Tuesday, Dec 1 2020 | Time 10:48 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • हैदराबाद में जीएचएमसी चुनाव के लिए मतदान शुरू
  • कोरोना से कैलीफोर्निया में बुरे हालात
  • कोरोनाग्रस्त मंगलेश डबराल के लिए फण्ड जुटाने की अपील
  • मॉल्डोवा के शिक्षा मंत्रा कोरोना पॉजिटिव
  • पेट्रोल और डीजल के दाम स्थिर
  • झांसी:कड़ी सुरक्षा के बीच एमएलसी मतदान शुरू
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 02 दिसंबर)
  • तेलंगाना में जीएचएमसी की 150 सीटों के लिए मतदान शुरू
  • अमेरिका में कोविड-19 से 2 67 लाख से अधिक लोगों की मौत
  • सरकार ने किसानों को बातचीत का न्योता दिया
  • रिमोट नियंत्रित हथियार से की गयी फखरीजादेह की हत्या : ईरान
  • मॉडर्ना ने अमेरिका में कोरोना वैक्सीन के आपात स्थिति में उपयोग की मंजूरी मांगी
  • अमेरिका के एरिजोना प्रांत ने भी की बिडेन की जीत की पुष्टि
  • समझौते का पालन नहीं कर रहा है तालिबान : अमेरिका
राज्य » उत्तर प्रदेश


योगी सरकार का दावा: तीन साल में 11 परियोजनाओं का काम पूरा

योगी सरकार का दावा: तीन साल में 11 परियोजनाओं का काम पूरा

लखनऊ, 27 अक्‍टूबर (वार्ता) उत्तर प्रदेश में योगी सरकार का दावा है कि उसने पिछले कई वर्षों से लंबित 11 बड़ी परियोजनाओं को पूरा कराया है जिससे प्रदेश में सिंचाई करने की क्षमता में काफी इजाफा हुआ है।

आधिकारिक सूत्रों ने मंगलवार को बताया कि सिंचाई के लिए यूपी में नहरों का जाल बिछा हुआ है। कुछ क्षेत्रों में सिंचाई पूरी तौर पर नहरों पर निर्भर करती है। योगी सरकार प्रदेश में मौजूद सभी नहरों में पानी पहुंचाने के लिए तेजी से अग्रसर है। इसके साथ ही लंबित सिंचाई परियोजनाओं को तेजी से पूरा कराने पर राज्‍य सरकार काम कर रही है। साल 2022 तक किसानों की आमदनी दोगुनी करने के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के इस संकल्‍प को पूरा करने में सिंचाई विभाग अहम भूमिका निभा रहा है।

उन्होने बताया कि सिंचाई विभाग ने प्राथमिकता के आधार पर पिछले साल 47 हजार किलोमीटर से ज्‍यादा लंबाई की नहरों की सिल्‍ट को साफ कराया है जिसके तहत नहरों की टेल तक पानी पहुंचाने में मदद मिली है। रायबरेली और बाराबंकी के कुछ क्षेत्रों में पिछले 40 सालों से नहरों में पानी नहीं पहुंचा था। पहली बार इन नहरों में पानी पहुंचा है। जलशक्ति मंत्री डॉ महेन्‍द्र सिंह ने सिल्‍ट की सफाई अभियान को सफल बनाने के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया है। बाराबंकी में 15 अक्‍टूबर से नहर की सफाई का अभियान शुरू किया गया है।

सूत्रों ने बताया कि नहरों की सफाई का वृहद अभियान 15 नवंबर तक चलेगा जिसकी कार्ययोजना को तैयार कर लिया गया है। इस काम के लिए नोडल अधिकारियों की टीम को गठित कर दिया गया है। सभी संबधित अधिकारियों को निर्देश जारी कर दिए गए हैं कि नहर सफाई के दौरान अपने क्षेत्र की नहरों पर रहें और निर्धारित समय से सिल्‍ट की सफाई कराएं।

उन्होने बताया कि सिंचाई व जल संसाधन विभाग ने नहरों से निकाली गई मिट्टी को पारदर्शी ढ़ग से नीलामी करने के लिए और राजस्‍व को सरकारी खाते में जमा करने के लिए डीएम की अध्‍यक्षता में एक समिति गठित करने का निर्णय लिया है। सफाई कार्य में जनसहभागिता के लिए जन प्रतिनिधि‍यों और ग्राम प्रधानों को भी इस सफाई अभियान से जोड़ा गया है। इसके साथ ही नहरों पर बोर्ड लगाने के निर्देश भी दिए गए हैं। इस साल भी 47 हजार से अधिक किलोमीटर लंबाई में नहरों की सफाई कराए जाने का संकल्‍प है।

प्रदीप

वार्ता

More News
विधान परिषद की 11 सीटों के लिये मतदान शुरू

विधान परिषद की 11 सीटों के लिये मतदान शुरू

01 Dec 2020 | 9:24 AM

लखनऊ 01 दिसम्बर (वार्ता) उत्तर प्रदेश में विधान परिषद की स्नातक एवं शिक्षक कोटे की 11 सीटों के लिये कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच मंगलवार को मतदान शुरू हो गया।

see more..
image