Sunday, Jul 5 2020 | Time 16:23 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • पिता-पुत्र मौत मामले में गिरफ्तार पुलिसकर्मियों को मदुरै जेल में भेजा गया
  • ऑस्ट्रेलिया के वित्त मंत्री ने राजनीति छोड़ने का किया एलान
  • बायर्न म्यूनिख ने 20वीं बार जीता जर्मन कप
  • बाराबंकी में सात और कोरोना संक्रमित,संख्या बढ़कर 319 पहुंची
  • नाइजीरियाई वायुसेना की कार्रवाई में बोको हरम के कई आतंकवादी ढेर
  • त्रिपुरा में लॉकडाउन से रविवार को जनजीवन ठप
  • इंडोनेशिया में कोरोना संक्रमण के 1607 नये मामले
  • दक्षिण कश्मीर में आईईडी को निष्क्रिय किया गया
  • योगी ने मंदिर में गुरू अवैधनाथ की पूजा की
  • बरोदा उप-चुनाव में भाजपा-जजपा का साझा उम्मीदवार होगा : दुष्यंत चौटाला
  • येदियुरप्पा ने की पूर्णबंदी की निगरानी गृह कार्यालय से
  • पूर्वी चंपारण में जेल में बंद कैदी की इलाज के दौरान मौत
  • कोसी नदी के तेज बहाव में तीन महिलाओं के बहने से मौत
  • टिकटॉक के समर्थन वाली पोस्ट मैंने नहीं लगाई : सोनाली फोगाट
  • पंद्रहवें वित्त आयोग की आगामी बैठकें और वार्ताएं जियोमीट ऐप पर: सिंह
भारत


ब्रिक्स देशों में आगे बढ़ने की असीमित क्षमता: मधुकर

ब्रिक्स देशों में आगे बढ़ने की असीमित क्षमता: मधुकर

नयी दिल्ली 19 नवंबर (वार्ता) ब्रिक्स चैंबर ऑफ कामर्स एंड इंडस्ट्री के महानिदेशक बी बी एल मधुकर ने कहा है कि ब्रिक्स देशों में आगे बढ़ने की ताकत और इनकी क्षमता असीमित है।

श्री मधुकर ने हाल ही संपन्न ब्रिक्स शिखर सम्मेलन के बाद यहां कहा कि इस बैठक में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने न:न सिर्फ आतंकवाद के मुद्दे को जोर से उठाया है बल्कि उन्होंने फिट इंडिया मूवमेंट और जल संरक्षण के मुद्दे को भी उठाया। उन्होंने कहा कि आतंकवाद से अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचता है और इसके मद्देनजर श्री मोदी ने ब्रिक्स के मंच पर इस मुद्दे को उठाकर सभी सदस्य देशों से इससे निपटने में सहयोग की अपील की है।

उन्होंने कहा कि फिट इंडिया मूवमेंट और जल संरक्षण दोनों पर भारत में जोर शोर से काम हो रहा है और श्री मोदी ने इन दोनों मुद्दे को उठाकर सदस्य देशों से इस पर गौर करने की अपील की है। अभी पीने के पानी की बहुत बड़ी समस्या है। इसके मद्देनजर सभी देशों को इस पर ध्यान देने की जरूरत है।

उन्होंने कहा कि ब्रिक्स देशों के सभी सदस्य देशों ब्राजील, भारत, रूस, दक्षिण अफ्रीका और चीन में अपार संभावनायें हैं। इन देशों का तटीय क्षेत्र बहुत बड़ा है और ये इनका लाभ उठाने का अवसर मिलता है लेकिन इसकी चुनौतियां भी है। चीन दुनिया का सबसे बड़ा विनिर्माता देश है। इसी तरह से भारत प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में अव्वल है और अभी विनिर्माण की ओर तेजी से बढ़ रहा है। ब्राजील कृषि के क्षेत्र में बहुत आगे है। यदि सभी सदस्य देश आपस में मिलकर एक साथ अर्थव्यवस्था को आगे बढ़ाये तो यह दुनिया में तेजी से आगे बढ़ेंगे।

श्री मधुकर ने कहा कि ब्रिक्स देशों को आपसी व्यवस्था को गति देने के लिए एक मुद्रा पर विचार करना चाहिए। जिस तरह से यूरोप के देशों ने यूरो को अपनाया है उसी तरह से ब्रिक्स देशों को एक मुद्रा अपनाने पर गंभीरता से विचार करना चाहिए।

शेखर

वार्ता

More News
देश में चार लाख से अधिक मरीज कोरोना संक्रमण मुक्त;रिकवरी दर 60.77 प्रतिशत

देश में चार लाख से अधिक मरीज कोरोना संक्रमण मुक्त;रिकवरी दर 60.77 प्रतिशत

05 Jul 2020 | 3:26 PM

नयी दिल्ली 05 जुलाई (वार्ता) देश में कोरोना वायरस कोविड-19 संक्रमण से मुक्त होने वाले मरीजों की संख्या अब चार लाख के पार पहुंच गयी है, जिससे रिकवरी दर 60.77 प्रतिशत हो गयी है।

see more..
पुलिसकर्मियों की शहादत योगी सरकार की विफलता का परिणाम

पुलिसकर्मियों की शहादत योगी सरकार की विफलता का परिणाम

05 Jul 2020 | 3:08 PM

नयी दिल्ली, 05 जुलाई (वार्ता )बहुजन समाज पार्टी के सांसद कुंवर दानिश अली ने कहा है कि उत्तर प्रदेश की योगी सरकार की विफलता के कारण कानपुर में आठ पुलिसकर्मियों को शहादत देनी पड़ी है।

see more..
कोरोना वैक्सीन लांच पर आईसीएमआर ने दी सफाई

कोरोना वैक्सीन लांच पर आईसीएमआर ने दी सफाई

05 Jul 2020 | 2:56 PM

नयी दिल्ली 05 जुलाई (वार्ता) देश के 12 अस्पतालों के प्रमुखों को 15 अगस्त तक कोरोना वायरस कोविड-19 वैक्सीन टीका लांच करने संबंधित पत्र पर भारतीय चिकित्सा अनुसंधान केंद्र (आईसीएमआर) ने अपनी सफाई देते हुए कहा है कि उसने पूरी प्रक्रिया को लालफीताशाही से बचाने के लिए ऐसा लिखा था।

see more..
image