Friday, Nov 15 2019 | Time 08:39 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 16 नवंबर )
  • दक्षिण-पूर्वी फ्रांस में लगभग 200,000 घरों में अंधेरा
  • सीरिया में 1 1 करोड़ लोगों को है मानवीय सहायता की आवश्यकता: संयुक्त राष्ट्र
  • ट्रम्प-किम के शिखर सम्मेलन के मुद्दे पर बोलने से बच रहा है अमेरिका
  • बोलीविया में मोरालेस समर्थकों ने निकाला जुलूस
  • अमेरिका के कैलिफोर्निया में स्कूल में गोलीबारी, पांच घायल
  • आतंकवाद ने विकासशील देशों के आर्थिक विकास की रफ्तार को धीमा किया: मोदी
  • इंडोनेशिया में भूकंप के जोरदार झटके
  • पूर्व मंत्री हरिनारायण की चुनाव लड़ने की अनुमति दिए जाने की याचिका खारिज
  • फोटो कैप्शन तीसरा सेट
भारत


रविदास मंदिर मामले में सुप्रीम कोर्ट के आदेश का स्वागत किया भाजपा ने

रविदास मंदिर मामले में सुप्रीम कोर्ट के आदेश का स्वागत किया भाजपा ने

नयी दिल्ली, 23 अक्टूबर (वार्ता) भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने दक्षिणी दिल्ली के तुगलकाबाद में संत रविदास के मंदिर के पुनर्निर्माण के उच्चतम न्यायालय के आदेश का स्वागत किया है और कांग्रेस एवं आम आदमी पार्टी (आप) पर इस मामले को सांप्रदायिक तनाव फैलाने की कोशिश करने का आरोप लगाया है।

भाजपा के महासचिव भूपेन्द्र यादव ने आज यहां एक संवाददाता सम्मेलन में यह भी कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा की संत रविदास में आस्था है और उनके करोड़ों अनुयायियों की भावनाओं का आदर करते हुए सरकार की पहल पर ही अटार्नी जनरल की अध्यक्षता वाली समिति बनायी गयी जिसकी सिफारिशों के अनुसार ही अदालत ने मंदिर के पुनर्निर्माण की छूट दी है।

श्री यादव ने कहा कि भाजपा दो दिन पहले आये उच्चतम न्यायालय के फैसले का स्वागत करती है। पंद्रहवीं सदी के संत रविदास का जीवन समाज से छुअाछूत के खिलाफ सामाजिक समरसता के लिए समर्पित था। उनके अनुयायी सदियों से उनके आदर्शों का प्रचार प्रसार करते हुए सामाजिक उत्थान का कार्य करते रहे हैं। अदालत के आदेश के कारण उनका स्थान खाली कराने का कार्य किया गया। लेकिन सरकार ने अटाॅर्नी जनरल के माध्यम से उच्चतम न्यायालय में मामले के समाधान की पहल की और अंतत: मंदिर के पुनर्निर्माण का मार्ग प्रशस्त हुआ। इस मामले में हिरासत में लिये गये लोगों को भी रिहा कर दिया गया है।

उन्होंने कहा कि इस मामले का दुखद पहलू यह है कि कांग्रेस एवं आम आदमी पार्टी ने इस विषय का राजनीतिकरण किया और अनर्गल बयानों से लोगों की भावनाएं भड़काने का प्रयास किया। जिम्मेदार राजनीतिक दल होने के नाते उन्हें राजनीतिक सामाजिक विद्वेष को कम करने का प्रयास करना चाहिए था लेकिन ऐसा करने की बजाय उन्होंने उसे भड़काया। भाजपा की इसकी कड़ी निंदा करती है।

उल्लेखनीय है कि अगले साल फरवरी तक दिल्ली विधानसभा के चुनाव होने हैं और दिल्ली में अनुसूचित जाति के मतदाता करीब 16 प्रतिशत हैं।

सचिन सत्या

वार्ता

More News
केन्द्रीय पूल में छत्तीसगढ़ से चावल उपार्जन की अनुमति दे केंद्र : भूपेश

केन्द्रीय पूल में छत्तीसगढ़ से चावल उपार्जन की अनुमति दे केंद्र : भूपेश

14 Nov 2019 | 10:38 PM

नयी दिल्ली, 14 नवम्बर (वार्ता) छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गुरुवार को यहां केन्द्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर तथा केन्द्रीय खाद्य मंत्री राम विलास पासवान से मुलाकात की और उनसे राज्य के किसानों के हित में केंद्रीय पूल के लिए चावल उपार्जन की अनुमति दिए जाने का आग्रह किया।

see more..
राफेल: पुनर्विचार याचिका खारिज करने का गडकरी ने किया स्वागत

राफेल: पुनर्विचार याचिका खारिज करने का गडकरी ने किया स्वागत

14 Nov 2019 | 10:21 PM

नई दिल्ली, 14 नवंबर (वार्ता) केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी तथा जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने उच्चतम न्यायालय के राफेल लड़ाकू विमान सौदा मामले में पूर्व केन्द्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा,अरुण शौरी एवं अन्य की पुनर्विचार याचिका खारिज किये जाने का स्वागत किया है।

see more..
नयी शिक्षा नीति के विरोध में शिक्षकों ने निकाली रैली

नयी शिक्षा नीति के विरोध में शिक्षकों ने निकाली रैली

14 Nov 2019 | 9:29 PM

नयी दिल्ली, 14 नवंबर (वार्ता) दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू), जवाहरलाल नेहरु विश्वद्यािलय (जेएनयू) समेत अनेक केंद्रीय विश्वविद्यालयों के शिक्षकों ने नयी शिक्षा नीति का विरोध करते हुए इसे वापस लेने की सरकार से मांग की।

see more..
वायु प्रदूषण की गंभीर मार को ‘हरे खून’ से करें परास्त

वायु प्रदूषण की गंभीर मार को ‘हरे खून’ से करें परास्त

14 Nov 2019 | 9:29 PM

नयी दिल्ली, 14 नवंबर (वार्ता) बढ़ते प्रदूषण और उसके खतरनाक प्रभाव से बचने के तमाम उपाय अपनाने में लगे लोगों के लिये ह्वीट ग्रास जैसा प्रकृति का अनमोल तोहफा बहुत मददगार साबित हो सकता है जो न केवल प्रदूषण बल्कि कई अन्य बीमारियों से लड़ने में भी सक्षम है।

see more..
image