Friday, Jul 19 2019 | Time 14:11 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • चार करोड़ 14 लाख किसानों को पीएम किसान की पहली किस्त मिली
  • 13 माह पुरानी गठबंधन सरकार की उलटी गिनती शुरू
  • महिलाओं की बच्चेदानी निकालने का मामला राज्यसभा में उठा
  • आजम खां को भू-माफिया घोषित करने पर सपा के हंगामे के बीच परिषद स्थगित
  • आयुष्मान भारत, भाजपा का ब्रांड नहीं: हर्षवर्धन
  • सूचना का अधिकार (संशोधन) विधेयक लोकसभा में पेश
  • प्राकृतिक आपदा को ‘राष्ट्रीय आपदा घोषित’ करने का प्रावधान नहीं: नायडू
  • हवाला कारोबारी के घर सीबीआई का छापा
  • कश्मीर में सड़क दुर्घटना में हरियाणा के दो युवकों की मौत
  • सोनभद्र जाने पर अड़ी प्रियंका पुलिस हिरासत में
  • सचिन आईसीसी हॉल ऑफ फेम में शामिल
  • सचिन आईसीसी हॉल ऑफ फेम में शामिल
भारत


यूएनआई ने कर्नाटक में समाचार सेवा पर लगाया अस्थायी विराम

यूएनआई ने कर्नाटक में समाचार सेवा पर लगाया अस्थायी विराम

नयी दिल्ली, 16 जून (वार्ता) देश की प्रमुख संवाद समिति यूनाइटेड न्यूज ऑफ इंडिया (यूएनआई) ने बृहत बेंगलुरु महानगर पालिका ( बीबीएमपी) की ओर से प्रताड़ित किये जाने और ‘प्रेस पर हमले’ के विरोध में रविवार को कर्नाटक में अस्थायी रूप से अपनी अंग्रेजी और कन्नड समाचार सेवा रोक दी।

बीबीएमपी की ओर से शहर के वसंतनगर स्थित यूएनआई भवन को खाली कराने की लगातार मिल रही धमकियों के परिप्रेक्ष्य में संवाद समिति ने यह कदम उठाया है। बीबीएमपी का कहना है कि जिस जमीन पर यूएनआई का भवन बना हुआ है,उसकी लीज अवधि समाप्त हो गयी है।

बीबीएमपी के एक अधिकारी ने कार्यालय आकर यूएनआई, बेंगलुरू कार्यालय के स्थानीय प्रभारी से कहा कि यदि समाचार एजेंसी स्वत: भवन को खाली करने से इन्कार करेगी तो उसे खाली करा लिया जायेगा।

बेंगलुरु में यूएनआई भवन 1986 में बनाया गया था जिसका उद्घाटन तत्कालीन राष्ट्रपति ज्ञानी जैल सिंह ने किया था। समाचार एजेंसी हालांकि 2013 में समाप्त हुई लीज अवधि का नवीनीकरण करने का 2010 से ही बीबीएमपी से आग्रह कर रही है लेकिन बीबीएमपी ने राष्ट्रीय संवाद समिति यूएनआई की इस मामले में कोई मदद नहीं की।

इसके विपरीत बीबीएमपी अधिकारियों ने यूएनआई के स्थानीय अधिकारियों और कर्मचारियों को प्रताड़ित करना शुरू कर दिया। यूएनआई कर्मियों से कहा गया कि उन्हें कार्यालय से बाहर कर दिया जायेगा। बीबीएमपी ने हालांकि अपने दावे के समर्थन में अब तक कोई उचित नोटिस या कोई सरकारी आदेश पेश नहीं किया है।

इस मसले पर हाल के घटनाक्रमों और बीबीएमपी अधिकारियों के ‘प्रेस विरोधी’ रवैये के विरोध में यूएनआई प्रबंधन ने कर्नाटक में समाचार सेवा अस्थायी रूप से बंद करने का फैसला किया है।

गौरतलब है कि संवाद समिति ने दिसंबर 2018 में अपनी यूएनआई कन्नड समाचार सेवा शुरू की है जो देश की किसी समाचार एजेंसी की ओर से शुरू की गयी ऐसी पहली सेवा है। यूएनआई कन्नड न्यूज सर्विस प्रिंट और विजुअल मीडिया के साथ-साथ राज्य और केन्द्र सरकार को अपनी सेवायें प्रदान करती है।

इस मामले में कर्नाटक सरकार, मुख्यमंत्री, उप मुख्यमंत्री और अन्य वरिष्ठ मंत्रियों को अनेक प्रतिवेदन दिये गये हैं लेकिन यूएनआई के आग्रह पर अब तक कोई विचार नहीं किया गया है।

श्रवण जितेन्द्र

वार्ता

More News
एनआरसी : केंद्र, असम के अनुरोध पर 23 जुलाई को सुनवाई

एनआरसी : केंद्र, असम के अनुरोध पर 23 जुलाई को सुनवाई

19 Jul 2019 | 12:32 PM

नयी दिल्ली, 19 जुलाई (वार्ता) उच्चतम न्यायालय असम में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) को अंतिम रूप देने के लिए तय समय सीमा को बढ़ाने के केंद्र एवं राज्य सरकार के अनुरोध पर 23 जुलाई को सुनवाई करेगा।

see more..
छह सौ करोड़ की हेरोइन के साथ पांच गिरफ्तार

छह सौ करोड़ की हेरोइन के साथ पांच गिरफ्तार

19 Jul 2019 | 11:15 AM

नयी दिल्ली 19 जुलाई (वार्ता) दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल की टीम बड़ी मात्रा में नशीले पदार्थ हेरोइन को जब्त कर दो अफगानी नागरिकों समेत पांच लोगों को गिरफ्तार किया है।

see more..
जावड़ेकर ने संसद भवन में मीडिया सुविधाओं का जायजा लिया

जावड़ेकर ने संसद भवन में मीडिया सुविधाओं का जायजा लिया

18 Jul 2019 | 11:17 PM

नयी दिल्ली 18 जुलाई (वार्ता) सूचना प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने आज शाम संसद भवन में पत्रकारों से जुड़ी सुविधाओं की समीक्षा की और पत्रकारों से उनके कामकाज में दिक्कतों के बारे में पूछताछ करके उनके निराकरण के लिए अधिकारियों को आवश्यक निर्देश जारी किये।

see more..
image