Wednesday, Aug 21 2019 | Time 19:49 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • रविदास मंदिर मामले में पुनर्विचार याचिका दायर करे सरकार: हुड्डा
  • आयुध फैक्ट्रियों के कामकाज को लेकर लंबे समय से उठ रहे थे सवाल
  • बलरामपुर में बिजली गिरने से किशोर की मृत्यु,दो बच्चे झुलसे
  • ईडी के समक्ष कल पेश होंगे राज ठाकरे
  • उत्तरकाशी में तहसीलदार को रिश्वत लेते किया गिरफ्तार
  • जालौन: बलात्कार पीडिता ने किया आत्मदाह का प्रयास
  • सारण में पुलिसकर्मियों की हत्या के दोषी को बख्शा नहीं जाएगा : डीजीपी
  • पटना व्यवहार न्यायालय को कल मिलेगी नये आठ मंजिले भवन की सौगात
  • मुलायम ने बाबूलाल गौर के निधन पर किया शोक व्यक्त
  • एके 47 बरामदगी मामले में एक को जमानत दूसरे की खारिज
  • बीएमडब्ल्यू ने लाँच की नयी 3 सीरीज, कीमत 47 90 लाख रुपये तक
  • नई शिक्षा नीति को लेकर दो लाख सुझाव मिले: निशंक
  • गंभीर बीमार बच्चे की अंतिम इच्छा पूरी करने के लिए गुजरात पुलिस ने बनाया सांकेतिक पुलिस इंस्पेक्टर
  • चैंपियन मणिपुर ने पश्चिम बंगाल स्कूल को हराया
  • दिसंबर से टोल प्लाजा पर वाहनों का फास्टैग अनिवार्य होगा
बिजनेस


मदर डेयरी 40 रुपये किलो मिलेगा टमाटर

नयी दिल्ली 19 जुलाई (वार्ता) राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में रसोईघर की शान माने जाने वाले टमाटर के मूल्य पर नियंत्रण कें लिए सरकार ने मदर डेयरी को गुणवत्तापूर्ण टमाटर 40 रुपये प्रति किलो की दर से उपभोक्ताओं को उपलब्ध कराने के निर्देश दिये हैं।
अंतर मंत्रालय समिति की उच्च स्तरीय बैठक के बाद मदर डेयरी की फल एवं सब्जी इकाइयों पर टमाटर 40 रुपये प्रति किलों की दर से उपलब्ध कराने को कहा गया । बैठक की अध्यक्षता उपभोक्ता मामले विभाग के सचिव अविनाश कुमार श्रीवास्तव ने की । बैठक में टमाटर की उपलब्धता तथा उसके मूल्य की समीक्षा की गयी ।
बैठक में मदर डेयरी से बाजार में टमाटर की उपलब्धता बढाने को कहा गया ताकि लोगों को यह आसानी से उपलब्ध हो सके ।
दिल्ली सरकार के खाद्य एवं आपूर्ति विभाग को ऐसी सुविधाएं उपलब्ध कराने कों कहा गया है जिससे बाजार में टमाटर की उपलब्धता बढे जिससे इसके बढ रहे मूल्य पर नियंत्रण हो।
बागवानी विभाग का मानना है कि मूल्य में वृद्धि कुछ समय के लिए है और जल्दी ही इसकी आपूर्ति बढ जायेगी। वर्षा के कारण बाजार में टमाटर की आपूर्ति बाधित हुयी है।
उल्लेखनीय है कि राष्ट्रीय राजधानी के कुछ अतिमहत्वपूर्ण इलाकों में टमाटर का मूल्य 100 रुपये प्रति किलो तक पहुंच गया था। कॉलोनियों में भी इसका मूल्य 60 से 70 रुपये प्रति किलो हो गया था।
शेखर
वार्ता
image