Sunday, Jul 5 2020 | Time 16:28 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • सिख विरोधी दंगा मामले में सजायाफ्ता पूर्व विधायक की मौत
  • पिता-पुत्र मौत मामले में गिरफ्तार पुलिसकर्मियों को मदुरै जेल में भेजा गया
  • ऑस्ट्रेलिया के वित्त मंत्री ने राजनीति छोड़ने का किया एलान
  • बायर्न म्यूनिख ने 20वीं बार जीता जर्मन कप
  • बाराबंकी में सात और कोरोना संक्रमित,संख्या बढ़कर 319 पहुंची
  • नाइजीरियाई वायुसेना की कार्रवाई में बोको हरम के कई आतंकवादी ढेर
  • त्रिपुरा में लॉकडाउन से रविवार को जनजीवन ठप
  • इंडोनेशिया में कोरोना संक्रमण के 1607 नये मामले
  • दक्षिण कश्मीर में आईईडी को निष्क्रिय किया गया
  • योगी ने मंदिर में गुरू अवैधनाथ की पूजा की
  • बरोदा उप-चुनाव में भाजपा-जजपा का साझा उम्मीदवार होगा : दुष्यंत चौटाला
  • येदियुरप्पा ने की पूर्णबंदी की निगरानी गृह कार्यालय से
  • पूर्वी चंपारण में जेल में बंद कैदी की इलाज के दौरान मौत
  • कोसी नदी के तेज बहाव में तीन महिलाओं के बहने से मौत
  • टिकटॉक के समर्थन वाली पोस्ट मैंने नहीं लगाई : सोनाली फोगाट
मनोरंजन


सिनेमा धर्म जाति और नस्ल से परे: अमिताभ

पणजी 21 नबम्बर (वार्ता) सदी के महानायक अमिताभ बच्चन ने कहा है कि तेजी से विखंडित होती दुनिया में केवल सिनेमा ही एक ऐसा माध्यम है जो लोगों को आपस मे बांधे रख सकता है क्योंकि सिनेमा भाषा,जाति, धर्म और नस्ल से परे होता है।
दादा साहब फाल्के अवार्ड के लिए चयनित बिग बी ने अपनी फिल्मों के पुनरावलोकन का उद्घाटन करते हुए यह टिप्पणी की। कल से यहां शुरू हुए 50 वां दादा साहब फाल्के अवार्ड में श्री बच्चन की छह फिल्में दिखाई जा रही हैं। पुनरावलोकन का आगाज़ उनकी ‘पा’ फ़िल्म से हुआ।
श्री बच्चन ने दादा साहब फाल्के अवार्ड के लिए सरकार के प्रति धन्यवाद व्यक्त करते हुए कहा कि वह इस प्रतिष्ठित सम्मान को प्राप्त करके कृतज्ञ महसूस कर रहे हैं।उन्होंने कहा कि उन्हें ऐसा लग रहा है कि वह इस सम्मान के वास्तविक हकदार नही हैं फिर भी लोगों के प्यार को देखते हुए इस पुरस्कार ले रहे हैं। उन्होंने सिनेमा को विश्वव्यापी माध्यम बताते हुए कहा,“जब हम एक बन्द हाॅल में अंधेरे में बैठकर सिनेमा देखते हैं तो बगल में बैठे व्यक्ति की जाति नस्ल को भूल जाते हैं। सिनेमा भी भाषाओं के बंधन से परे होता है।”
उन्होंने कहा,“सिनेमा एक ऐसा माध्यम है जो तेजी से विखंडित होती दुनिया को बचाने का काम करता है ओर लोगों को जोड़कर रखता है। हमें शांतिप्रिय दुनिया बनाने के लिये के दूसरे का हाथ थामे आपस मे मिलकर रहना होगा।”उन्होंने कहा कि वह ऐसी फिल्में बनाएंगे जो लोगों को जोड़कर रखें। श्री बच्चन ने फ़िल्म समारोह की तारीफ करते हुए कहा कि यह 50 वां समारोह है। हर साल इसके डेलिगेट्स की संख्या बढ़ती जा रही है।वह इसके सुंदर आयोजन के लिए सरकार को बधाई देते हैं। पुनरावलोकन में उनकी ‘दीवार’, ‘शोले’ ‘पीकू’ ‘बदला’ और ‘ब्लैक’ फिल्में भी दिखाई जाएगी।
अविन्द आशा
वार्ता
More News
श्रद्धा ने नोरा से सीखा बेली डांस

श्रद्धा ने नोरा से सीखा बेली डांस

05 Jul 2020 | 12:59 PM

मुंबई 05 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री श्रद्धा कपूर ने नोरा फतेही से बेली डांस सीखा है।

see more..
अमिताभ ने दिलचस्प अंदाज में लोगों से की मास्क पहनने की अपील

अमिताभ ने दिलचस्प अंदाज में लोगों से की मास्क पहनने की अपील

05 Jul 2020 | 12:54 PM

मुंबई, 05 जुलाई (वार्ता) कोरोना के खिलाफ जारी जंग के बीच बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन ने दिलचस्प अंदाज में लोगों से मास्क पहनने की अपील की है।

see more..
प्रियंका के एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में 20 साल पूरे

प्रियंका के एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में 20 साल पूरे

04 Jul 2020 | 4:50 PM

मुंबई 04 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड के साथ ही हॉलीवुड में कामयाबी का परचम लहरा चुकी प्रियंका चोपड़ा ने एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में 20 साल पूरे कर लिये हैं।

see more..
फिल्म की शूटिंग से पहले योग सीख रही हैं दीपिका पादुकोण

फिल्म की शूटिंग से पहले योग सीख रही हैं दीपिका पादुकोण

04 Jul 2020 | 4:42 PM

मुंबई 04 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड की डिंपल गर्ल दीपिका पादुकोण अपनी नयी फिल्म की शूटिंग के पहले योग सीख रही है।

see more..
गलवान घाटी में शहीद शूरवीरों पर फिल्म बनाएंगे अजय देवगन

गलवान घाटी में शहीद शूरवीरों पर फिल्म बनाएंगे अजय देवगन

04 Jul 2020 | 4:29 PM

मुंबई 04 जुलाई (वार्ता) सिंघम स्टार अजय देवगन गलवान घाटी में भारत और चीनी सैनिकों के बीच लड़ाई में शहीद भारतीय शूरवीरों पर फिल्म बनाने जा रहे हैं।

see more..
image