Thursday, Oct 17 2019 | Time 08:36 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • फिलीपींस में भूकंप से मरने वालों की संख्या 5 हुई
  • इराक ने आईएस के कई आतंकवादी हिरासत में लिए
  • अमेरिकी सांसद तुर्की के खिलाफ प्रतिबंध लगाने पर प्रस्ताव पेश करेंगे
  • सऊदी अरब में सड़क हादसे में 35 की मौत
  • ईयू द्वारा अमेरिकी कंपनियों पर डिजिटल टैक्स से ट्रंप नाखुश
  • फिलीपींस में भूकंप से एक की मौत,कई घायल
  • भाजपा ने देश को कांग्रेस के चंगुल से बचाया : स्मृति ईरानी
  • सीरिया में सैन्य गठबंधन ने अपने सैन्य शिविर को नष्ट किया
राज्य » उत्तर प्रदेश


रायबरेली में शराब की दुकानों पर छापा

लखनऊ, 17 जून (वार्ता) उत्तर प्रदेश में अवैध रुप से शराब की बिक्री करने वालों पर प्रभावी कार्रवाई के क्रम में रायबरेली में कई स्थानों पर छापे मारे और नकली शराब के संम्बध में सामग्री बरामद की गई।
सरकारी प्रवक्ता ने यहां यह जानकारी देते हुए उत्तर प्रदेश में नकली एवं अवैध शराब की बिक्री पर प्रभावी कार्रवाई करते हुए करने के दिए गए निर्देशों के क्रम में रविवार को रायबरेली जिले में कई स्थानों पर छापे मारे गए। उन्होंने बताया कि रायबरेली जिले के सूरजलाल,ब्रजेश कुमार, राहुल कुमार, सूर्यभान सिंह, रत्नेश मिश्रा, रामतीरथ यादव तथा धर्मेन्द्र कुमार के यहां छापेमारी की गई । इस दौरान नकली शराब के सम्बन्ध में सामग्री बरामद की गई।
उन्होंने बताया कि जिलाधिकारी ने प्राप्त सूचना के अनुसार श्रीमती रितिका जायसवाल की विदेशी मदिरा की लाइसेंसी दुकान अचलगंज को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। इस दुकान का औचक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान मौके पर विक्रेता रोहित जायसवाल उपस्थित थे। दुकान के मूल अनुज्ञापन मांगे जाने पर अस्थायी अनुज्ञापन प्रस्तुत किया गया।
प्रवक्ता ने बताया कि दुकान पर रखे विदेशी मदिरा के विभिन्न ब्राण्ड की बोतलों का सामान्य परीक्षण एवं उस पर लगे क्यूआर कोड का भी निरीक्षण किया गया। दुकान की रैक पर रखे विदेशी मदिरा ब्राण्ड 375 एम0एल0 के छह अद्धों पर लगे क्यूआर कोड को स्कैन करने पर मात्र एक अद्धे पर क्यूआर कोड का मिलान हो पाया तथा शेष पांच अद्धों पर क्यूआर कोड का स्कैन नहीं हो पाया।
उन्होंने बताया कि इनसे सम्बन्धित अभिलेख मांगे जाने पर विक्रेता द्वारा कोई अभिलेख प्रस्तुत नहीं किया गया और न ही इस सम्बन्ध में कोई सन्तोषजनक उत्तर दिया गया। इससे विदेशी मदिरा की दुकान पर नकली एवं अवैध शराब की बिक्री किया जाना प्रतीत होता है, जो कि एक अपराध है। इस क्रम में दुकान के अनुज्ञापन को निलम्बित करते हुए कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।
गौरतलब है कि पिछले दिनों बाराबंकी जिले में सरकारी ठेके की शराब पीने से कई लोगों की मृत्यु हो गई थी। उसके बाद राज्य सरकार ने अवैध रुप से शराब की बिक्री और उसके कारोबार में लगे लोगों पर कार्रवाई करने के निर्देश दिए थे।
त्यागी
वार्ता
image