Saturday, Dec 14 2019 | Time 19:21 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • फारुक अब्दुल्ला की हिरासत तीन महीने बढ़ी
  • अच्छागो ने लाँच किया स्मार्ट लिविंग काॅन्सेप्ट
  • युवाओं में लोकप्रिय हो रहा फैशन डिजाइनिंग
  • भाई लोंगोवाल ने सुखबीर बादल को शिअद का अध्यक्ष बनने पर दी बधाई
  • पहले चहेतों को मिलती थी नौकरियां अब योग्यता के आधार पर: बनवारी
  • अग्रवाल ने पीठासीन अधिकारियों के राष्ट्रीय सम्मेलन की तैयारियों का जायजा लिया
  • सुखबीर बादल सर्वसम्मति से अकाली दल के अध्यक्ष चयनित
  • बारिश से आलू की फसल पर झुलसा रोग का खतरा मंडराने लगा
  • तस्नीम मीर और तारा शाह फाइनल में
  • मुनक पुलिस पोस्ट अब बनेगी थाना,मुख्यमंत्री ने दी मंजूरी
  • लोकतांत्रिक तरीके से सीएए का विरोध करें लोग : ममता
  • धरना प्रदर्शन में बालकों काे शामिल करने पर आयोग का पुलिस महानिदेशकों का पत्र
  • हाईकोर्ट ने पेयजल निगम में भ्रष्टाचार के मामले में सभी पक्षकारों से मांगा जवाब
  • सात दिन बाद श्रीनगर हवाई अड्डे पर उड़ानें बहाल
  • नागरिकता (संशोधन) कानून के विरोध में बंगाल धधका,10 बसें आग के हवाले
खेल


सीओए पर भड़के जम्मू कश्मीर के पूर्व क्रिकेटर

सीओए पर भड़के जम्मू कश्मीर के पूर्व क्रिकेटर

जम्मू, 22 जुलाई (वार्ता) जम्मू कश्मीर के पूर्व रणजी क्रिकेटराें ने खिलाड़ियों के हितों को ध्यान में रखते हुये लोढा समिति की सिफारिशों को जल्द से जल्द लागू करने की मांग की है और साथ ही भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) का संचालन कर रही प्रशासकों की समिति (सीओए) की भी आलोचना की है।

जम्मू कश्मीर के क्रिकेटरों के अनुसार मौजूदा बोर्ड में लोढा समिति की सिफारिशों को लागू नहीं किये जाने से खिलाड़ियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

पूर्व खिलाड़ियों ने लिखित पत्र में कहा,“ लोढा समिति की सिफारिशें पूर्व क्रिकेटर सहित सभी स्तर के खिलाड़ियों को मजबूत करने की बात करता है लेकिन मौजूदा जम्मू कश्मीर क्रिकेट संघ अपने व्यक्तिगत फायदों के बारे में सोच रहा है और लोढा समिति की सिफारिशों के बिल्कुल उलट काम कर रहा है।”

पूर्व क्रिकेटरों ने सीओए की आलोचना करते हुये कहा कि समिति राज्य बोर्ड में पारदर्शिता लाने में असफल रहा है और पूर्व खिलाड़ियों के भविष्य को लेकर भी कोई उपयोगी कदम नहीं उठाया गया है। उन्होंने कहा,“लोढा समिति के अनुसार क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) में पूर्व खिलाड़ियों को शामिल किये जाने की सिफारिश की गयी थी ताकि जेकेसीए में पेशेवर क्रिकेटरों की बेहतरीन के लिये काम किया जा सके। लेकिन सीओए ऐसा करने में असमर्थ रहा है।”

उन्होंने आरोप लगाते हुये कहा,“ यह देखा गया है कि बाहरी क्रिकेटरों को बुलाकर उन्हें ऊंचा वेतन दिया जा रहा है जबकि घरेलू चयनकर्ता और कोचों को न तो पूर्ण करार मिलता है और न ही बोर्ड से उन्हें अच्छा वेतन प्राप्त होता है।” पूर्व क्रिकेटरों ने बाहर से कोच और चयनकर्ताओं की नियुक्ति पर रोक लगाने की मांग की है।

गौरतलब है कि इरफान पठान की बोर्ड में नियुक्ति पर भी सवाल उठ रहे हैं जो जम्मू कश्मीर के बाहर के खिलाड़ी हैं। पठान को 2018-19 में जेकेसीए में मेंटर कम खिलाड़ी नियुक्त किया गया था। पठान का प्रदर्शन औसत रहने के बावजूद घरेलू क्रिकेट संघ ने अगले सत्र के लिये भी उनके साथ करार किया है।

पूर्व क्रिकेटरों ने बीसीसीआई से भी लिखित शिकायत की है और सीईओ द्वारा चलाये जा रहे जेकेसीए की कार्यपद्धति की समीक्षा की मांग की है। पूर्व खिलाड़ियों की बैठक में सीनियर क्रिकेटर कंवलजीत सिंह, विद्या भास्कर, अश्वनी गुप्ता, विजय शर्मा, ध्रुव महाजन, राज कुमार, विवेक शर्मा, विक्रांत टागर, समीर खजुरिया, जगतार सिंह, राकेश चोपड़ा और संजय शर्मा सहित कई खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया।

 

More News
जू यिंग और यू फेई के बीच होगा खिताबी मुकाबला

जू यिंग और यू फेई के बीच होगा खिताबी मुकाबला

14 Dec 2019 | 7:03 PM

ग्वांग्झू, 14 दिसम्बर (वार्ता) विश्व की नंबर एक खिलाड़ी ताइपे की ताई जू यिंग और चीन की चेन यू फेई के बीच साल के आखिरी बैडमिंटन टूर्नामेंट वर्ल्ड टूर फाइनल्स का खिताबी मुकाबला खेला जाएगा।

see more..
भारतीय महिला अंडर-17 फुटबॉल टीम स्वीडन से हारी

भारतीय महिला अंडर-17 फुटबॉल टीम स्वीडन से हारी

14 Dec 2019 | 6:48 PM

मुंबई, 14 दिसम्बर (वार्ता) भारतीय महिला फुटबॉल टीम को अंडर-17 फुटबॉल टूर्नामेंट में स्वीडन के हाथों 0-3 से हार से हार का सामना करना पड़ा है।

see more..
image