Tuesday, Jan 28 2020 | Time 15:00 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • दिल्ली में शिक्षा के क्षेत्र में आयी क्रांति:केजरीवाल
  • सुस्ती के बीच बजट से राहत की बड़ी उम्मीद
  • हमारे पास कोरोना वायरस से निपटने के सभी संसाधन मौजूद: चीन
  • खनन कर्मियों की सुरक्षा शीर्ष प्राथमिकता: गंगवार
  • गंगा यात्रा से सांस्कृतिक,आध्यात्मिक केंद्रों का होगा जीर्णोद्धार : दिनेश शर्मा
  • मुख्यमंत्री पद जाने के बाद से अवसाद में हैं अखिलेश: मौर्य
  • राजकोट-कोयम्बटूर एक्सप्रेस दो फरवरी को रद्द रहेगी
  • सुपर-सब बलवंत ने एटीके को शीर्ष पर पहुंचाया
  • अहमदाबाद, राजकोट, वडोदरा की ट्रेनों में बढ़ेंगे कोच
  • पुणे ने रोमांचक मैच में बेंगलुरू को दी मात
  • मेघालय सरकार ने कोरोना वायरस को लेकर अलर्ट जारी किया
  • नीतीश ने पूर्व मंत्री एवं विधायक अब्दुल गफूर के निधन पर जताया शोक, राजकीय सम्मान के साथ होगा अंतिम संस्कार
  • बिहार के पूर्व मंत्री एवं राजद विधायक अब्दुल गफूर का निधन
  • कुप्रबंधन से बढी आर्थिक बदहाली का बजट में जवाब दे सरकार: कांग्रेस
भारत


मोदी ने अरुण शौरी का हालचाल जाना

मोदी ने अरुण शौरी का हालचाल जाना

पुणे 08 दिसम्बर (वार्ता) प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पुणे के अस्पताल में भर्ती पूर्व केन्द्रीय मंत्री एवं प्रखर पत्रकार अरुण शौरी से रविवार को मुलाकात की और उनके स्वास्थ्य की जानकारी ली।

श्री मोदी ने ट्वीट किया,“ने पुणे में पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण शौरी जी से मुलाकात की। मैंने उनसे उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली, मुलाकात शानदार रही। मैं उनके दीर्घ और स्वस्थ जीवन की कामना करता हूं।”

उल्लेखनीय है कि श्री शौरी पिछले रविवार को बेहोश होकर गिर गए थे। उनके सिर में मामूली चोट आई थी।

श्री शौरी के पूर्व राज्यसभा सदस्य हैं। वह 1999-2004 में अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में मंत्री थे और विश्व बैंक के साथ 1967-78 के बीच बतौर अर्थशास्त्री भी जुड़े रहे। वह इंडियन एक्सप्रेस में संपादक भी रह चुके हैं।

आशा

वार्ता

More News
कुप्रबंधन से बढी आर्थिक बदहाली का बजट में जवाब दे सरकार: कांग्रेस

कुप्रबंधन से बढी आर्थिक बदहाली का बजट में जवाब दे सरकार: कांग्रेस

28 Jan 2020 | 2:22 PM

नयी दिल्ली, 27 जनवरी (वार्ता) कांग्रेस ने कहा है कि सरकार के आर्थिक कुप्रबंधन के कारण देश में हर व्यक्ति पर बढे कर्ज का बोझ घटाने और जीडीपी, औद्योगिक उत्पादन, आयात, निर्यात, निवेश, खपत जैसे कई क्षेत्रों में गिरावट रोकने के उपायों का बजट में विस्तार से जवाब दिया जाना चाहिए।

see more..
सरदारपुरा हिंसा: दोषियों को धार्मिक कार्य करने की शर्त के साथ जमानत

सरदारपुरा हिंसा: दोषियों को धार्मिक कार्य करने की शर्त के साथ जमानत

28 Jan 2020 | 12:41 PM

नई दिल्ली, 28 जनवरी (वार्ता) उच्चतम न्यायालय ने 2002 के गुजरात दंगे के दौरान सरदारपुरा हिंसा के 17 दोषियों को कुछ अलग तरह की शर्तों के साथ जमानत पर रिहा करने का मंगलवार को निर्देश दिया।

see more..
image