Wednesday, Apr 21 2021 | Time 06:58 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • रेमडेसिविर की कालाबाजारी करती नर्स समेत दो गिरफ्तार
  • देश में कोरोना के करीब तीन लाख नए मामले
  • केरल में कोरोना सक्रिय मामले 1 18 लाख के पार
भारत


बच्चों के विरुद्ध तीन हजार आपराधिक मामले पुलिस कर देती है बंद

बच्चों के विरुद्ध तीन हजार आपराधिक मामले पुलिस कर देती है बंद

नयी दिल्ली, 08 मार्च (वार्ता) देश में बच्चों के विरुद्ध प्रतिवर्ष तीन हजार मामलों में पुलिस कोई सबूत नहीं जुटा पाती है और अदालत पहुंचने से पहले ही ये बंद कर दिये जाते हैं।

अंतरराष्‍ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर कैलाश सत्‍यार्थी चिल्‍ड्रेन्‍स फाउंडेशन (केएससीएफ) के एक अध्ययन में यह खुलासा किया गया है। अध्ययन के अनुसार हर साल बच्चों के यौन शोषण के तकरीबन तीन हजार मामले निष्पक्ष सुनवाई के लिए अदालत तक पहुंच ही नहीं पाते, क्योंकि पुलिस पर्याप्‍त सबूत और सुराग नहीं मिलने के कारण इन मामलों की जांच को अदालत में आरोप पत्र दायर करने से पहले ही बंद कर देती है। इसमें 99 फीसदी मामले बच्चियों के यौन शोषण के ही होते हैं।

अध्ययन में कहा गया है कि हर दिन यौन शोषण के शिकार चार बच्‍चों को न्याय से इसलिए वंचित कर दिया जाता है कि क्योंकि पुलिस पर्याप्‍त सबूत और सुराग नहीं मिलने के कारण इन मामलों की जांच को अदालत में आरोपपत्र दायर करने से पहले ही बंद कर देती है। बच्चों के यौन शोषण के खिलाफ ‘प्रिवेन्शन ऑफ चिल्ड्रेन फ्रॉम सेक्सुअल ऑफेन्सेस एक्ट (पॉक्सो) के तहत मामला दर्ज किया जाता है। राष्ट्रीय अपराध रिकार्ड ब्यूरो की साल 2019 की रिपोर्ट बताती है कि बच्चों के खिलाफ होने वाले अपराधों में उनके यौन शोषण के खिलाफ मामलों की हिस्सेदारी 32 फीसदी है। इसमें भी 99 फीसदी मामले लड़कियों के यौन शोषण के मामले होते हैं।

फाउंडेशन ने अंतरराष्‍ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर “पुलिस केस डिस्‍पोजल पैटर्न: एन इन्‍क्‍वायरी इनटू द केसेस फाइल्‍ड अंडर पॉक्‍सो एक्‍ट 2012’’ और “स्टेट्स ऑफ पॉक्सो केस इन इंडिया” नामक दो अध्ययन रिपोर्ट तैयार की है। यह अध्‍ययन रिपोर्ट साल 2017-2019 के बीच पॉक्‍सो मामलों के पुलिस निपटान का विश्लेषण है। रिपोर्ट में पिछले कुछ सालों के तुलनात्मक अध्ययन से पता चलता है कि आरोपपत्र दाखिल किए बिना जांच के बाद पुलिस के बंद किए गए मामलों की संख्या में वृद्धि हुई है। पॉक्सो कानून के मुताबिक बच्चों के यौन शोषण से जुड़े मामले की जांच से लेकर अदालती प्रकिया एक साल में खत्म हो जानी चाहिए। यानी एक साल के भीतर ही पीड़ित को न्याय मिल जाना चाहिए। रिपोर्ट बताती है कि सजा की यह दर केवल 34 फीसदी है। इसकी वजह से अदालतों पर पॉक्सों के मामलों का बोझ लगातार बढ़ता जा रहा है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि सरकार ने बच्चों के यौन शोषण के मामले में अतिशीघ्र सुनवाई कर त्वरित गति से न्याय दिलाने के लिए 2018 में त्वरित न्यायालय बनाने की घोषणा की थी लेकिन अभी तक इसे अमलीजामा नहीं पहनाया गया। आकड़े बताते हैं कि साल 2017 में पॉक्‍सो के तहत 32,608 मामले दर्ज किए गए जो 2018 में बढ़कर 39,827 हो गए। यह वृद्धि करीब 22 फीसदी थी जबकि 2019 में यह संख्या बढ़कर 47,335 हो गई। साल 2018 के मुकाबले इसकी तुलना की जाए तो साल 2019 में पिछले के मुकाबले बच्चों के यौन शोषण के मामलों में 19 फीसदी की बढोत्तरी देखने को मिली।

सत्या.श्रवण

वार्ता

More News
दिल्ली में कोरोना के 28000 से अधिक नये मामले, 277 की मौत

दिल्ली में कोरोना के 28000 से अधिक नये मामले, 277 की मौत

20 Apr 2021 | 11:20 PM

नयी दिल्ली 20 अप्रैल (वार्ता) राजधानी दिल्ली में पिछले 24 घंटे के दौरान भी कोरोना वायरस के मामलों में भारी वृद्धि जारी रही और इस दौरान 28,000 से अधिक नये मामले सामने आये तथा 277 और मरीजों की मौत हुई जबकि सक्रिय मामले 8,600 से अधिक और बढ़कर 85,000 के पार पहुंच गये।

see more..
जमानत पर फैसला करते वक्त कारण बताना अनिवार्य : सुप्रीम कोर्ट

जमानत पर फैसला करते वक्त कारण बताना अनिवार्य : सुप्रीम कोर्ट

20 Apr 2021 | 11:03 PM

नयी दिल्ली 20 अप्रैल (वार्ता) उच्चतम न्यायालय ने पांच व्यक्तियों की हत्या के मामले के छह आरोपियों को गुजरात उच्च न्यायालय द्वारा जमानत दिये जाने के आदेश को पलटते हुए मंगलवार को कहा कि जमानत पर फैसला करते वक्त अदालत कारण बताने के अपने कर्तव्य से विमुख नहीं हो सकती।

see more..
पलायन नहीं करें प्रवासी मजदूर :मोदी

पलायन नहीं करें प्रवासी मजदूर :मोदी

20 Apr 2021 | 10:57 PM

नयी दिल्ली 20 अप्रैल ( वार्ता ) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रवासी मजदूरों से शहरों से पलायन नहीं करने की अपील करते हुए मंगलवार को कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को कोरोना महामारी से बचने का टीका दिया जाएगा।

see more..
रेमडेसिविर का आयात शुल्क मुक्त

रेमडेसिविर का आयात शुल्क मुक्त

20 Apr 2021 | 10:55 PM

सरकार ने कोरोना पीडितों के इलाज में इस्तेमाल होने वाली दवाई रेमडेसिविर का आयात शुल्क खत्म कर दिया है।

see more..
रेमडेसिविर हुआ आयात शुल्क मुक्त

रेमडेसिविर हुआ आयात शुल्क मुक्त

20 Apr 2021 | 10:47 PM

नयी दिल्ली 20 अप्रैल ( वार्ता ) सरकार ने कोरोना पीडितों के इलाज में इस्तेमाल होने वाली दवाई रेमडेसिविर का आयात शुल्क खत्म कर दिया है।

see more..
image