Monday, Aug 3 2020 | Time 20:30 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • आंध्र प्रदेश में कोरोना के 7822 नए मामलों की पुष्टि
  • तमिलनाडु में कोरोना वायरस के 5609 नये मामलों की पुष्टि, 109 और मरीजों की मौत
  • संभल में 23 नये कोरोना संक्रमित मिले,संख्या 1011 पहुंची
  • मेघालय में काेरोना वायरस के 28 नये मामले
  • यूएस और फ्रेंच ओपन के समय क्वारंटीन को लेकर हो सकता है टकराव
  • औरैया में 37 नये कोरोना पॉजिटिव, संख्या हुई 482
  • बिहार विधानसभा में 22777 32 करोड़ का प्रथम अनुपूरक बजट पारित
  • संतकबीरनगर में नहीं थम रहा कोरोना संक्रमण, 92 नये पॉजिटिव मिले
  • बुलंदशहर में 19 नये संक्रमित मिले, 1423 हुई संख्या
  • जहरीली शराब से हुई मौतों के लिये भाजपा ने मांगा कैप्टन अमरिंदर का इस्तीफा
  • ऑनलाइन ठगी करने वाले गिरोह के तीन सदस्य झारखंड से गिरफ्तार
  • पिथौरागढ़ में आपदा में तीन महिलाएं अभी भी लापता
  • सोनीपत में पांच किलो अफीम और 35 किलो चरस समेत तस्कर पकड़ा
राज्य » मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़


पंडितों ने मोबाइल एप का उपयोग कर शतचंडी महायज्ञ पूर्ण कराया

खरगोन, 08 दिसंबर (वार्ता) मध्यप्रदेश के खरगोन जिला मुख्यालय स्थित 287 वर्ष प्राचीन 'बाकी माता मंदिर' में 12 पंडितों ने हाईटेक होते हुए धार्मिक ग्रंथों की बजाय मोबाइल एप का उपयोग कर शतचंडी महायज्ञ पूर्ण कराया।
खरगोन के सराफा गली में स्थित बाकी माता मंदिर में शनिवार को शतचंडी महायज्ञ की पूर्णाहुति संपन्न हुई तथा नौ देवियों को छप्पन भोग का अर्पण कर प्रसाद वितरण हुआ। आचार्य सुधीर परसाई ने बताया कि उनके युवा शिष्य हाईटेक हो चुके हैं और उन्होंने विभिन्न धार्मिक ग्रंथों और पोथियों की बजाए सुविधाजनक मोबाइल ऐप का उपयोग कर विभिन्न पूजा-पाठ व आवाह्न संपन्न कराए।
उन्होंने 508 पन्नों के ग्रंथ, जो कि 'पीडीएफ फॉर्मेट' में था, की मदद से विभिन्न प्रक्रियाएं पूर्ण कराई।
पंडित वैभव भट्ट ,पंकज शर्मा और प्रशांत मोरे ने बताया कि इस दौरान उन्होंने धार्मिक ग्रंथ भी अपने साथ रखे लेकिन टच स्क्रीन मोबाइल और मोबाइल ऐप की सहायता से अनुष्ठान पूर्ण करने में आसानी रही।
बाकी माता मंदिर पंडित भट्टमभट्ट द्वारा 1732 में स्थापित किया गया था और पिछले 150 वर्षों में पहली बार यहां शतचंडी महायज्ञ का सात दिवसीय आयोजन किया गया।
सं प्रशांत
वार्ता
image