Thursday, Feb 27 2020 | Time 23:20 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • उपभोक्ताओं का फैसला सुनाने वालों के 38 फीसदी पद रिक्त
  • उत्तराखंड के अल्मोड़ा में तीन चरस तस्कर गिरफ्तार
  • ईमानदारी से टैक्स देना जरूरी : रविशंकर
  • श्रीलंका उत्तर भारत में व्यापार विस्तार करने को इच्छुक
  • श्रीलंका उत्तर भारत में व्यापार विस्तार करने को इच्छुक
  • फूल छाप कांग्रेसी, पार्टी की पीठ में छुरा घोंप रहे हैं - डॉक्टर साधो
  • आप ने ताहिर हुसैन को पार्टी से निकाला
  • विधि खनिज सलाहकार समेत कई लोगों से की सीबीआइ ने पूछताछ
  • आप के पार्षद ताहिर हुसैन पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित
  • चार दिन से लापता अधेड़ का शव कुएं से बरामद
  • हमीरपुर में सेवानिवृत्त आया की हत्या के मामले में तीन को उम्रकैद
  • प्रयोगशाला सहायकों के चयन में धांधली मामले में हाईकोर्ट सख्त
  • मॉरिशस के राष्ट्रपति पृथ्वीराज सिंह रुपन की विश्वनाथ मंदिर में पूजा
  • उप्र के प्रमुख नगरों का तापमान इस प्रकार रहा
  • योगी एवं टंडन ने किया कोनेश्वर महादेव मन्दिर परिसर का लोकार्पण
राज्य » अन्य राज्य


सीबीआई ने राजीव कुमार का पता लगाने के लिए बंगाल सरकार की मांगी मदद

सीबीआई ने राजीव कुमार का पता लगाने के लिए बंगाल सरकार की मांगी मदद

कोलकाता/बारासात, 16 सितंबर (वार्ता) केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने पश्चिम बंगाल सरकार से कोलकाता के पूर्व पुलिस आयुक्त राजीव कुमार का पता लगाने में मदद देने का अनुरोध किया है।

सीबीआई ने राजीव कुमार को सोमवार को अपराह्न दो बजे पूछताछ के लिए उपस्थित होने के लिए कहा था। राजीव कुमार ने अग्रिम जमानत का अनुरोध करते हुए उत्तर 24 परगना की बारासात अदालत का भी दरवाजा खटखटाया था।

सूत्रों ने बताया कि राजीव कुमार के वकील ने शनिवार को बारासात की अदालत में गुहार लगायी थी जिसकी सुनवाई मंगलवार को होने की संभावना है।

सूत्रों ने बताया कि उच्चतम न्यायालय के आदेश पर सीबीआई करोड़ों रुपये के शारदा चिट फंड घोटाला मामले की जांच कर रही है। सीबीआई ने मामले में राजीव कुमार को गिरफ्तारी से सुरक्षा देने वाले आदेश को कलकत्ता उच्च न्यायालय द्वारा वापस लेने के बाद पूछताछ के लिए पूर्व पुलिस अायुक्त को उपस्थित होने के लिए कहा था।

सीबीआई ने राजीव कुमार की गैर-जमानती गिरफ्तारी का आदेश देने का अनुरोध करते हुए आज बारासात अदालत का भी रुख किया। दूसरी तरफ पूर्व पुलिस आयुक्त ने सीबीआई के समन का विरोध किया है और अपनी बीमारी का हवाला देते हुए 25 सितंबर तक राहत देने का अनुरोध किया है।

सीबीआई ने रविवार को राज्य सचिवालय नबान्ना जाकर राजीव कुमार के बारे में जानकारी देने का अनुरोध करते हुए राज्य के पुलिस प्रमुख वीरेंद्र के लिए सीलबंद लिफाफे में बंद दो पत्र छोड़े हैं।

सीबीआई ने राजीव कुमार को गिरफ्तारी से सुरक्षा देने वाले आदेश को कलकत्ता उच्च न्यायालय द्वारा 13 सितंबर को वापस लेने के कुछ घंटों बाद पूर्व पुलिस आयुक्त को उनके 34 पार्क स्ट्रीट स्थित सरकारी निवास पर एक समन नोटिस भेजा था।

प्रियंका.श्रवण

वार्ता

image