Monday, Oct 14 2019 | Time 13:22 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • बंटी और बबली के सीक्वल में काम करेंगे माधवन
  • बंटी और बबली के सीक्वल में काम करेंगे माधवन
  • रीटा चौधरी की राजनीतिक प्रतिष्ठा फिर दांव पर
  • जम्मू से नशीले मादक पदार्थ तस्कर गिरफ्तार
  • सितंबर में थोक मुद्रास्फीति घटकर 0 33 प्रतिशत पर
  • सितंबर में थोक मुद्रास्फीति घटकर 0 33 प्रतिशत पर
  • कश्मीर में पोस्टपेड मोबाइल फोन सेवा बहाल
  • दिल्ली में मौसम सुहाना
  • कर्नाटक में तालाब में डूबने से तीन बच्चों की मौत
  • हथियार के साथ दो तस्कर गिरफ्तार
  • राजग में मतभेद नहीं, नीतीश होंगे गठबंधन का चेहरा: चिराग
  • नौ शहरों में रूकेगा नदियों का प्रदूषण
  • सितंबर 2019 में थोक मुद्रास्फीति घटकर 0 33 प्रतिशत पर
  • सितंबर 2019 में थोक मुद्रास्फीति घटकर 0 33 प्रतिशत पर
  • अयोध्या में 10 दिसम्बर तक धारा 144
राज्य » उत्तर प्रदेश


प्रयागराज में गंगा ने पार किया खतरे का निशान,बाढ़ से अफरा-तफरी

प्रयाजराज, 18 सितंबर (वार्ता) उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में गंगा नदी खतरे के निशान के ऊपर बह रही है ,जिससे तटवर्तीय क्षेत्रों में बाढ़ आने से वहां अफरातफरी मची है।
सिंचाई विभाग बाढ़ खंड सूत्रों प्रयागराज में दो साल बाद गंगा ने खतरे को निशान को पार किया है। इसके पहले वर्ष 2016 में यह स्थिति बनी थी। गंगा खतरे के निशान 84.91 से 19 सेंटीमीटर ऊपर बह रही है।
जिलाधिकारी भनुचंद्र गोस्वामी ने बैठक कर बाढ़ के कारण उत्पन्न हुई से निपटने की तैयारियों का जायजा लिया। गंगा प्रदूषण इकाई और जल निगम के जनरल मैनेजर पर कार्य में लापरवाही बरतने और बैठक में अनुपस्थित होने के कारण एफआईआर दर्ज कराने का निर्देश दिया। बाढ राहत शिविरों में गंदगी होने और बदबू आने की शिकायत पर जिलाधिकारी ने अपर नगर आयुक्त से स्पष्टीकरण तलब किया।
गौरतलब है कि राजस्थान के कोटा और धौलपुर बांधों से लगभग 26 लाख क्यूसेक पानी छोड़ा गया है। मध्य प्रदेश के केन, बेतवा एवं धसान नदी पर बने बांधों से पिछले दिनों छोड़ा गया लगभग 12 लाख क्यूसेक पानी भी यमुना
का जलसतर बढ़ा रहा है। गंगा में कानपुर बैराज से 70 हजार क्यूसेक छोड़ा जा रहा है। नरौरा और टिहरी बांधों से भी गंगा में पानी छोड़ा जा रहा है जिससे दोनो नदियों का जलस्तर बढ़ रहा है।
दोनों नदियाें ने शहर के करीब 30 मुहल्लों और 110 गांवों को अपनी चपेट में ले लिया है। जिले में दो लाख से अधिक लोग प्रभावित हैं। अरैल तटबंध मार्ग से कई गावों का संपर्क टूट गया है। गलियों में सीवर का पानी
भर गया जिससे दुर्गधों से लोगों का जीना मुहाल हो रहा है।
गंगा के किनारे के मोहल्ले दारागंज, बक्शी, छोटा बाघड़ा, बड़ा बाघड़ा, चांदपुर, सलोरी, ओम गायत्री नगर, रसूलाबाद, बेली, अशोक नगर, नेवादा, गंगानगर से हजारों लोग घर छोड़कर सुरक्षित स्थानों पर चले गये। यमुना किनारे के करैलाबाग, करेली, सादियापुर, गऊघाट, कलिकका मार्ग, एवं बाजुपुर में स्थित गंभीर है। बलुआ घाट स्थित बारादरी पर नाव चलने लगी है। एनडीआरएफ की टीमें घरों में फंसे लोगों को बाहर निकाल रही हैं। शहर के नौ बाढ़ राहत शिविरों में दो हजार से अधिक लोगों ने शरण लिया है।
किसानों की सैकड़ों एकड़ खड़ी फसल बाढ़ की भेंट चढ़ गयी। यमुना पार के महेवा, भटठा गांव, अरैल, गंजिया, देवरखा, मवैया के कछारी इलाकों में सैकडों बीघा जमीन पर फूलों के खेत पानी में डूब गये जिससे फूल मंडियों का
कारोबार ठप्प सा पड़ गया है। मण्डियों में फूलों की आवक कम हो गयी है। यहां 80 प्रतिशत गुला और 20 प्रतिशत गेंदा, सफेदा, सूरजमुखी और चमेली के फूल उगाये जाते हैं। बाढ़ के कारण 60-70 प्रतिशत गुलाब की खेती नष्ट हो
गयी है।
यहां के गुलाब की खुशबू प्रयागराज के अलावा पड़ोसी जिला प्रतापगढ़, मिर्जापुर, कौशांबी, वाराणसी और जौनपुर तक फैली है।
दिनेश त्यागी
वार्ता
More News
नौ शहरों में रूकेगा नदियों का प्रदूषण

नौ शहरों में रूकेगा नदियों का प्रदूषण

14 Oct 2019 | 1:07 PM

लखनऊ 14 अक्तूबर(वार्ता) प्रयागराज में महाकुंभ के दौरान गंगा नदी में जल प्रदूषण पर लगाम लगाने में सफल रही उत्तर प्रदेश सरकार अब नौ शहरों में नदियों में हो रहे प्रदूषण को रोकने का अभियान चलाने जा रही है।

see more..
योगी ने घायलों के इलाज के दिये  निर्देश

योगी ने घायलों के इलाज के दिये निर्देश

14 Oct 2019 | 12:26 PM

लखनऊ 14 अक्तूबर(वार्ता) मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को मऊ के मोहम्दाबाद कोतवाली क्षेत्र के वलीदपुर गांव में सुबह करीब आठ बजे रसोई गैस का सिलेंडर फटने से 12 लोगों की मौत पर गहरा शोक व्यक्त किया है।

see more..
मऊ में भीषण विस्फोट में दस मरे,15 घायल

मऊ में भीषण विस्फोट में दस मरे,15 घायल

14 Oct 2019 | 10:58 AM

मऊ ,14 अक्टूबर (वार्ता) उत्तर प्रदेश में मऊ जिले के मोहम्मदाबाद गोहना कोतवाली क्षेत्र में सोमवार को गैस सिलेण्डर फटने से दो मंजिला मकान भरभरा कर जमीदोज हो गया। इस हादसे में दो स्कूली बच्चों समेत दस लोगों की मृत्यु हो गई जबकि 15 घायल हो गये।

see more..
image