Friday, Sep 20 2019 | Time 19:24 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • निवेशकों को एक दिन में 6 82 लाख करोड़ रुपये की हुयी कमायी
  • सोनीपत में लॉटरी के नाम पर महिला से एक करोड़ की ठगी
  • सऊदी तेल संयंत्रों पर हमले के बाद कुवैत में सुरक्षा कड़ी
  • मुख्यमंत्री ने दिये खड़ी फसलों की स्थिति का आंकलन एवं गिरदावरी के आदेश
  • अमित ने रचा इतिहास, स्वर्ण से एक पंच दूर
  • हाउडीमोदी से अर्थव्यवस्था की हालत नहीं छिप सकती: राहुल
  • हरियाणा में चार आईएएस और पांच एचसीएस अधिकारियों के तबादले
  • बिहार में 19 आईएएस और पांच आईपीएस अधिकारियों का तबादला
  • अमरोहा में वसूली कर रहा फर्जी दरोगा गिरफ्तार
  • हिंदी सेवा सम्मान से नवाजे गये लेखक, पत्रकार और हिंदी प्रेमी
  • हरीश रावत के समर्थन में महिला कांग्रेस का धरना
  • भाजपा-शिवसेना नेताओं के बीच हुई ‘अच्छी’ बातचीत
  • अयोध्या का ढांचा बाबर ने बनवाया था: मुस्लिम पक्षकार
  • होंडा रेसिंग इंडिया ने टॉप 11 में कड़ा मुकाबला किया
भारत


रक्त बहने से होने वाली मौत रोकने की दवा ईजाद

नयी दिल्ली, 12 मार्च (वार्ता) वैज्ञानिकों ने करीब नौ वर्षों के शोध के बाद ऐसी दवाइयों को ईजाद किया है जिससे अत्यधिक मात्रा में रक्त बह जाने से होने वाली मौत की रोकथाम में सहायक होंगी।
ये दवायें दुर्घटना, गर्भावस्था, आपरेशन आदि के समय अधिक मात्रा में रक्त निकल जाने से होने वाली मृत्यु को रोकने में मदद करेंगी।
फारमाज़ इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के 'फारमाज इन्वेस्टिगेटर्स मीटिंग' का आयोजन किया जिसका मुख्य उद्देश्य उन दवाओं की शोध की जानकारी देनी था जिनके माध्यम से ऐसी दवाओं का निर्माण हो रहा है। ये दवायें क्लिनिकल ट्रायल तक पहुंच गयी हैं और उम्मीद है कि जल्द ही ये दवाइयां सर्वप्रथम देश के चिकित्सकों को उपलब्ध होंगी और लाखों जानें बचाने में सहायक होंगी| रविवार को हुई बैठक में करीब 70 चिकित्सकों ने भाग लिया जिनमें कुछ अमेरिका के भी हैं। इसमें शोध से संबंधित अनेक पहलुओं पर चर्चा की गयी जिसकी बारीकियों को भागीदारों ने समझा।
कंपनी के संस्थापक एवं निदेशक डॉ. प्रो. अनिल गुलाटी ने मंगलवार को यहां बताया कि इन दवाइयों का क्लिनिकल ट्रायल भारत में 25 प्रमुख चिकित्सा संस्थानों में चल रहा है जिनकी निगरानी 20 क्लिनिकल विशेषज्ञ कर रहे हैं।
उन्होंने कहा, “हमें पूरी उम्मीद है की ये दवाइयां लाखों लोगों की भारत में जान बचने में समर्थ होंगी और यह एक ‘थेराप्यूटिक रेवोलुशन’ होगा|
उन्होंने कहा कि अक्सर सुना जाता है कि कार या मोटरसाइकिल दुर्घटना में घायल व्यक्ति की अधिक रक्त बह जाने के कारण मौत हो जाती है। एक अनुमान के अनुसार देश में लगभग प्रतिवर्ष साढ़े छह लाख लोगों की सड़क दुर्घटनाओं में मौत हो जाती है। प्रसव के बाद अत्यधिक रक्तस्राव से करीब एक लाख महिलाआें की मौत हो जाती है। एक अनुमान के अनुसार देश में प्रति वर्ष करीब आठ लोगों की मौत अत्यधिक रक्तस्राव के कारण हो जाती है।
श्रवण मिश्रा
वार्ता
More News
पीड़िता की आत्मदाह की धमकी के बाद हुई चिन्मयानंद की गिरफ्तारी: प्रियंका

पीड़िता की आत्मदाह की धमकी के बाद हुई चिन्मयानंद की गिरफ्तारी: प्रियंका

20 Sep 2019 | 6:54 PM

नयी दिल्ली, 20 सितम्बर (वार्ता) बलात्कार के आरोपों का सामना कर रहे पूर्व केन्द्रीय मंत्री स्वामी चिन्मयानंद के मामले में पिछले कुछ दिनों से उत्तर प्रदेश सरकार को घेर रही कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने आज कहा कि आरोपी को पीड़िता की आत्मदाह की धमकी के बाद ही गिरफ्तार किया गया है।

see more..
image