Sunday, Sep 23 2018 | Time 04:17 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • नन से दुष्कर्म के आरोपी बिशप की जमानत याचिका खारिज
  • सैन्य परेड पर हमले में अमेरिकी सहयोगियों का हाथ : खोमैनी
  • अमेरिकी सेना का 18 आतंकवादियों को मारने का दावा
विशेष Share

रेलवे भर्ती बोर्ड परीक्षा की कैसे करें तैयारी

रेलवे भर्ती बोर्ड परीक्षा की कैसे करें तैयारी

(अशोक सिंह)

नयी दिल्ली, 29 मार्च (वार्ता) देश में सरकारी नौकरी पाने की तमन्ना रखने वाले युवाओं में आज भी रेलवे की जॉब्स का आकर्षण बरकरार है। विशेषतौर पर ऐसी स्थितियों में ,जब सरकारी नौकरियां समाप्त होती जा रही हैं और सरकार द्वारा लम्बे समय से खाली पड़े ज्यादातर पदों को या तो समाप्त घोषित कर दिया गया है अथवा उन्हें नहीं भरा जा रहा है ,रेलवे की जॉब्स पाने के महत्त्व को आसानी से समझा जा सकता है।

देश के विभिन्न हिस्सों में स्थित रेलवे भर्ती मंडलों द्वारा समय-समय पर रेलवे के खाली पदों को भरने से सम्बंधित विज्ञापन प्रकाशित किये जाते हैं। इनके बारे में रोज़गार समाचार में और रेलवे की वेबसाइट पर जानकारी प्रदान की जाती है। प्रायः ये पद निचले स्तर से लेकर राजपत्रित अधिकारी पद के समकक्ष के होते हैं और दसवीं पास से लेकर इंजीनियरिंग डिग्रीधारक पदों के अनुसार आवेदन कर सकते हैं।

रेलवे में रिक्तियों को भरने के लिए चयन परीक्षा का आयोजन अखिल भारतीय स्तर पर किया जाता है। यहां ऐसी परीक्षाओं के स्वरूप और इनकी बेहतर तैयारी की जानकारी दी जा रही है ताकि प्रतियोगी इनमें अच्छा प्रदर्शन कर सकें। इन परीक्षाओं में मोटे तौर पर चार विषयों पर प्रश्न पत्र केन्द्रित होते हैं, जनरल अवेयरनेस (सामान्य जागरूकता), अर्थमेटिक एबिलिटी (अंकगणित ज्ञान), रीजनिंग (तार्किक क्षमता) तथा टेक्नीकल एबिलिटी(तकनीकी दक्षता)।

जनरल अवेयरनेस(सामान्य जागरूकता)- रेलवे भर्ती परीक्षाओं में इस विषय का विशेष महत्त्व है क्योंकि इसमें थोड़ी मेहनत से अच्छे अंक बटोरे जा सकते हैं। इसकी तैयारी के लिए प्रतियोगियों को अपने सामान्य ज्ञान को अधिक मज़बूत बनाने पर पूरा ध्यान देना चाहिए। इसके लिए एक या दो अच्छी सामान्य ज्ञान की पुस्तकों का गंभीरतापूर्वक अध्ययन, रोजाना समाचारपत्र पढने की आदत और ख़बरों के विश्लेषण के लिए पत्रिकाएँ पढ़ना काफी उपयोगी सिद्ध हो सकता है। इंटरनेट पर उपलब्ध ऑनलाइन रेलवे परीक्षा सामग्रियों का भी भरपूर तौर पर इस्तेमाल किया जा सकता है।

अर्थमेटिक एबिलिटी (अंकगणित ज्ञान)- नौवीं और दसवीं कक्षा की गणित की पुस्तकों का अभ्यास करें। उनमें दिए गए विभिन्न कांसेप्ट्स और फार्मूलों को पूरी तरह आत्मसात करना आवश्यक है। दूसरे शब्दों में इन फार्मूलों का गणितीय प्रश्नों को हल करने में कैसे इस्तेमाल किया जाना है, इस बारे में अच्छी जानकारी होनी चाहिए। मुख्य टॉपिक्स में परसेंटेज,रेशियो एंड प्रोपोर्शन, प्रॉफिट एंड लॉस, टाइम एंड डिस्टेंस आदि का खासतौर पर उल्लेख किया जा सकता है। यह मत भूलें कि मैथ्स में प्रैक्टिस ही सफलता की कुंजी होती है। सम्बंधित टॉपिक्स के अधिकाधिक प्रश्नों को हल करने का ज्यादा से ज्यादा अभ्यास करने की आदत डालें।

रीजनिंग(तार्किक क्षमता)- इस तरह के प्रश्नों का अभ्यास करने के लिए रीजनिंग पर आधारित पुस्तक अवश्य खरीदें और पहले विभिन्न कांसेप्ट्स को समझें। इसके लिए दिए गए उदाहरणों को भली प्रकार समझने की कोशिश करें। इसके बाद उसमें दिए गए प्रश्नों को हल करें और इस क्रम में विभिन्न प्रकार की रीजनिंग और उनमें निहित तर्कों को समझने का प्रयास भी करें। इस तरह तैयारी करने पर परीक्षा के समय किसी भी तरह का प्रश्न आने पर परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा।

