Saturday, Aug 24 2019 | Time 22:00 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • कोविंद, वेंकैया और राहुल ने जेटली को दी श्रद्धांजलि
  • अपहृत युवक का शव बरामद
  • वज्रपात से किसान की माैत
  • इशांत के रौद्र रूप से दहला विंडीज
  • इशांत के रौद्र रूप से दहला विंडीज
  • सिंधिया को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बनाने की मांग उठायी उनके समर्थक ने
  • सड़क दुर्घटना में शिक्षिका समेत दो की मौत
  • कर्नाटक मेेेें बाढ़ की हालत का जायजा लेने पहुंची केन्द्रीय टीम
  • मालगाड़ी का एक डिब्बा पटरी से उतरा
  • --
  • अरुण जेटली के निधन पर द्रौपदी ने जताया शोक
  • मिट जाउंगा, लेकिन टूटूंगा नहीं: रावत
  • देश भर में गरज के साथ पड़े छींटे
  • मोबाइल लूटकांड का उद्भेदन, दो गिरफ्तार
  • मालगाड़ी के 17 डिब्बे पटरी से उतरे
ऑटोवर्ल्ड


मार्च में यात्री वाहनों की खुदरा बिक्री 10 प्रतिशत घटी

नयी दिल्ली 10 अप्रैल (वार्ता) यात्री वाहनों की घरेलू बिक्री मार्च में 10 प्रतिशत घटकर 2,42,708 इकाई रह गयी है। पिछले साल मार्च में देश में 2,69,176 यात्री वाहन बिके थे।
यात्री वाहनों में कारें, उपयोगी वाहन और वैन आते हैं। वाहन डीलरों के संगठन ‘फाडा’ द्वारा बुधवार को जारी आँकड़ों के अनुसार, इस साल फरवरी की तुलना में मार्च में यात्री वाहनों की बिक्री पाँच प्रतिशत बढ़ी है, लेकिन साल-दर-साल आधार पर इसमें 10 फीसदी की गिरावट दर्ज की गयी है। इससे पहले वाहन निर्माता कंपनियों के संगठन सियाम द्वारा सोमवार को जारी आँकड़ों के अनुसार, मार्च में इनकी थोक बिक्री भी 2.96 प्रतिशत घटकर 2,91,806 इकाई रह गयी।
फाडा ने बताया कि पिछले साल मार्च की तुलना में गत मार्च में वाणिज्यिक वाहनों की बिक्री 12 प्रतिशत घटकर 61,896 पर आ गयी। तिपहिया वाहनों की बिक्री में छह फीसदी और दुपहिया वाहनों की बिक्री में सात फीसदी की गिरावट दर्ज की गयी और इनका आँकड़ा क्रमश: 53,229 इकाई और 13,24,823 इकाई रहा।
फाडा के अध्यक्ष आशीष हर्षराज काले ने बताया कि पिछले साल मार्च में वाहनों की बिक्री में जबरदस्त उछाल आया था। इसलिए इस साल बेस अफेक्ट के कारण मार्च का आँकड़ा एक साल पहले की तुलना में कमजोर है। अन्यथा इस साल फरवरी के मुकाबले बिक्री बढ़ी है। उन्होंने बताया कि अगले साल से बीएस-6 मानक योग्य इंजन की अनिवार्यता और अन्य नियामकीय बदलावों को देखते हुये कंपनियों ने उत्पादन घटाकर डीलरों की इनवेंटरी कम करने का अच्छा फैसला लिया है। मार्च में यात्री वाहनों और वाणिज्यिक वाहनों की औसत इनवेंटरी 40 से 45 दिन की रह गयी है जबकि दुपहिया वाहनों की इनवेंटरी 45 से 50 दिन की बीच की है।
श्री काले ने बताया कि मानसून से पहले चुनावों के दौरान अगले चार से छह सप्ताह तक बिक्री मौजूदा स्तर पर स्थिर रहने का अनुमान है। यदि केंद्र में स्थिर सरकार बनती है और मानसून अच्छा रहता है तो आने वाले समय में बिक्री में उछाल आने की उम्मीद है।
अजीत
वार्ता
More News
मारुति के वाहनों की बिक्री अप्रैल में 17 फीसदी घटी

मारुति के वाहनों की बिक्री अप्रैल में 17 फीसदी घटी

01 May 2019 | 3:51 PM

नयी दिल्ली 01 मई (वार्ता) देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया लिमिटेड की कुल बिक्री अप्रैल में 17.2 प्रतिशत घटकर 1,43,245 वाहन रह गयी। अप्रैल 2018 में यह आँकड़ा 1,72,986 वाहन रहा था।

see more..
image