Friday, Jul 10 2020 | Time 15:49 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • येदियुरप्पा आवासीय कार्यालय में ही सीमित
  • स्वास्थ्य विभाग ने शुरू की कोरोना हेल्पलाइन
  • भागलपुर में आठ किसान सलाहकार बर्खास्त, चार निलंबित
  • पहले टेस्ट में सोशल डिस्टेंसिंग का नहीं हो रहा है पालन
  • पहले टेस्ट में सोशल डिस्टेंसिंग का नहीं हो रहा है पालन
  • फोटो कैप्शन पहला सेट
  • कर्नाटक के कोडागु में कोरोना के नौ नये मामले, संक्रमितों की संख्या 131 हुई
  • डब्ल्यूएचओ ने रूस के हेल्थ केयर सिस्टम को सराहा
  • कोविड-19 के कारण स्वास्थ्य क्षेत्र में हो सकता है व्यापक सुधार
  • कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले चिंता की वजह नहीं: हर्षवर्धन
  • अहमदाबाद में एक कंपनी में लगी आग
  • औरंगाबाद में कोरोना संक्रमण के 160 नये मामले, कुल 7832 संक्रमित
  • अब कॉलेज के पाठ्यक्रम में शामिल होगा क्लाउड कंप्यूटिंग
  • हथिनी मौत मामला : केंद्र, 13 राज्यों को सुप्रीम कोर्ट का नोटिस
  • भारत और दक्षिण कोरिया रक्षा क्षेत्र में संबंधों को और मजबूत बनायेंगे
राज्य » उत्तर प्रदेश


बागपत के मलपुर गांव में उत्पीड़न के खिलाफ ग्रामीणों ने दी पलायन की धमकी

बागपत, 22 अक्टूबर (वार्ता) उत्तर प्रदेश में बागपत जिले के मलकपुर गांव में कुछ दबंगों के उत्पीड़न के चलते 100 से अधिक परिवारों ने गांव से पलायन की धमकी दी है।
ग्राम प्रधान, पंचायत सचिव एवं प्रशासन के खिलाफ ग्रामीणों ने तहसील में धरना देकर मंगलवार को प्रदर्शन भी किया। ग्रामीणों के इस फैसले से प्रशासन में भी हड़कंप मचा है।
मलकपुर गांव के शौकेन्द्र, धर्मेंद्र, फौजी आदि लोगो के अनुसार, गांव से 100 से अधिक परिवार गांव को छोड़कर जाना चाहते है। इतना ही नही ग्रामीणों ने गांव में अपने घरों के बाहर “यह मकान बिकाऊ है” और पलायन, के पोस्टर लगा दिए है। ग्रामीणों ने गांव से जाने की तैयारी कर ली है। दरअसल, बड़ौत क्षेत्र के मलकपुर गांव के वर्तमान ग्राम प्रधान कृष्णपाल तोमर है। उनके बड़े भाई एशियन चैंपियन सुभाष तोमर है।
पीड़ित ग्रामीणों का आरोप है कि उन्होंने गांव में हो रहे विकास कार्यो की आरटीआई के तहत जानकारी मांगी थी। जिसके बाद जांच हुई और लगभग दो करोड़ रुपये का कार्य हुआ ही नहीं पाया गया। जिनके बिल निकलवाकर ग्रामीण जिलाधिकारी से मिले थे लेकिन ग्रामीणों का आरोप है कि जांच तो बैठी नहीं, बल्कि इसके विपरीत ग्राम प्रधान और सेकेट्री ने मिलकर षडयंत्र के तहत सिर फोड़कर गांव के नौ लोगो के विरुद्ध मुकदमा दर्ज करा दिया और अब फैसला न करने के बदले पुलिस ग्राम प्रधान से मिलकर फैसला करने का दवाब बनाने की बात कह रही है। ग्रामीणों का आरोप है कि ग्राम प्रधान अपने भाई को बागपत लोकसभा से सांसद डॉ सत्यपाल सिंह के साथ रहने की धमकी देकर फैसले का दबाव बना रहा है।
इस बीच जिलाधिकारी शकुंतला गौतम का कहना है कि गांव के कुछ लोगों ने गांव में विकास कार्य न होने की शिकायत की थी, जिसकी जांच के लिए तीन सदस्यीय जांच टीम का गठन किया गया है। जांच के बाद आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
सं त्यागी
वार्ता
More News
विशेष स्वच्छता अभियान के दौरान घर घर जाकर किये जाय रैपिड एन्टीजन टेस्ट: योगी

विशेष स्वच्छता अभियान के दौरान घर घर जाकर किये जाय रैपिड एन्टीजन टेस्ट: योगी

10 Jul 2020 | 3:42 PM

लखनऊ, 10 जुलाई(वार्ता) उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विशेष स्वच्छता अभियान के दौरान पूरे राज्य में घर-घर जाकर सर्विलांस करते हुए रैपिड एन्टीजन टेस्ट कराने के निर्देश दिए हैं।

see more..
image