Wednesday, May 22 2019 | Time 20:08 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • केंद्रीय मंत्री के गोद लिए गांव में दसवीं के 28 में से दो बच्चे हुए पास
  • हेलीकाॅप्टर सेवाएं स्थानीय लोगों के लिए बनीं मुसीबत
  • न्यायाधिकरण ने नौसेना प्रमुख की नियुक्ति संबंधी दस्तावेज तलब किये
  • श्रीलंका में आपातकाल की अवधि एक माह के लिए और बढ़ाई गई
  • इंडियन नेशनल को 3-0 से हराकर गढ़वाल हीरोज सेमीफाइनल में
  • नाइजीरिया में डाकुओं के हमले में 18 किसानों की मौत
  • फ्रांस में भारतीय वायु सेना की राफेल टीम के कार्यालय में तोड़ फोड़ का प्रयास
  • सिरसा स्वास्थ्य विभाग ने मुक्तसर में किया भ्रूण जांच गिरोह का भंडाफोड़
  • ईवीएम पर सियासी दलों की शंकाओं, संदेह को दूर करने की मांग
  • राकांपा के विधायक क्षीरसागर शिव सेना में शामिल
  • फ्लाइट लेफि्टनेंट भावना कंठ मिशन पर जाने के लिए तैयार
  • टॉप सीड गायत्री और प्रियांशु को आसान ड्रॉ
  • मध्यप्रदेश के पांच जिले लू की चपेट में तो अनेक स्थानों पर लू के हालात
  • चंपावत में शिक्षक ने छात्रा के साथ किया दुष्कर्म
  • अाेमानी लेखिका को जोखा अलहारती को बुकर पुरस्कार
भारत


रक्त बहने से होने वाली मौत रोकने की दवा ईजाद

नयी दिल्ली, 12 मार्च (वार्ता) वैज्ञानिकों ने करीब नौ वर्षों के शोध के बाद ऐसी दवाइयों को ईजाद किया है जिससे अत्यधिक मात्रा में रक्त बह जाने से होने वाली मौत की रोकथाम में सहायक होंगी।
ये दवायें दुर्घटना, गर्भावस्था, आपरेशन आदि के समय अधिक मात्रा में रक्त निकल जाने से होने वाली मृत्यु को रोकने में मदद करेंगी।
फारमाज़ इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के 'फारमाज इन्वेस्टिगेटर्स मीटिंग' का आयोजन किया जिसका मुख्य उद्देश्य उन दवाओं की शोध की जानकारी देनी था जिनके माध्यम से ऐसी दवाओं का निर्माण हो रहा है। ये दवायें क्लिनिकल ट्रायल तक पहुंच गयी हैं और उम्मीद है कि जल्द ही ये दवाइयां सर्वप्रथम देश के चिकित्सकों को उपलब्ध होंगी और लाखों जानें बचाने में सहायक होंगी| रविवार को हुई बैठक में करीब 70 चिकित्सकों ने भाग लिया जिनमें कुछ अमेरिका के भी हैं। इसमें शोध से संबंधित अनेक पहलुओं पर चर्चा की गयी जिसकी बारीकियों को भागीदारों ने समझा।
कंपनी के संस्थापक एवं निदेशक डॉ. प्रो. अनिल गुलाटी ने मंगलवार को यहां बताया कि इन दवाइयों का क्लिनिकल ट्रायल भारत में 25 प्रमुख चिकित्सा संस्थानों में चल रहा है जिनकी निगरानी 20 क्लिनिकल विशेषज्ञ कर रहे हैं।
उन्होंने कहा, “हमें पूरी उम्मीद है की ये दवाइयां लाखों लोगों की भारत में जान बचने में समर्थ होंगी और यह एक ‘थेराप्यूटिक रेवोलुशन’ होगा|
उन्होंने कहा कि अक्सर सुना जाता है कि कार या मोटरसाइकिल दुर्घटना में घायल व्यक्ति की अधिक रक्त बह जाने के कारण मौत हो जाती है। एक अनुमान के अनुसार देश में लगभग प्रतिवर्ष साढ़े छह लाख लोगों की सड़क दुर्घटनाओं में मौत हो जाती है। प्रसव के बाद अत्यधिक रक्तस्राव से करीब एक लाख महिलाआें की मौत हो जाती है। एक अनुमान के अनुसार देश में प्रति वर्ष करीब आठ लोगों की मौत अत्यधिक रक्तस्राव के कारण हो जाती है।
श्रवण मिश्रा
वार्ता
More News
सुखोई लड़ाकू विमान से ब्रह्मोस का सफल परीक्षण

सुखोई लड़ाकू विमान से ब्रह्मोस का सफल परीक्षण

22 May 2019 | 7:51 PM

नयी दिल्ली 22 मई (वार्ता) वायु सेना ने आज एक बड़ी उपलब्धि हासिल करते हुए अपने प्रमुख लड़ाकू विमान सुखोई-30 से ब्रह्मोस मिसाइल के हवाई संस्करण का सफल परीक्षण किया।

see more..
राहुल के खिलाफ प्राथमिकी के मामले में अदालत ने अपना आदेश सुरक्षित रखा

राहुल के खिलाफ प्राथमिकी के मामले में अदालत ने अपना आदेश सुरक्षित रखा

22 May 2019 | 7:25 PM

नयी दिल्ली 22 मई (वार्ता) दिल्ली की एक अदालत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज किये जाने की मांग को लेकर दायर याचिका पर अपना आदेश सात जून तक के लिए सुरक्षित रख लिया।

see more..
image