Wednesday, Jul 8 2020 | Time 09:02 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • पाकिस्तान में फर्जी लाइसेंस वाले 28 पायलट बर्खास्त
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 09 जुलाई)
  • जलवायु परिवर्तन संबंधी लक्ष्यों की तरफ तेजी से बढ़ रहा है भारत: जावड़ेकर
  • ब्राज़ील में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 45 हजार मामलों की पुष्टि
  • चेक रिपब्लिक में दो ट्रेनों की भिड़ंत में दो यात्रियों की मौत
  • बैटरी से चलेगी रेलगाड़ी, इंजन का परीक्षण सफल
  • नाइजीरिया में नाव पलटने से 14 लोगों की मौत
  • सीरिया में आतंकी हमले में आठ लोगों की मौत
  • डब्ल्यूएचओ से आधिकारिक तौर पर हटा अमेरिका
  • विश्व में कोरोना से अबतक 5 40 लाख से अधिक लोगों की मौत
  • कनाडा में कोरोना से 106,000 लोग संक्रमित, 8700 की मौत
  • अमेरिका में कोरोना से करीब 1 31 लाख लोगों की मौत
  • सौराष्ट्र और कच्छ में भारी वर्षा का दौर जारी
  • डब्ल्यूएचओ से आधिकारिक तौर पर हटा अमेरिका
भारत


रक्त बहने से होने वाली मौत रोकने की दवा ईजाद

नयी दिल्ली, 12 मार्च (वार्ता) वैज्ञानिकों ने करीब नौ वर्षों के शोध के बाद ऐसी दवाइयों को ईजाद किया है जिससे अत्यधिक मात्रा में रक्त बह जाने से होने वाली मौत की रोकथाम में सहायक होंगी।
ये दवायें दुर्घटना, गर्भावस्था, आपरेशन आदि के समय अधिक मात्रा में रक्त निकल जाने से होने वाली मृत्यु को रोकने में मदद करेंगी।
फारमाज़ इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के 'फारमाज इन्वेस्टिगेटर्स मीटिंग' का आयोजन किया जिसका मुख्य उद्देश्य उन दवाओं की शोध की जानकारी देनी था जिनके माध्यम से ऐसी दवाओं का निर्माण हो रहा है। ये दवायें क्लिनिकल ट्रायल तक पहुंच गयी हैं और उम्मीद है कि जल्द ही ये दवाइयां सर्वप्रथम देश के चिकित्सकों को उपलब्ध होंगी और लाखों जानें बचाने में सहायक होंगी| रविवार को हुई बैठक में करीब 70 चिकित्सकों ने भाग लिया जिनमें कुछ अमेरिका के भी हैं। इसमें शोध से संबंधित अनेक पहलुओं पर चर्चा की गयी जिसकी बारीकियों को भागीदारों ने समझा।
कंपनी के संस्थापक एवं निदेशक डॉ. प्रो. अनिल गुलाटी ने मंगलवार को यहां बताया कि इन दवाइयों का क्लिनिकल ट्रायल भारत में 25 प्रमुख चिकित्सा संस्थानों में चल रहा है जिनकी निगरानी 20 क्लिनिकल विशेषज्ञ कर रहे हैं।
उन्होंने कहा, “हमें पूरी उम्मीद है की ये दवाइयां लाखों लोगों की भारत में जान बचने में समर्थ होंगी और यह एक ‘थेराप्यूटिक रेवोलुशन’ होगा|
उन्होंने कहा कि अक्सर सुना जाता है कि कार या मोटरसाइकिल दुर्घटना में घायल व्यक्ति की अधिक रक्त बह जाने के कारण मौत हो जाती है। एक अनुमान के अनुसार देश में लगभग प्रतिवर्ष साढ़े छह लाख लोगों की सड़क दुर्घटनाओं में मौत हो जाती है। प्रसव के बाद अत्यधिक रक्तस्राव से करीब एक लाख महिलाआें की मौत हो जाती है। एक अनुमान के अनुसार देश में प्रति वर्ष करीब आठ लोगों की मौत अत्यधिक रक्तस्राव के कारण हो जाती है।
श्रवण मिश्रा
वार्ता
More News
बैटरी से चलेगी रेलगाड़ी, इंजन का परीक्षण सफल

बैटरी से चलेगी रेलगाड़ी, इंजन का परीक्षण सफल

08 Jul 2020 | 8:30 AM

नयी दिल्ली 08 जुलाई (वार्ता) स्वच्छ ईंधन की तरफ एक और कदम बढ़ाते हुये भारतीय रेल ने बैटरी से चलने वाले रेल इंजन का सफल परीक्षण किया है।

see more..
विमान टिकट रिफंड मामले पर केंद्र, डीजीसीए से जवाब तलब

विमान टिकट रिफंड मामले पर केंद्र, डीजीसीए से जवाब तलब

07 Jul 2020 | 10:36 PM

नयी दिल्ली, 07 जुलाई (वार्ता) उच्चतम न्यायालय ने लॉकडाउन की अवधि के फ्लाइट टिकटों का पूरा रिफंड करने के निर्देश संबंधी याचिका पर मंगलवार को केंद्र सरकार और नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (डीजीसीए) से जवाब तलब किय।

see more..
देश में कोरोना के मामले 7.40 लाख के पार, रिकवरी दर 61 फीसदी से अधिक

देश में कोरोना के मामले 7.40 लाख के पार, रिकवरी दर 61 फीसदी से अधिक

07 Jul 2020 | 9:58 PM

नयी दिल्ली 07 जुलाई (वार्ता) देश में वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमण के मामले 7.40 लाख के आंकड़े को पार करने के साथ ही भारत ने पूरे विश्व में संक्रमण के सबसे अधिक प्रभावित देशों की सूची में मंगलवार को भी तीसरे स्थान पर मौजूदगी को बरकरार रखा लेकिन राहत की बात यह है कि मरीजों के स्वस्थ होने की दर 61 फीसदी के पार पहुंच गयी है।

see more..
image