Wednesday, Jan 27 2021 | Time 09:14 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • अमेरिकी सीनेट ने ट्रम्प पर महाभियोग को रोकने वाले प्रस्ताव को किया खारिज
  • अमेरिका में कोविड-19 से 4 24 लाख से अधिक लोगों की मौत
  • चीन में कोरोना संक्रमण के 20 नये मामले
  • विश्व में कोरोना संक्रमितों की संख्या 10 करोड़ के पार
  • अमेरिका में गर्मी के मौसम तक 30 करोड़ लोगों को दी जायेगी कोरोना वैक्सीन
  • बिडेन और पुतिन ने की कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा
  • जी-7 समूह के सदस्य देशों ने किया नवेलनी की गिरफ्तारी का विरोध
  • सनी देयोल ने दीप सिद्धू से खुद को किया अलग
राज्य » उत्तर प्रदेश


भारतीय समाज में उर्दू का योगदान महत्वपूर्ण: रजा मुराद

भारतीय समाज में उर्दू का योगदान महत्वपूर्ण: रजा मुराद

लखनऊ 27 नवम्बर (वार्ता) बालीवुड अभिनेता रजा मुराद ने कहा कि उर्दू ने भारतीय समाज को बहुत कुछ दिया है और उसके योगदान को नकारा नहीं जा सकता।

उत्तर प्रदेश उर्दू अकादमी में जश्ने उर्दू के उद्घाटन के अवसर पर रजा मुराद ने कहा कि बॉलीवुड हिन्दी फिल्मों के रूप में प्रचलित अधिकांश फिल्मों की भाषा हिंदुस्तानी भाषा या बोलचाल की हिन्दी है। मुगले आज़म, पाकीज़ा, निकाह, रज़िया सुल्तान जैसी अनेक फिल्मों में उर्दू का इस्तेमाल हुआ है। इसी तरह बालीबुड फिल्मों को कैफी, शकील बदायुंनी, साहिर, मजरूह जैसे शायरों ने लोकप्रियता के शिखर पर पहुंचाया है।

उर्दू विषय पर आयोजित सेमिनार में प्रख्यात अभिनेता रज़ा मुराद और शाहबाज़ खान के साथ लेखक एसके प्रसाद उपस्थित थे। इसकी सदारत अब्दुल नसीर नासिर ने की। दो दिवसीय जश्ने उर्दू उर्दू अकादमी सभागार में शुरू हुआ। समारोह के दूसरे दिन यहां उर्दू रंगमंच, उर्दू शिक्षा, उर्दू संस्कृति के संग मुशायरे दास्तानगोई के सत्र चलेंगे।

फिल्मों पर केन्द्रित पहले सत्र के बाद आज का दूसरा सत्र एसएन लाल के संयोजन में उर्दू पत्रकारिता पर था। यहां वक्ताओं ने कहा कि उर्दू के भविष्य को लेकर जहां लोग फिक्रमंद हैं, वहीं ऐसे लोगों की भी कमी नहीं है, जो उर्दू का भविष्य रौशन मानते हैं। फिल्में हों या टीवी धारावाहिक सब जगह उर्दू की जरूरत है। इसलिए यही कहा जा सकता है कि उर्दू पत्रकारिता का भविष्य रौशन है, मगर सवाल इस बात का है कि जिनके हाथ में यह भविष्य है, वह रौशन जेहन के संग कलम के धनी हैं कि नहीं।

उर्दू मीडिया के उजले पक्ष को देखा जाए, तो यह पीत पत्रकारिता से काफी हद तक दूर है। केंद्र सरकार और कुछ अन्य मीडिया समूह उर्दू चैनल्स लाए हैं। उर्दू अखबारों की वेबसाइटें और ई-संस्करण इत्यादि भी खासे हैं। अनेक अखबारों ने उर्दू के लिए हिंदी की देवनागरी लिपि भी अपनाई है। इन सबसे तो यही संकेत मिलता है कि उर्दू पत्रकारिता के लिए माहौल पहले से सुधरा और प्रतिस्पर्धा भरा है। उर्दू सहाफत के ऐतिहासिक सामाजिक पक्ष को समेटे इस सत्र में हिसाम सिद्दीक़ी,ए.वी.सिंह, अफीफ सिराज व फैजान मुसन्ना इत्यादि शामिल हुए।

उर्दू राजनीति पर हुए तीसरे सत्र में मुर्तुज अली, मोहम्मद अली, दीपक रंजन ने विचार रखते हुए उर्दू की प्रासंगिकता बताई। इसी क्रम में नवाब जाफर मीर अब्दुल्लाह, अतहर नबी और मोहसिन खान ने उर्दू के गद्य-पद्य रचनाकारों व उनकी रचनाओं का हवाले से उर्दू को एक समृद्ध भाषा बताया। आज कर्नल जाहिद की पुस्तक का विमोचन भी किया गया। इस अवसर पर मुशायरे के संग ही अर्जुन और जमाल ने संगीत की मधुर महफिल भी सजाई गयी।

महाभारत मे अर्जुन बने फिरोज खान ने मो.रफी के मैं कहीं कवि न बन जाऊ... आजा-आजा मै हूं प्यार तेरा..., जमाल ने पग घुगरू बांध मीरा नाची थी... मेरे महबूब कयामत होगी...जबकि ईशा खान नें सौ साल पहले... रात के हमसफर... सहित अन्य गीतो को गाकर समां बांधा। समारोह में आये मेहमानों को संस्था के सचिव वाॅमिक खान व अध्यक्ष संजय सिंह ने स्मृति चिह्न देकर सम्मानित भी किया।

प्रदीप

वार्ता

More News
अधिकारों के साथ कर्तव्य बोध भी कराता है संविधान : योगी

अधिकारों के साथ कर्तव्य बोध भी कराता है संविधान : योगी

26 Jan 2021 | 11:53 PM

लखनऊ 26 जनवरी,(वार्ता) उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को कहा कि संविधान के प्रति श्रद्धा और सम्मान का भाव प्रत्येक व्यक्ति का दायित्व है। संविधान अधिकारों के साथ-साथ अपने उन कर्तव्यों के प्रति भी जागरूक करता है, जो एक नागरिक के रूप में देश के प्रति आवश्यक हैं।

see more..
नागरिकों के संविधान प्रदत्त अधिकार छीनने की साजिश: अखिलेश

नागरिकों के संविधान प्रदत्त अधिकार छीनने की साजिश: अखिलेश

26 Jan 2021 | 10:49 PM

लखनऊ 26 जनवरी (वार्ता) किसान आंदोलन को बदनाम करने का आरोप लगाते हुये समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि नागरिकों के संविधान प्रदत्त अधिकार छीनने की साजिशें हो रही हैं।

see more..
आनंदीबेन ने राजभवन में तिरंगा फहराया

आनंदीबेन ने राजभवन में तिरंगा फहराया

26 Jan 2021 | 10:33 PM

लखनऊ 26 जनवरी (वार्ता) उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने 72वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर राजभवन में ध्वजारोहण किया तथा राजभवन के अधिकारियों, कर्मचारियों एवं सुरक्षाकर्मियों को शुभकामनाएं दी।

see more..
image