टेक्नीकल एबिलिटी(तकनीकी दक्षता)-इस टेस्ट के अंतर्गत प्रतियोगी द्वारा जिस ट्रेड या हुनर के अंतर्गत रिक्त पद पर भर्ती के लिए आवेदन किया गया है उससे सम्बंधित तकनीकी दक्षता के ज्ञान का मूल्यांकन किया जाता है। इसमें टेक्नीकल प्रश्न ही पूछे जाते हैं। इसलिए परीक्षा की तैयारी के दौरान अपने तकनीकी ट्रेड की पुस्तकें अवश्य पढ़कर जाएँ। सैद्धांतिक ही नहीं बल्कि व्यावहारिक पक्ष से जुडी तकनीकी जानकारी भी होनी जरुरी है। विशेषकर संबंधित ट्रेड के बारे में नई तकनीकी प्रगति से अवगत होना आवश्यक है।

ऐसी परीक्षाओं में बड़ी संख्या में युवा शामिल होते हैं जो अमूमन एक परीक्षा पर केन्द्रित तैयारी नहीं करते हुए कई अन्य परीक्षाओं को भी एक साथ साधने की उनकी इच्छा होती है। यह बात अच्छी तरह समझ लेनी चाहिए कि प्रत्येक परीक्षा (बैंकिंग,एस एस सी,रेलवे आदि) का अपना विशिष्ट स्वरूप होता है। इसलिए ध्यान रखें कि परीक्षा के अनुसार फोकस होकर तैयारी करने से सफल होने के अवसर बढ़ सकते हैं। इंटरनेट से इन परीक्षाओं के पुराने टेस्ट पेपर्स लेकर जितना अभ्यास करेंगे उतना ही मनोबल और आत्मविश्वास बढेगा। परीक्षा की तैयारी के दौरान नियमित प्रैक्टिस करते रहना चाहिए, बीच-बीच में अभ्यास छोड़ना सही रणनीति नहीं कही जा सकती है।

हमेशा यह याद रखें कि ऐसी परीक्षाओं में समय प्रबंधन का विशेष महत्त्व होता है। सैम्पल पेपर्स को निर्धारित समय सीमा में रहकर सॉल्व करने का तरीका बहुत फायदेमंद साबित होगा।

जय आजाद

वार्ता

More News
मोबाइल ऐप डेवलपर की बढ़ती मांग

मोबाइल ऐप डेवलपर की बढ़ती मांग

26 Apr 2018 | 11:01 AM

नयी दिल्ली, 26 अप्रैल (वार्ता) मोबाइल के दिन प्रतिदिन बढ़ते इस्तेमाल से अब शायद ही कोई ऐसा कार्य क्षेत्र होगा जिसके लिए मोबाइल ऐप नहीं बनाया गया हो। देश-विदेश में हज़ारों एक्सपर्ट्स प्रतिदिन किसी न किसी सेवा अथवा प्रोडक्ट के लिए ऐप का विकास कर रहे हैं। विश्वभर में अरबों लोगों द्वारा मोबाइल का इस्तेमाल किया जा रहा है जिसकी वजह से विभिन्न कंपनियों द्वारा ऐप्स के माध्यम से उपभोक्ताओं और सेवा उपयोगकर्ताओं तक पहुंचना आसान हो गया है।

 Sharesee more..
सिन्ट्रोनेला की खेती से कम लागत में अच्छा मुनाफा

सिन्ट्रोनेला की खेती से कम लागत में अच्छा मुनाफा

18 Apr 2018 | 1:06 PM

नयी दिल्ली 18 अप्रैल (वार्ता) सौंदर्य प्रसाधनों , एंटी सेप्टिक क्रीम तथा सुगंधित रसायनों के निर्माण में काम आने वाली सिन्ट्रोनेला की खेती से कम लागत में अच्छा मुनाफा कमाया जा सकता है जिसे देखते हुये देश में इसकी खेती व्यावसायिक पैमाने पर की जाने लगी है ।

 Sharesee more..
रोगियों ही नहीं किसानों के लिये भी फायदेमंद है अनार

रोगियों ही नहीं किसानों के लिये भी फायदेमंद है अनार

04 Apr 2018 | 12:56 PM

नयी दिल्ली 04 अप्रैल (वार्ता) अपने लाल रंग के कारण देखने में आकर्षक और कई पाेषक तत्व से भरपूर अनार न केवल रोगों से लड़ने में सहायक है बल्कि इसकी खेती करने वाले किसानों के लिये भी यह बहुत फायदेमंद है।

 Sharesee more..
रेलवे भर्ती बोर्ड परीक्षा की कैसे करें तैयारी

रेलवे भर्ती बोर्ड परीक्षा की कैसे करें तैयारी

29 Mar 2018 | 10:59 AM

नयी दिल्ली, 29 मार्च (वार्ता) देश में सरकारी नौकरी पाने की तमन्ना रखने वाले युवाओं में आज भी रेलवे की जॉब्स का आकर्षण बरकरार है। विशेषतौर पर ऐसी स्थितियों में ,जब सरकारी नौकरियां समाप्त होती जा रही हैं और सरकार द्वारा लम्बे समय से खाली पड़े ज्यादातर पदों को या तो समाप्त घोषित कर दिया गया है अथवा उन्हें नहीं भरा जा रहा है ,रेलवे की जॉब्स पाने के महत्त्व को आसानी से समझा जा सकता है।

 Sharesee more..
कृषि में रोजगार की अपार संभावनायें लेकिन युवा बेरुख

कृषि में रोजगार की अपार संभावनायें लेकिन युवा बेरुख

19 Mar 2018 | 6:32 PM

बेंगलुरु 19 मार्च (वार्ता) आर्गेनिक खेती और हेल्दी फूडिंग के बढ़ते प्रचलन के कारण देश के कृषि क्षेत्र में रोजगार की संभावनायें बढ़ी हैं लेकिन युवाओं की इसमें दिलचस्पी काफी घट गयी है।

 Sharesee more..
image