Friday, Jan 24 2020 | Time 02:19 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • कैमरून में हैजा के प्रकोप से तीन लोगों की मौत
  • चीन की यात्रा को लेकर अमेरिका ने जारी किया अलर्ट
  • रावत के ट्वीट के साथ छेड़छाड़ मामले में मुकदमा दर्ज
  • दो सालों में लोकतांत्रिक संस्थान कमजोर हुये:चिदंबरम
बिजनेस


विकास में सुस्ती से शेयर बाजार धड़ाम

मुंबई 08 दिसंबर (वार्ता) चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में आर्थिक विकास के गिरकर छह वर्ष के निचले स्तर पर पहुंचने के साथ ही रिजर्व बैंक द्वारा विकास अनुमान को कम कर 5.0 प्रतिशत करने और उम्मीद के अनुरूप नीतिगत दरों में कटौती नहीं किये जाने के कारण निराशा निवेशकों की मुनाफावसूली से पिछले सप्हा शेयर बाजार गिरावट में रहा ।
बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 348.66 अंक गिरकर 40445.15 अंक पर आ गया। इस दौरान नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 134.55 अंक गिरकर 11921.50 अंक पर रहा। दिग्गज कंपनियों की तुलना में मझौली कंपनियों में बिकवाली का अधिक दबाव दिखा जहां बीएसई का मिडकैप समीक्षाधील अवधि में 417.49 अंक उतरकर 14667.37 अंक पर रा। इस दौरान बीएसई स्मॉलकैप 105.34 अंक उतरकर 13455.23 अंक पर रहा।
विश्लेषकों का कहना कि अगले सप्ताह भी बाजार का दबाव दिख सकता है लेकिन जिस तरह की गिरावट इस सप्ताह देखी गयी है वैसी गिरावट होने की आशंका अब कम है। हालांकि रिजर्व बैंक के चालू वित्त वर्ष में विकास अनुमान को 6.1 प्रतिशत से कम करके 5.0 प्रतिशत करने का दबाव दिख सकता है।
उन्होंने कहा कि सरकार के अब लोगों की व्यय योग्य आय बढ़ाने के लिए कर में कुछ रियायत देने के संकेत मिले हैं लेकिन अब जब आम बजट पेश किये जाने के बहुत कम समय बचा है तत्काल किसी तरह की घोषणा की उम्मीद नहीं की सकती है। आम बजट में हो सकता है सरकार इस दिशा में कोई कदम उठाये और वेतनभाेगियों को पांच लाख रुपये तक की आय को कर मुक्त कर दे।
चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में विकास दर के 4.5 प्रतिशत पर लुढ़कने के मद्देनजर रिजर्व बैंक से नीतिगत दरों विशेषकर रेपो दर में एक चौथाई प्रतिशत की कम से कम कटौती की उम्मीद की जा रही थी लेकिन केन्द्रीय बैंक के आगे महंगाई बढ़ने का हवाला देकर कटौती से बचने का असर भी समीक्षाधीन अवधि में शेयर बाजार में दिखा।
शेखर
जारी. वार्ता
More News
रुपया सात पैसे लुढ़का

रुपया सात पैसे लुढ़का

23 Jan 2020 | 6:30 PM

मुंबई 23 जनवरी (वार्ता) बैंकों की डॉलर लिवाली से अंतरबैंकिंग मुद्रा बाजार में गुरुवार को रुपया सात पैसे टूटकर दो सप्ताह से ज्यादा के निचले स्तर 71.26 रुपये प्रति डॉलर पर आ गया।

see more..
image