Thursday, Feb 20 2020 | Time 15:43 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • महिला विश्व कप में विजयी शुरुआत करने उतरेगा भारत
  • मोदी ने मिजोरम, अरुणाचल प्रदेश के स्‍थापना दिवस पर बधाई दी
  • बस हादसे में मारे गये यात्रियों की मौत पर मोदी ने जताया शोक
  • ट्राईसाईक्लाजोल और बूप्रोफेजिन पर रोक के फैसले को वापस ले सरकार: एसीएफआई
  • हर घर में शुद्ध पेेयजल पहुंचाया जायेगा
  • दिव्या ने जीता स्वर्ण, भारत की झोली में छठा पदक
  • जीव संस्कृति का इस्तेमाल कर होगा प्रवासी प्रजातियों का संरक्षण
  • टाईसाईक्लाजोल और बूप्रोफेजिन पर रोक के फैसले को वापस ले सरकार: एसीएफआई
  • ट्रैक्टर पलटने से चार की मौत दस घायल
  • चिन्मयानंद की जमानत पर रिहाई के खिलाफ पीड़िता पहुंची सुप्रीम कोर्ट, सोमवार को सुनवाई
  • पूर्व मंत्री खुर्शीद अहमद और विधायक उदय लाल को विस में श्रद्धांजलि
  • कांग्रेस ने बागी विधायकों को फिर जनादेश प्राप्त करने की दी चुनौती
  • फसल बीमा प्रीमियम कटौती किसान के पेट पर लात : कांग्रेस
  • श्रीलंका नौसेना की गोलीबारी में भारतीय मछुआरा घायल
  • हरियाणा विस का सत्र चार मार्च तक, बजट 28 फरवरी को
राज्य » राजस्थान


राजीव की सोच को जनता के बीच पहुंचाया जायेगा-पायलट

राजीव की सोच को जनता के बीच पहुंचाया जायेगा-पायलट

जयपुर, 20 अगस्त (वार्ता) राजस्थान के प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने कहा है कि भारत रत्न एवं पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की युवाओं तथा देश की उन्नति के प्रति रही सोच एवं दृष्टिकोण को जनता के बीच पहुंचाया जायेगा।

श्री पायलट आज यहां राजवी गांधी की 75वीं जयन्ती के अवसर पर प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में आयोजित विचार गोष्ठी में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रदेश कांग्रेस कमेटी तथा राज्य सरकार ने राजीव गांधी की जयन्ती का कार्यक्रम पूरे वर्ष आयोजित करने का निर्णय लिया है और इन कार्यक्रमों के माध्यम से उनकी सोच लोगों के बीच पहुंचाई जायेगी। उन्होंने कहा कि राजीव गांधी सभी को साथ लेकर चलने वाले विराट व्यक्तित्व के धनी थे तथा अपने विरोधियों एवं आलोचकों के प्रति भी बड़ा दिल रखते थे।

उन्होंने कहा कि भारी बहुमत से प्रधानमंत्री बने राजीव गांधी से जनता को भारी उम्मीदें थी तथा उन्होंने जन आंकाक्षाओं पर खरा उतरते हुए देश को 21वीं सदी में ले जाने की सोच के साथ कार्य किया, उन्होंने युवाओं को 21 वर्ष की बजाए 18 वर्ष में मताधिकार दिया, जहॉं लोग सत्ता के एकीकरण का कार्य करते हैं। उन्होंने सत्ता के विकेन्द्रीकरण के लिए पंचायती राज के माध्यम से आमजन को शासन में भागीदारी दी।

उन्होंने कहा कि राजीव गांधी ने देश में तथा वैश्विक शांति के लिये कई कठोर निर्णय लिये एवं पंजाब, मिजोरम, बोडोलेण्ड आदि अनेक समस्याओं का शांतिपूर्ण हल निकाला तथा जरुरत पड़ने पर श्रीलंका में शांति बहाल करने के लिये शांति सेना भी भेजी।

श्री पायलट ने कहा कि सत्ता की कलम से जनता को राहत मिले, जनता की उम्मीदें पूरी हो यही सरकार का कर्तव्य है, जिसकी प्रेरणा राजीव गांधी से मिलती है। उन्होंने कहा कि राजीव गांधी ने 1985 में कांग्रेस अधिवेशन में कहा था कि यदि संगठन में कोई कमी है तो हमें उसे अन्दर से सुधारना होगा। उन्होंने कहा कि संगठन व्यक्तियों से चलता है तथा यदि कोई कभी कमी रह जाये या गलती हो जाये तो उसे विनम्रता से स्वीकार करने की ताकत भी हमें राजीव गांधी से मिलती है।

जोरा

वार्ता

image