Thursday, Feb 20 2020 | Time 16:22 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • जालंधर जिले में रासायनिक खादों के प्रयोग में कमी दर्ज की गई:डॉ नाजर
  • सोना 325 रुपये टूटा, चांदी 420 रुपये उछली
  • सिखों का नेपाल से है सदियों पुराना नाता:राजा ज्ञानेन्द्र
  • सुरेन्द्रनगर में मिल में लगी आग, कोई हताहत नहीं
  • शिक्षकों पर कुठाराघात कर रही नीतीश सरकार : कांग्रेस
  • पूसा किसान मेला में किसानों के भी स्वास्थ्य की जांच होगी
  • एशियाई हाथी, गोडावण विलुप्त हो रही प्रजातियों की सूची में शामिल होंगे
  • जमशेदपुर को हरा गोवा ने एएफसी चैंपियंस लीग के ग्रुप चरण में किया प्रवेश
  • निर्भया कांड के दोषी विनय ने गंभीर मानसिक रोगी बता कर दायर की याचिका
  • महिला विश्व कप में विजयी शुरुआत करने उतरेगा भारत
  • मोदी ने मिजोरम, अरुणाचल प्रदेश के स्‍थापना दिवस पर बधाई दी
  • बस हादसे में मारे गये यात्रियों की मौत पर मोदी ने जताया शोक
  • ट्राईसाईक्लाजोल और बूप्रोफेजिन पर रोक के फैसले को वापस ले सरकार: एसीएफआई
  • हर घर में शुद्ध पेेयजल पहुंचाया जायेगा
भारत


बाढ़ से मरने वालों की संख्या 301 हुई, 47 लापता

बाढ़ से मरने वालों की संख्या 301 हुई, 47 लापता

नयी दिल्ली, 19 अगस्त (वार्ता) हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड समेत पूरे उत्तर भारत में हुए भारी बारिश और बादल फटने के कारण 32 लोगों की मौत के साथ ही देश के विभिन्न हिस्सों में बारिश, बाढ़ एवं भूस्खलन की घटनाओं में मरने वालों की संख्या 301 तक पहुंच गयी है जबकि 47 अन्य लापता हैं।

पिछले 48 घंटे के दौरान हिमाचल और उत्तराखंड में भारी बारिश और बादल फटने के कारण आये बाढ़ और भूस्खलन की चपेट में आकर 34 लोगों की मौत हो गयी। हिमाचल में 18 लोगों तथा उत्तराखंड मेें 14 लाेगों की मौत हाे गयी जबकि पांच अन्य लापता हैं।

देश के विभिन्न राज्यों में बाढ़ की स्थिति में अब तेजी से सुधार हो रहा है और सेना विभिन्न एजेंसियों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर राहत एवं बचाव कार्याें में जुटी हुई है।

बारिश, बाढ़ एवं भूस्खलन के कारण विभिन्न राज्यों में कई लाख लोग प्रभावित हुये हैं और अधिकतर लोगों को राहत शिविरों में विस्थापितों के समान जिंदगी व्यतीत करनी पड़ रही है, लेकिन पानी घटने पर लोग राहत शिविरों से अपने-अपने घर लौटने लगे हैं।

केरल और कर्नाटक के कुछ हिस्सों में बाढ़ और भूस्खलन के कारण सबसे अधिक नुकसान हुआ है। केरल में अब तक 115, कर्नाटक में 62, गुजरात में 35, महाराष्ट्र में 30, उत्तराखंड और ओडिशा में आठ-आठ तथा हिमाचल प्रदेश में दो तथा आंध्र प्रदेश में नाव डूबने से एक लड़की की मौत हो चुकी है। इसके अलावा पश्चिम बंगाल में भारी बारिश के बीच बिजली गिरने से कम से कम आठ लोगों जान गयी है।

उत्तराखंड, केरल और कर्नाटक में भारी बारिश एवं बाढ़ के कारण हुए भूस्खलन की घटनाओं के बाद से 47 लोग अब भी लापता हैं। उत्तराखंड में पांच लोग लापता हैं जबकि केरल में 27 लोगों के मलबे में दबे होने की आशंका है, वहीं कर्नाटक में 15 लोग लापता हैं।

संजय.श्रवण

वार्ता

More News
फसल बीमा प्रीमियम कटौती किसान के पेट पर लात : कांग्रेस

फसल बीमा प्रीमियम कटौती किसान के पेट पर लात : कांग्रेस

20 Feb 2020 | 4:03 PM

नयी दिल्ली, 20 फरवरी (वार्ता) कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि सरकार ने किसान के लिए फसल बीमा योजना के तहत प्रीमियम राशि दो प्रतिशत से बढ़ाकर 27 फीसदी करने का निर्णय कर देश के अन्नदाता के पेट पर लात मारी है और किसान को उसके रहमोकरम पर छोड़ दिया है।

see more..
image