Monday, Jan 27 2020 | Time 10:54 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • गंगा को स्वच्छ बनाने के लिए सरकारी योजनाओं के क्रियान्वयन की होगी समीक्षा :अग्रवाल
  • गया में वृद्ध की पीट-पीट कर हत्या
  • अमेरिका में कोरोनावायरस के पांच मामले सामने आये
  • चीन से सारण आयी लड़की को कोरोना वायरस की आशंका
  • चीन में कोरोना वायरस से 24 और लोगों की मौत, 769 नये मामलों की पुष्टि
  • इराक में अमेरिकी दूतावास पर मिसाइल हमले के बाद अमेरिका सतर्क
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 28 जनवरी)
  • चीन में कोरोना वायरस के प्रकोप से 80 लोगों की मौत
  • हेलीकॉप्टर हादसे में पूर्व बास्केटबॉल दिग्गज कोबी ब्रयांट की मौत
  • हेलीकॉप्टर हादसे में पूर्व बास्केटबॉल दिग्गज कोबी ब्रयांट की मौत
  • हेलीकॉप्टर हादसे में पूर्व बास्केटबॉल दिग्गज कोबी ब्रयांट की मौत
  • title="हेलिकॉप्टर हादसे में पूर्व बास्केटबॉल दिग्गज कोबी ब्रायंट और बेटी गियाना समेत नौ की मौत">हेलीकॉप्टर हादसे में बास्केटबॉल दिग्गज कोबी ब्रायंट की मौत
  • चीन में कोरोना वायरस के प्रकोप से 80 लोगों की मौत
  • ब्राजील में भारी बारिश से 37 की मौत, कई लापता
  • वुहान शहर में कोरोना वायरस के कई नए मामलों की आशंका
राज्य » अन्य राज्य » HDIE


भाजपा 303 पर विजयी, कांग्रेस को इस बार भी नहीं मिलेगा विपक्ष के नेता का पद

नयी दिल्ली 24 मई (वार्ता) लोकसभा की 542 सीटों पर हुये चुनाव की मतगणना पूरी हो गयी है और चुनाव आयोग ने सभी सीटों के परिणामों की आधिकारिक घोषणा कर दी है। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) 303 सीट जीतकर प्रचंड बहुमत के साथ 17वीं लोकसभा में पहुँची है।
भाजपा की 303 सीट समेत उसके नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन को कुल 352 सीटें मिली हैं।
भाजपा के बाद कांग्रेस 52 सीट जीतकर दूसरी सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी है, लेकिन लगातार दूसरी बार वह सदन में विपक्ष के नेता का पद हासिल करने से चूक गयी। इससे पहले 2014 के चुनाव में उसे 44 सीटें मिली थीं और सदन में किसी को भी विपक्ष के नेता का दर्जा नहीं दिया गया था। नियमों के अनुसार, विपक्ष के नेता का पद हासिल करने के लिए पार्टी के पास सदन में कम से कम 10 प्रतिशत सदस्य होना जरूरी होता है।
द्रविड़ मुनेत्र कषगम् को 23, तृणमूल कांग्रेस और वाईएसआर कांग्रेस को 22-22, शिवसेना को 18, जनता दल (यूनाइटेड) को 16, बीजू जनता दल को 12 और बहुजन समाज पार्टी को 10 सीटें मिली हैं। अन्य कोई भी दल दहाई अंक के आँकड़े को भी नहीं छू सका।
तेलंगाना राष्ट्र समिति के खाते में नौ सीटें आयीं। लोक जन शक्ति पार्टी को छह, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी और समाजवादी पार्टी को पाँच-पाँच, तेलुगू देशम पार्टी, मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी, इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग और नेशनल काॅन्फ्रेंस को तीन-तीन, शिरोमणि अकाली दल, एआईएमआईएम, अपना दल (सोनेलाल) और भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी को दो-दो तथा आम आदमी पार्टी, आजसु पार्टी, अन्‍नाद्रमुक, एआईयूडीएफ, जनता दल (सेक्युलर), झारखण्ड मुक्ति मोर्चा, केरल कांग्रेस (एम), मिजो नेशनल फ्रंट, नागालैंड पीपुल्स फ्रंट, नेशनल पीपुल्‍स पार्टी, नेशनलिस्ट डेमोक्रेटिक प्रोग्रेसिव पार्टी, राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी, रिवॉल्यूशनरी सोशलिस्ट पार्टी, सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा और विदुथलाई चिरूथईगल काच्ची को एक-एक सीट पर जीत मिली है। अन्य चार सीट निर्दलीय के खाते में गयी हैं।
अजीत सत्या
वार्ता
image