Sunday, Sep 27 2020 | Time 09:34 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • पूर्व रक्षा मंत्री जसवंत सिंह का निधन
  • पाकिस्तान में वैन में आग लगने से 13 की मौत, पांच घायल
  • मराठवाड़ा में कोरोना के 1441 नये मामले, 27 की मौत
  • पाकिस्तान: वैन में आग लगने से 13 की मौत
  • उमा भारती कोरोना संक्रमित
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 28 सितंबर)
  • चीन: कार्बन मोनोऑक्साइड की मात्रा बढ़ने से कोयला खदान में 17 लोग फंसे
  • ब्राजील के राष्ट्रपति बोलसोनारो का ऑपरेशन सफल, मिली अस्पताल से छुट्टी
  • ब्रिटेन में कोरोना के 6042 नए मामले साम
  • लेबनान में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में 13 आतंकी ढेर
  • डोनाल्ड ट्रम्प ने कोनी बैरेट को सुप्रीम कोर्ट के नए जज के तौर पर नामित किया
  • पश्चिम बंगाल: एनआईए ने अल-कायदा के संदिग्ध आतंकी को गिरफ्तार किया
  • पूरे विश्व में कोरोना से मरने वालों की संख्या 990,000 के पार
  • यूएई में कोरोना के 1078 नए मामले, कुल संक्रमित 90,618
  • सिक्किम विधानसभा अध्यक्ष एलबी दास कोरोना संक्रमित
बिजनेस


लद्दाख में बुनियादी ढांचा परियोजनाओं के विकास के लिए समझौता

नयी दिल्ली 17 जनवरी (वार्ता) नवगठित केन्‍द्र शासित प्रदेश लद्दाख में प्रमुख बुनियादी ढांचा क्षेत्रों के विकास को बढ़ावा देने के लिए एक महत्‍वपूर्ण पहल के रूप में नीति आयोग ने शुक्रवार को इस केन्‍द्र शासित प्रदेश के साथ एक समझौता पर हस्‍ताक्षर किये।
इस समझौता के तहत नीति आयोग अपनी प्रमुख पहल ‘बुनियादी ढांचा परियोजनाओं के लिए राज्‍यों को विकास सहायता सेवाएं’ के माध्‍यम से इस केन्‍द्र शासित प्रदेश के प्रशासन की मदद करेगा। यह समझौता आयोग के सीईओ अमिताभ कांत और संयुक्‍त सचिव एम.सी. जौहरी की उपस्थिति में हुआ। इसपर नीति आयोग के वरिष्‍ठ सलाहकार डॉ. योगेश सूरी तथा लद्दाख के उपराज्‍यपाल के सलाहकार उमंग नरूला ने हस्‍ताक्षर किये।
इस साझेदारी में उच्च प्रभाव वाली प्राथमिकता परियोजनाओं की पहचान करने, परियोजना के कार्यान्वयन में तेजी लाने, संरचनात्मक स्तर मुद्दों का निपटान करने और केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख के लिए विकास के विशिष्‍ट मॉडलों का सृजन करने पर जोर दिया जायेगा। नीति आयोग प्राथमिकता प्राप्त बुनियादी ढांचा परियोजनाओं की पहचान करने के लिए एक रणनीति का सृजन करने में केन्‍द्र शासित प्रदेश की मदद करने तथा पहचान की गई परियोजनाओं के लिए समस्‍त लेनदेन प्रबंधन सहायता उपलब्‍ध कराने के लिए प्रतिबद्ध है। केन्‍द्र शासित प्रदेश में विशेष रूप से पर्यटन, सौर ऊर्जा और बुनियादी ढांचे के क्षेत्र में परियोजनाओं की पहचान और विकास के लिए पेशेवरों की एक समर्पित टीम लद्दाख में तैनात होने की उम्मीद है।
शेखर
वार्ता
image