीब
  • मुरादाबाद में योगी की वेश में बजा बैंड
  • कर्नाटक में कोरोना के सक्रिय मामलों में गिरावट
  • भारत कोरोना टीके पर विश्व का नेतृत्व करेगा: सुंदरराजन
  • बलिया सड़क हादसे में बाइक सवार दम्पत्ति व मासूम बच्ची की मृत्यु
  • गुजरात में 15 और मौतें, 1598 नए मामले, सक्रिय मामलों में बढ़ोतरी का सिलसिला जारी
  • चालू वित्त वर्ष में 30 अरब से अधिक एफडीआई
  • चावल घोटाले के मामले में ईओडब्ल्यू ने दर्ज की प्राथमिकी
राज्य » बिहार / झारखण्ड


पहले चरण में महागठबंधन को निर्णायक बढ़त, रोजगार बना बड़ा मुद्दा : दीपंकर

पटना 31 अक्टूबर (वार्ता) भारत की कम्युनिस्ट पार्टी मर्क्सवादी-लेनिनवादी (भाकपा-माले) के राष्ट्रीय महासचिव दीपंकर भट्टाचार्य ने दावा किया कि महागठबंधन के रोजगार समेत अन्य मुद्दे उठाने से लोगों में भारी उम्मीद जगी है और इसी का परिणाम है कि बिहार विधानसभा के प्रथम चरण चुनाव में उसे निर्णायक बढ़त मिली है।
श्री भट्टाचार्य ने शनिवार को यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि विधानसभा के पहले चरण के चुनाव में महागठबंधन ने निर्णायक बढ़त हासिल कर ली है। शाहाबाद और मगध क्षेत्र से मिल रही सूचनाओं ने स्पष्ट कर दिया है कि इस बार बिहार से राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) की विदाई तय है। उन्होंने कहा कि महागठबंधन ने रोजगार सहित जिन मुद्दों को उठाया उससे लोगों में भारी उम्मीद जगी है। बिहार के लोग आज सुरक्षित एवं सम्मानजनक रोजगार चाहते हैं और यही वजह है कि आज पहली बार भावनात्मक मुद्दों की जगह जनता के असली मुद्दे चुनाव के एजेंडे पर हैं।
भाकपा-माले के राष्ट्रीय महासचिव ने कहा कि राजग सरकार में बिहार में 45 प्रतिशत से अधिक बेरोजगारी है। प्रवासी मजदूरों को न तो महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी (मनरेगा) योजना के तहत काम मिला न ही कहीं और। नियोजित एवं अतिथि शिक्षकों की सबसे खराब स्थिति बिहार में ही है। कर्मचारियों, आशा-आंगनबाड़ी-रसोइयाें की मांग को लेकर लगातार आंदोलन चला है और इस बार ये चुनाव के प्रमुख मुद्दे हैं। महागठबंधन के संकल्प पत्र से एक बेहतर शुरुआत हुई है। यही कारण है कि ये सभी वर्ग के लोग भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के खिलाफ महागठबंधन के पक्ष में गोलबंद हो रहे हैं।
श्री भट्टाचार्य ने कहा कि राजग के चुनाव प्रचार की शैली और गिरते भाषाई स्तर से भी बिहार के लोग दुखी हैं। राजग नेताओं को अपने काम के आधार पर वोट मांगना चाहिए था लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जिस भाषा में बात कर रहे हैं, उसे लोग पसंद नहीं कर रहे हैं। यहां तक कि भाजपा के लोग भी कह रहे हैं कि उनके नेता इस तरह से बात करेंगे उन्होंने कभी सोचा भी नहीं था। उन्होंने सभा और रैली में हो रही भीड़ को लेकर निशाना साधा और कहा कि 28 अक्टूबर को प्रथम चरण के चुनाव के समय पटना के वेटनरी काॅलेज में प्रधानमंत्री की सभा हो रही थी। निर्वाचन आयोग को देखना चाहिए कि चुनाव प्रक्रिया के साथ ऐसा मजाक नहीं होना चाहिए। वोट के लिए इस तरह से सारे नियम-कानून को खत्म कर देना ठीक नहीं है।
सूरज शिवा
जारी (वार्ता)
More News
भारत भू-सांस्कृतिक क्षेत्र न कि भू-राजनीतिक :  प्रो. मिश्र

भारत भू-सांस्कृतिक क्षेत्र न कि भू-राजनीतिक : प्रो. मिश्र

28 Nov 2020 | 7:34 PM

दरभंगा, 28 नवम्बर (वार्ता) प्रख्यात इतिहासकार प्रो. रत्नेश्वर मिश्र ने भूमण्डलीकरण के युग में राष्ट्रवाद पर चर्चा को विडम्बनापूर्ण लेकिन अप्रत्याशित नहीं बताते हुए कहा कि भारत की अवधारणा वस्तुतः मात्र राष्ट्र या राज्य की नहीं है, बल्कि एक सभ्यता की है।

see more..
बिहार में हर हाल में अपराध पर रखें नियंत्रण : नीतीश

बिहार में हर हाल में अपराध पर रखें नियंत्रण : नीतीश

28 Nov 2020 | 7:13 PM

पटना 28 नवंबर (वार्ता) बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य में कानून-व्यवस्था को लेकर कड़ा रुख इख्तियार करते हुए हर हाल में अपराध पर नियंत्रण रखने और कर्तव्य में शिथिलता बरतने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का आज निर्देश दिया।

see more..
सीबीआई की कार्रवाई में कई सफेदपोश होंगे बेनकाब : दीपक प्रकाश

सीबीआई की कार्रवाई में कई सफेदपोश होंगे बेनकाब : दीपक प्रकाश

28 Nov 2020 | 7:03 PM

रांची, 28 नवंबर (वार्ता) भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के झारखंड प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद दीपक प्रकाश ने आज कहा कि राज्य की खनिज संपदा को लूटने वाले गिरोह के खिलाफ केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की कार्रवाई में कई सफेदपोश चेहरे बेनकाब होंगे।

see more..
देश की अर्थव्यवस्था मंदी की चपेट में : डॉ. उरांव

देश की अर्थव्यवस्था मंदी की चपेट में : डॉ. उरांव

28 Nov 2020 | 4:55 PM

रांची, 28 नवंबर (वार्ता) झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सह राज्य के वित्त मंत्री डॉ. रामेश्वर उरांव ने शनिवार को कहा कि सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के ताजा आंकड़ों से यह साफ हो गया है कि देश की अर्थव्यवस्था मंदी की चपेट में है।

see more..
image