Tuesday, Apr 7 2020 | Time 04:58 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • ट्रंप ने दवा कंपनियों के प्रमुखों से की बातचीत: व्हाइट हाउस
  • पिछले दिनों कोरोना के 77200 नए मामले सामने आए : डब्ल्यूएचओ
  • जॉनसन के जल्द स्वस्थ्य होने की कामना करता हूं : मोदी
  • मोदी ने बेहरीन के किंग से बात की
  • बोरिस जॉनसन की हालत बिगड़ी, आईसीयू में भर्ती
  • अमेरिका में कोरोना से 10000 लोगों की मौत
  • नागपुर में कोरोना से हुई पहली मौत
  • कोरोना: कतर में 279 नये मामले सामने आये
  • महाराष्ट्र में कोरोना के 120 नये मामले सामने आए
  • इराक में कोरोना के मामले 1000 पार पहुंचे
  • तुर्की में कोरोना के मामले 30000 पार पहुंचे
भारत


रक्त बहने से होने वाली मौत रोकने की दवा ईजाद

नयी दिल्ली, 12 मार्च (वार्ता) वैज्ञानिकों ने करीब नौ वर्षों के शोध के बाद ऐसी दवाइयों को ईजाद किया है जिससे अत्यधिक मात्रा में रक्त बह जाने से होने वाली मौत की रोकथाम में सहायक होंगी।
ये दवायें दुर्घटना, गर्भावस्था, आपरेशन आदि के समय अधिक मात्रा में रक्त निकल जाने से होने वाली मृत्यु को रोकने में मदद करेंगी।
फारमाज़ इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के 'फारमाज इन्वेस्टिगेटर्स मीटिंग' का आयोजन किया जिसका मुख्य उद्देश्य उन दवाओं की शोध की जानकारी देनी था जिनके माध्यम से ऐसी दवाओं का निर्माण हो रहा है। ये दवायें क्लिनिकल ट्रायल तक पहुंच गयी हैं और उम्मीद है कि जल्द ही ये दवाइयां सर्वप्रथम देश के चिकित्सकों को उपलब्ध होंगी और लाखों जानें बचाने में सहायक होंगी| रविवार को हुई बैठक में करीब 70 चिकित्सकों ने भाग लिया जिनमें कुछ अमेरिका के भी हैं। इसमें शोध से संबंधित अनेक पहलुओं पर चर्चा की गयी जिसकी बारीकियों को भागीदारों ने समझा।
कंपनी के संस्थापक एवं निदेशक डॉ. प्रो. अनिल गुलाटी ने मंगलवार को यहां बताया कि इन दवाइयों का क्लिनिकल ट्रायल भारत में 25 प्रमुख चिकित्सा संस्थानों में चल रहा है जिनकी निगरानी 20 क्लिनिकल विशेषज्ञ कर रहे हैं।
उन्होंने कहा, “हमें पूरी उम्मीद है की ये दवाइयां लाखों लोगों की भारत में जान बचने में समर्थ होंगी और यह एक ‘थेराप्यूटिक रेवोलुशन’ होगा|
उन्होंने कहा कि अक्सर सुना जाता है कि कार या मोटरसाइकिल दुर्घटना में घायल व्यक्ति की अधिक रक्त बह जाने के कारण मौत हो जाती है। एक अनुमान के अनुसार देश में लगभग प्रतिवर्ष साढ़े छह लाख लोगों की सड़क दुर्घटनाओं में मौत हो जाती है। प्रसव के बाद अत्यधिक रक्तस्राव से करीब एक लाख महिलाआें की मौत हो जाती है। एक अनुमान के अनुसार देश में प्रति वर्ष करीब आठ लोगों की मौत अत्यधिक रक्तस्राव के कारण हो जाती है।
श्रवण मिश्रा
वार्ता
More News
देवीलाल को  पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि

देवीलाल को पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि

06 Apr 2020 | 11:36 PM

नयी दिल्ली 06 अप्रैल (वार्ता) पूर्व उप प्रधानमंत्री चौधरी देवीलाल को उनकी 19वीं पुण्यतिथि पर आज देश भर में श्रद्धांजलि अर्पित की गयी।

see more..
जदयू ने अजय आलोक के बयान से खुद को किया अलग

जदयू ने अजय आलोक के बयान से खुद को किया अलग

06 Apr 2020 | 11:43 PM

नयी दिल्ली, 06 अप्रैल (वार्ता) जनता दल (यूनाइटेड):जदयू: ने पार्टी के नेता अजय आलोक की तब्लीगी जमात के खिलाफ की गयी आपत्तिजनक टिप्पणी से खुद को अलग करते हुए कहा है कि सभ्य समाज में गोली मारने की बात करना किसी भी प्रकार से उचित नहीं है।

see more..
सांसद वेतन में कटौती ठीक लेकिन सांसद निधि रहे जारी:कांग्रेस

सांसद वेतन में कटौती ठीक लेकिन सांसद निधि रहे जारी:कांग्रेस

06 Apr 2020 | 11:14 PM

नयी दिल्ली, 06 अप्रैल (वार्ता) कांग्रेस ने कोरोना वायरस के विरुद्ध जंग में सांसदों के वेतन से 30 प्रतिशत की कटौती करने के सरकार के निर्णय का स्वागत किया है लेकिन सांसद निधि को बरकरार रखने का आग्रह किया है।

see more..
image