Monday, Aug 3 2020 | Time 20:28 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • तमिलनाडु में कोरोना वायरस के 5609 नये मामलों की पुष्टि, 109 और मरीजों की मौत
  • संभल में 23 नये कोरोना संक्रमित मिले,संख्या 1011 पहुंची
  • मेघालय में काेरोना वायरस के 28 नये मामले
  • यूएस और फ्रेंच ओपन के समय क्वारंटीन को लेकर हो सकता है टकराव
  • औरैया में 37 नये कोरोना पॉजिटिव, संख्या हुई 482
  • बिहार विधानसभा में 22777 32 करोड़ का प्रथम अनुपूरक बजट पारित
  • संतकबीरनगर में नहीं थम रहा कोरोना संक्रमण, 92 नये पॉजिटिव मिले
  • बुलंदशहर में 19 नये संक्रमित मिले, 1423 हुई संख्या
  • जहरीली शराब से हुई मौतों के लिये भाजपा ने मांगा कैप्टन अमरिंदर का इस्तीफा
  • ऑनलाइन ठगी करने वाले गिरोह के तीन सदस्य झारखंड से गिरफ्तार
  • पिथौरागढ़ में आपदा में तीन महिलाएं अभी भी लापता
  • सोनीपत में पांच किलो अफीम और 35 किलो चरस समेत तस्कर पकड़ा
  • लाकडाउन उल्लंघन पर डेढ करोड से अधिक जूर्माना वसूला
भारत


सत्ता पक्ष ने ध्यान हटाने के लिए किया लोकसभा में हंगामा: कांग्रेस

सत्ता पक्ष ने ध्यान हटाने के लिए किया लोकसभा में हंगामा: कांग्रेस

नयी दिल्ली, 06 दिसम्बर (वार्ता) कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि बलात्कार की बढ़ती घटनाओं को लेकर सरकार के पास कोई जवाब नहीं है इसलिए भारतीय जनता पार्टी के सदस्यों ने ध्यान हटाने के लिए लोकसभा में हंगामा किया और विपक्ष की बात नहीं सुनी गयी।

कांग्रेस की राज्यसभा सदस्य अमी याज्ञनिक, लोकसभा सदस्य एस ज्योतिमणि तथा डॉ़ रागिनी नायक ने शुक्रवार को संसद भवन में संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में कहा कि सुबह लोकसभा में जब उन्नाव बलात्कार का मामला उठा तो सत्ता पक्ष ने इसे राजनीतिक रूप देने का प्रयास किया। सत्ता पक्ष के लोग बेवजह हंगामा करते रहे और मुद्दे से ध्यान भटकाने के लिए इसे राजनीतिक रंग देने का प्रयास किया गया।

उन्होंने कहा कि महिलाओं के साथ भाजपा शासित राज्यों में ज्यादा अपराध हो रहे हैं। अपराध के आंकड़े मांगे जाते हैं तो दिए नहीं जाते हैं। कई प्रयास करने पर 2017 के आंकड़े मिले हैं जो बहुत चौंकाने वाले हैं। इसमें कहा गया है कि महिलाओं के खिलाफ उस साल में साढे तीन लाख अपराध के मामले दर्ज किए गए। यानी हर दिन औसतन एक हजार अपराध के मामले हो रहे हैं।

भाजपा शासित राज्यों में महिलाओं के खिलाफ सबसे ज्यादा अपराध होने का आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में 2017 में 56011 मामले दर्ज किए गए। इसी तरह से तब के भाजपा शासित राज्य मध्य प्रदेश में महिला अपराध के 25900, राजस्थान में 29700, हरियाणा में 11377 मामले दर्ज हुए। दिल्ली में 2019 में बलात्कार के 1947 मामले दर्ज हुए हैं जबकि हरियाणा में 1300 मामले दर्ज किए गए हैं। बिहार तथा भाजपा शासित अन्य राज्यों के आंकड़े भी दहशत फैलाने वाले हैं।

उन्होंने आरोप लगाया कि मोदी सरकार महिलाओं के बारे में सिर्फ लुभावने नारे देती है जबकि जमीनी हकीकत इसके एकदम उलट है। यहां तक कि निर्भया योजना के तहत महिलाओं को सुरक्षा देने के लिए कदम उठाने के वास्ते 3600 करोड रुपए आवंटित हुए लेकिन सरकार ने सिर्फ 800 करोड रुपए ही खर्च किए। उन्होंने कहा कि सरकार महिलाओं की सुरक्षा के प्रति गंभीर नहीं है इसलिए देश में हो रही बलात्कार की घटनाओं पर प्रधानमंत्री, गृहमंत्री, महिला एवं बाल विकास मंत्री तथा भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्री कुछ नहीं बोलते हैं।

अभिनव जितेन्द्र

वार्ता

More News
निशंक ने छठी से आठवीं कक्षा के छात्रों के लिए एकेडमिक कैलेंडर लांच किया

निशंक ने छठी से आठवीं कक्षा के छात्रों के लिए एकेडमिक कैलेंडर लांच किया

03 Aug 2020 | 7:54 PM

नयी दिल्ली, 03 अगस्त (वार्ता) केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक ने छठी कक्षा से लेकर आठवीं कक्षा के छात्रों के लिए दो महीने का एकेडमिक कैलेंडर लांच किया।

see more..
देश में कोरोना रिकवरी दर 65.77 प्रतिशत

देश में कोरोना रिकवरी दर 65.77 प्रतिशत

03 Aug 2020 | 7:40 PM

नयी दिल्ली 03 अगस्त (वार्ता) देशभर में पिछले 24 घंटे में 40,474 कोरोना संक्रमित व्यक्ति के रोगमुक्त होने से कोरोना रिकवरी दर बढ़कर 65.77 प्रतिशत हो गयी है।

see more..
image