Friday, Apr 10 2020 | Time 12:23 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • भारत ने ब्राजील-इजरायल को दिया कोरोना से निपटने में मदद का भरोसा
  • गुड फ्राइडे पर बंद रहा शेयर बाजार
  • मध्यप्रदेश में 429 लोगों को कोरोना, 33 की मौत
  • कोरोना के कारण महाराष्ट्र में सर्वाधिक 97 की मौत, 6412 संक्रमित
  • न्यूजीलैंड में कोरोना से दूसरी मौत
  • अफगानिस्तान में आतंकवादियों ने की पांच बैंककर्मियों की हत्या
  • बोकारों में मिला एक और कोरोना पॉजिटिव, झारखंड में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 14
  • कोरोना के खिलाफ बेहतर काम करने वाले पुलिसकर्मी होंगे सम्मानित
  • न्यूजीलैंड में कोरोना से दूसरी मौत
  • फसल खरीद के दौरान किसानों की सुविधा के लिये हैल्पलाईन
  • सीवान में दो और कोरोना पॉजिटिव, बिहार में संक्रमितों की संख्या हुई 60
  • मोदी और केजरीवाल ने गुड फ्राइडे पर किया यीशु को याद
  • कोरोना पीड़ितों और नियंत्रण में लगे मैडीकल कर्मियों को मिलेगा दुगुना वेतन
  • असम में कोरोना से पहली मौत
  • महाराष्ट्र की कई जेलों में संपूर्ण लॉकडाउन
बिजनेस


रिलायंस जियो का सितंबर-दिसंबर-19 में शुद्ध लाभ 62.5 प्रतिशत बढ़कर 1350 करोड़ रुपए

नयी दिल्ली, 17 जनवरी (वार्ता) मुकेश अंबानी की रिलायंस जियो अब समूह के लिए दुधारु गाय साबित हो रही है। करीब सवा तीन साल पहले देश के दूरसंचार क्षेत्र में उतरी जियो ने सितंबर-दिसंबर ..19 की तिमाही में शुद्ध लाभ में 62.5 प्रतिशत की शानदार वृद्धि हासिल करते हुए 1350 करोड़ रुपए कमाये हैं। पिछले साल यह 831 करोड़ रुपए था।
रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के शुक्रवार को घोषित नतीजों में बताया गया है की कंपनी का उपभोक्ता आधार पिछले साल की इसी अवधि के मुकाबले 32.1 प्रतिशत बढ़कर 31 दिसंबर 2019 को 37 करोड़ ग्राहकों पर पहुंच गया। कंपनी ने पिछले एक साल में 13 करोड़ 57 लाख ग्राहक अपने साथ जोड़े हैं। आलोच्य तिमाही में जियो के साथ एक करोड़ 48 लाख नए ग्राहक जुड़े।
जियो की परिचालन आय 28.3 प्रतिशत बढ़कर 13968 करोड़ रुपए और राजस्व 36.2 प्रतिशत बढ़कर 17555 करोड़ रुपए हो गया । कुल मुनाफा 38.2 प्रतिशत बढ़ोतरी से 5601 करोड रुपए हो गया।
तिमाही के दौरान प्रति सबस्क्राइबर प्रतिमाह औसत आय 128.4 रुपए रही। यह पिछली तिमाही में 127.5 रुपए था। आईयूसी शुल्क लागू होने के दो माह के भीतर जियो एक्सेस शुल्क का शुद्ध प्राप्तकर्ता बन गया है। तिमाही के दौरान कुल वायरलेस डाटा ट्रैफिक 1208 करोड़ जीबी रहा जो पिछले साल से 39.9 प्रतिशत अधिक है। तिमाही के दौरान कुल वायस ट्रैफिक 82640 करोड़ मिनट रहा। यह पिछले साल से 30.3 प्रतिशत अधिक है।
मिश्रा.श्रवण
वार्ता
image